Entertainment News

बाहुबली 2 रिव्यू: दर्शकों से जानिए कि उन्हें यह फ़िल्म कैसी लगी!

चिंता के विचार आपकी ख़ुशी को बर्बाद कर सकते हैं। ऐसा न होने दें, क्योंकि ये अच्छी चीज़ों को ख़त्म करने की और समझदारी में निराशा का ज़हरला बी बोने की क्षमता होती है। ख़ुद को हमेशा अच्छे परिणाम पाने के लिए प्रोत्साहित करें और ख़राब परिस्थिति में भी कुछ-न-कुछ अच्छा देखने का गुण विकसित

Entertainment News

फ़िल्म रिव्यू: ‘फॉर इन लंदन’, स्टॉर्म, बेवजह, बोरिंग

इस फिल्म में पहले चाचाजी का ‘फार्ट’ आता है फिर वर्ल्ड ट्रेड सेंटर तबाह हो जाता है। सेंसर बोर्ड के अध्यक्ष माननीय प्रथमज निहलानी जी महत्वपूर्ण मुद्दों पर बनने वाली फिल्मों पर कैंची चला देते हैं। लेकिन ‘इन लंदन’ जैसी फिल्में, जिनमें जगह-जगह सिर्फ ‘फार्ट’ भरी हुई है, आराम से रिलीज हो जाती हैं। अगर

Entertainment News

फिल्म समीक्षा: ‘मॉम’ जो अपने बच्चों के लिए ‘कुछ भी’ कर सकती है!

‘मम’ यानि माँ, मम्मी, आई, अम्मी। अपने बच्चों का खोया सुकून वापस लाने के लिए, बच्चों का प्यार पाने के लिए वो किस हद तक जा सकता है इसकी कोई सीमा नहीं है। श्रीदेवी की 300 वीं फिल्म ‘MOM’ एक क्लासरूम से शुरू होकर बर्फ के मैदान में खत्म होने वाली एक इमोशनल जर्नी है।

Entertainment News

फ़िल्म रिव्यू: ‘डेस्पिकेबल मी 3’ जो इस सीरीज़ की ऑप्टीरी फ़िल्म हो सकती है!

एक हिट फ्रेंचाइज़ी का नाम, 80 के दशक का ज़िक्र, तीन प्यारे बच्चे, यूनिकॉर्न, मिनियन और मुख्य किरदार का डबल रोल। ये सारा फॉर्मूला है एक क्यूट सी एक्शन फ़िल्म बनाने का। इसमें बेसबरी की कोई गुंजाइश नहीं दिखती। यूनिवर्सल पिक्चर्स और इल्यूमिनेशन इंटरटेनमेंट की लोकप्रिय फ्रेंचाइज़ी ‘डेस्पिकेबल मी’ की यह तीसरी फ़िल्म इस सीरीज़

Entertainment News

फ़िल्म रिव्यू: ‘हाफ़ गर्लफ्रेंड’, बोरिंग से थोड़ा ज़्यादा, लॉजिक से काफ़ी कम

एक लड़का और एक लड़की मिलते हैं, फिर बिछड़ते हैं, फिर मिलते हैं, फिर बिछड़ते हैं, फिर मिलते हैं और फिर आप अपने बाल नोचते हैं। । Source link

Entertainment News

फिल्म समीक्षा: ‘हिंदी मीडियम’ से होने का असली दर्द दिखाती है ये कॉमेडी

फ़िल्म: हिंदी मीडियम निर्देशक: साकेत चौधरी कलाकार: इरफ़ान खान, सबा कमर, दीपक डोबरियाल रेटिंग: 4.5 स्टारनिर्देशक साकेत चौधरी की ‘हिंदी मीडियम’ सिर्फ़ ‘एक’ फ़िल्म नहीं है। कई छोटे-छोटे किस्से हैं, राज यानि इरफ़ान खान और मीता बत्रा यानि सबा की ज़िन्दगी के, जो एक कॉमन फ़िल्म से सिले गए हैं। कॉमन थ्रेड में उनकी बेटी

Entertainment News

फिल्म समीक्षा: ‘सरकार 3’, जिसके एक हाथ में माला है और दूसरे हाथ में भाला है

राम गोपाल वर्मा की इस फ़िल्म की असली आग अमिताभ बच्चन ही हैं। । Source link

India

COVID-19 रिलीफ: WhatsApp पर कोरोना हेल्पडेस्क से ऐसे खोजें अपने पास वैक्सीनेशन सेंटर

कोरोनावायरस भारत में: कोरोनावायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच कंपनियों की मदद के लिए हाथ आगे बढ़ा रहे हैं। WhatsApp ने भी बीते साल को विभाजित -19 के खिलाफ लड़ाई में अपना योगदान देने का फैसला किया था। कोरोनावायरस भारत में: कोरोनावायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच कंपनियों की मदद के लिए हाथ

%d bloggers like this: