Trending News

पंजाब में सिद्धू-चन्नी की कलह: प्रत्याशियों की पहली सूची तक जारी नहीं कर पा रही कांग्रेस, आज दिल्ली में हो सकता है फैसला

Manali

पंजाब में प्रत्याशियों के नामों पर मंथन करने के लिए अब तक हुई स्क्रीनिंग कमेटी की बैठकों में लगभग 40 से 50 नामों को अंतिम रूप दे दिया गया है। इसके बाद भी पार्टी द्वारा सूची जारी नहीं की जा सकी है।

पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी और कांग्रेस प्रधान नवजोत सिंह सिद्धू की कलह के कारण एक बार फिर प्रत्याशियों की पहली सूची टल गई है। प्रत्याशियों के नामों पर मंथन के लिए अब तक 6 बार स्क्रीनिंग कमेटी की बैठकें हो चुकी हैं, लेकिन अभी तक इस पर फैसला नहीं हो पाया है। अब गुरुवार को दिल्ली में होने वाली केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक में पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी पहली सूची पर फैसला लेंगी।

link

प्रत्याशियों के नामों पर मंथन करने के लिए अब तक हुई स्क्रीनिंग कमेटी की बैठकों में लगभग 40 से 50 नामों को अंतिम रूप दे दिया गया है। इसके बाद भी पार्टी द्वारा सूची जारी नहीं की जा सकी है। इस बार 5 राज्यों में होने वाले चुनावों में पंजाब ही एकमात्र ऐसा राज्य हैं जहां से कांग्रेस की वापसी की उम्मीद है। कैप्टन अमरिंदर सिंह को कांग्रेस से बाहर करने और सूबे में अनुसूचित जाति के चरणजीत सिंह चन्नी को मुख्यमंत्री बनाने के बाद पार्टी को उम्मीद थी कि प्रदेश प्रधान नवजोत सिंह सिद्धू और मुख्यमंत्री चन्नी की जोड़ी सत्ता वापस दिलाने में अहम भूमिका निभाएगी। इस बीच सीटों को लेकर सिद्धू और चन्नी के बीच मतभेद इतने गहरे हो गए हैं कि उम्मीदवारों की घोषणा तक पार्टी नहीं कर पा रही है। हाल यह है कि स्क्रीनिंग कमेटी की कई बैठकों में नामों पर मंथन के बावजूद केंद्रीय चुनाव समिति से एक की भी मंजूरी नहीं मिल पाई है। सूत्रों का कहना है कि इसके पीछे सिद्धू और चन्नी का अपनी पसंद के ज्यादा से ज्यादा उम्मीदवारों को टिकट दिलाने की मांग है।

https://www.amarujala.com/chandigarh/first-list-of-candidates-of-congress-has-been-postponed-again-due-to-clash-of-cm-charanjit-channi-and-navjot-sidhu?src=story-related-auto

20 सीटों पर नहीं बन पाई सहमति

पंजाब में अभी तक जितने भी नामों पर सहमति बनी है उनमें करीब 20 ऐसी सीटें हैं जिन पर सिद्धू और चन्नी सहमत नहीं हो सके हैं। 117 सीटों वाली विधानसभा के लिए करीब 50 नामों को अंतिम रूप दिया जा चुका है। इनमें कुछ विधायकों और मंत्रियों की सीटों में भी बदलाव संभव है।

1550 उम्मीदवारों ने किया आवेदन

कांग्रेस के टिकट के लिए अब तक कुल 1550 उम्मीदवारों ने आवेदन किया है। इन आए नामों में से पार्टी की ओर से तय की गईं कमेटियों के द्वारा छंटनी के बाद ही योग्य नामों को अंतिम रूप दिया गया है।

24 विधायकों के टिकट पर संकट

24 मौजूदा विधायकों के टिकट रद्द किए जा सकते हैं। पार्टी के हाल ही में हुए एक सर्वे में आधा दर्जन मंत्रियों को दोबारा टिकट नहीं देने की सिफारिश की गई है। कुछ विधायकों और मंत्रियों की सीटों में भी बदलाव की संभावना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Posts