Trending News

पंजाब में PM की सुरक्षा में चूक:SC में चीफ जस्टिस की बेंच आज करेगी सुनवाई, केंद्र और राज्य की कमेटियां भी जांच में जुटी

Other

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पंजाब दौरे में सुरक्षा चूक की आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होगी। सुप्रीम कोर्ट में चीफ जस्टिस एनवी रमना, जस्टिस सूर्यकांत और जस्टिस हिमा कोहली की बेंच यह सुनवाई करेगी। इस मामले में दायर याचिका में PM की सुरक्षा में बरती गई लापरवाही का संज्ञान लेकर कार्रवाई की मांग की गई है।

www.newsreportinglive.com/

याचिका में यह भी कहा गया है कि बठिंडा के जिला एवं सेशन जज के जरिए सारे सबूत इकट्‌ठा करवाकर इसकी जांच करवाई जाए। इसके अलावा केंद्र और राज्य सरकार की टीमें भी इस मामले की जांच में जुट गई हैं।

केंद्र ने बनाई 3 मेंबरी जांच कमेटी

PM की सुरक्षा चूक के मामले में केंद्र सरकार ने भी जांच कमेटी बना दी है। जिसमें इंटेलिजेंस ब्यूरो (IB) के जॉइंट डायरेक्टर बलबीर सिंह, सिक्योरिटी सचिव सुधीर कुमार सक्सेना और स्प्रेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (SPG) के IG एस. सुरेश शामिल हैं।

पंजाब सरकार की कमेटी 3 दिन में देगी रिपोर्ट

PM के दौरे में सुरक्षा चूक को लेकर पंजाब सरकार ने भी कमेटी बनाई है। इस जांच कमेटी में सेवामुक्त जस्टिस मेहताब सिंह गिल और पंजाब के गृह सचिव अनुराग वर्मा शामिल हैं। यह कमेटी 3 दिन में रिपोर्ट देगी।

हाइली सेंसिटिव जोन में 20 मिनट खड़े रहे PM

5 जनवरी को PM नरेंद्र मोदी पंजाब दौरे पर थे। उन्हें फिरोजपुर में रैली को संबोधित करना था। मौसम खराब होने की वजह से हवाई मार्ग से नहीं जा सके, जिसके बाद वे सड़क मार्ग से फिरोजपुर रवाना हुए। रास्ते में प्यारेआणा गांव के पास कुछ प्रदर्शनकारियों ने जाम लगा दिया, जिसके बाद पाकिस्तान बॉर्डर से कुछ दूर हाइली सेंसिटिव जोन में PM को 20 मिनट खड़ा रहना पड़ा। फिर उनका काफिला वापस लौटा। बठिंडा में भिसियाना एयरपोर्ट से PM दिल्ली रवाना हो गए।

पंजाब सरकार नकारती रही, सोनिया ने CM से की बात

इस मामले को पंजाब की CM चरणजीत चन्नी सरकार लगातार सुरक्षा चूक को नकार रही है। उनका कहना है कि रैली में भीड़ नहीं थी तो PM वहां नहीं गए। वहीं, सुरक्षा चूक को लेकर वह केंद्रीय सुरक्षा एजेंसियों पर सवाल उठा रहे हैं। हालांकि, इस मामले में कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने भी CM चन्नी से बात की। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री पूरे देश के हैं, इसलिए जो भी चूक का जिम्मेदार है, उस पर कार्रवाई की जाए।

बार काउंसिल ने जांच कमीशन की मांग की
PM मोदी की सुरक्षा चूक मामले में पंजाब एवं हरियाणा बार काउंसिल ने जांच कमीशन बनाने की मांग की है। इस बारे में हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस को पत्र लिखा गया है। जिसमें चेयरमैन मिंदरदीप यादव ने कहा कि कमीशन के जरिए अग्रिम सुरक्षा संपर्क रिपोर्ट, केंद्र और राज्य के इनपुट्स, राज्य का सुरक्षा ऑडिट, पुलिस रूट मैप, इंटेलिजेंस ब्यूरो क्लीयरेंस सर्टिफिकेट, फेडरल चेकिंग मैकेनिज्म विकल्प के साथ आपातकालीन योजनाओं के बारे में जांच की जानी चाहिए।

मोदी पर पंजाब कांग्रेस हमलावर:सिद्धू बोले- किसान डेढ़ साल बैठे, PM को 15 मिनट में कष्ट हो गया, CM ने कहा- भीड़ नहीं आई तो मेरा क्या कसूर

पंजाब में पीएम नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में चूक का मामला सामने आने के बाद कांग्रेस हमलावर हो गई है। पंजाब कांग्रेस प्रधान नवजोत सिद्धू ने कहा कि किसान डेढ़ साल तक दिल्ली बॉर्डर पर बैठे रहे। किसी ने कुछ नहीं कहा। आपको 15 मिनट रुकना पड़ा तो कष्ट हो गया।

वहीं, CM चरणजीत चन्नी ने कहा कि अगर प्रधानमंत्री की रैली में भीड़ नहीं आई तो उसमें मेरा क्या कसूर है। साफ तौर पर अब कांग्रेस इसे पंजाब और भाजपा की लड़ाई बना रही है ताकि अगले चुनाव में इसे हथियार बनाया जा सके।

रैली को संबोधित करते सीएम चरणजीत चन्नी

https://www.bhaskar.com/local/chandigarh/news/navjot-singh-sidhu-on-pm-narendra-modi-security-breach-in-punjab-129277038.html?ref=inbound_More_News

सिद्धू बोले- पंजाब के लोगों में गुस्सा, PM ड्रामा कर रहे

नवजोत सिद्धू ने कहा कि प्रधानमंत्री दोहरे मापदंड क्यों अपना रहे हैं। पंजाब के लोगों में उनके प्रति गुस्सा है। सिद्धू ने कहा कि पीएम ने किसानों की आय दोगुनी करने की बात कही थी लेकिन उनके पास जो था, उसे भी ले गए। सिद्धू ने कहा कि पीएम आज जो मर्जी ड्रामा कर ले। यह कानून पीएम ने वापस नहीं लिए बल्कि किसानों ने गले पर अंगूठा रखकर वापस करवाए हैं। सिद्धू ने कैप्टन अमरिंदर सिंह पर भी हमला किया कि वह खाली कुर्सी को भाषण दे रहे थे। कैप्टन का भंडा फूट गया है। सिद्धू ने कहा कि पीएम को सुनने सिर्फ 500 लोग आए तो यह कैप्टन और भाजपा का फेलियर है।

PM के पास कोई किसान या पंजाबी नहीं था, जान का खतरा कैसे?

CM चन्नी ने कहा कि जब पीएम को पता चला कि रैली में कोई नहीं आया तो बहाना बना लिया कि मुझे रोक लिया। बाद में पंजाब, पंजाबियत और पंजाब के लोगों को बदनाम किया जा रहा है। सिक्योरिटी को लेकर SPG ने कब्जा ले लिया था। पूरी जिम्मेदारी उनकी थी। उनके पास कोई किसान या पंजाबी नहीं था। किसी ने नारा भी नहीं लगाया। अगर पीएम पर हमला हो गया था तो हिंदुस्तान की खुफिया एजेंसियां क्या कर रही थीं? रैली की असफलता को छिपाने के लिए घटिया राजनीति कर रहे हैं। चन्नी ने कहा कि अगर पीएम को खतरा हुआ तो पंजाब का CM अपनी छाती पर गोली खाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Posts

Other

कंगना रनौत ने जावेद अख्तर द्वारा मानहानि मामले को स्थानांतरित करने की याचिका खारिज करने के अदालत के आदेश को चुनौती दी

ड अभिनेत्री कंगना रनौत ने अदालत के उस आदेश को चुनौती दी, जिसमें जावेद अख्तर के मानहानि मामले को स्थानांतरित करने की याचिका को

Other

अलीगढ़ रेलवे स्टेशन पर बढ़ाई सतर्कता, चलाया चेकिग अभियान

जागरण संवाददाता, अलीगढ़ : गणतंत्र दिवस को लेकर आरपीएफ एवं जीआरपी ने रविवार माकड्रिल के साथ स्टेशन सर्कुलेटिग एरिया में सघन चेकिग अभियान चलाया। दोपहर

Other

डीएलएड प्रशिक्षुओं ने रिजल्ट के लिए चलाया ट्विटर कैंपेन, कहा- शिक्षा विभाग के आदेश को बिहार बोर्ड कर रहा अवहेलना

बिहार के डीएलएड सत्र 2020-22 एवं 2019-21 के क्रमशः प्रथम वर्ष एवं द्वितीय वर्ष के प्रशिक्षुओं ने रविवार को एक बार फिर सोशल मीडिया पर

Other

जय हिंद यूथ फाउंडेशन के द्वारा नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर सभा का आयोजन

 जय हिंद यूथ फाउंडेशन के द्वारा नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर सभा का आयोजन बिथान प्रखंड के उजान पंचायत में किया गया। जिसमें