Trending News

पंजाब कांग्रेस की दूसरी सूची अटकी: चन्नी, सिद्धू और जाखड़ में नहीं बनी सहमति, आलाकमान ने बनाई सब कमेटी

Other

पंजाब की 117 विधानसभा सीटों के लिए कांग्रेस पहले ही 86 उम्मीदवार घोषित कर चुकी है। सूत्रों के अनुसार दूसरी सूची में 6 विधायकों का टिकट काटने की तैयारी की जा रही है। पहली सूची में जगह नहीं मिल पाने से नाराज नेताओं को मनाने के कारण ही कांग्रेस की दूसरी सूची के जारी होने में देरी हो रही है।  

पंजाब विधानसभा चुनाव की तैयारी में जुटी कांग्रेस उम्मीदवारों की दूसरी लिस्ट शनिवार को भी जारी नहीं कर पाई। कांग्रेस ने 31 उम्मीदवारों की सूची जारी करनी थी लेकिन सहमति नहीं बन पाई। अब कांग्रेस आलाकमान ने इसके लिए सब कमेटी गठित की है। इस सब कमेटी में केसी वेणुगोपाल, मुकुल वासनिक, अंबिका सोनी और अजय माकन को सदस्य बनाया गया है। सूत्रों के अनुसार उम्मीदवारों के नाम पर नवजोत सिद्धू, चरणजीत चन्नी और सुनील जाखड़ के बीच सहमति नहीं बन पा पाई। 

पंजाब

इन सीटों पर मचा है घमासान

राज्य की बस्सी पठाना विधानसभा सीट से सीएम चरणजीत चन्नी के भाई डॉ. मनोहर सिंह ने दावा ठोका था। उन्होंने सीनियर मेडिकल अफसर की नौकरी तक छोड़ दी। अब कांग्रेस ने वहां से सिटिंग एमएलए गुरप्रीत जीपी को टिकट दे दिया। अब डॉ. मनोहर निर्दलीय लड़ने का एलान कर चुके हैं।

इसी तरह सुल्तानपुर लोधी विधानसभा सीट पर कांग्रेस सरकार में मंत्री राणा गुरजीत सिंह अपने बेटे के लिए टिकट मांग रहे थे। कांग्रेस ने राणा को कपूरथला से टिकट दे दी और सुल्तानपुर लोधी से सिटिंग एमएलए नवतेज चीमा को टिकट दे दी। अब राणा के बेटे राणा इंद्रप्रताप ने आजाद लड़ने का एलान कर दिया है।

इसके अलावा बटाला विधानसभा सीट से मंत्री तृप्त राजिंदर बाजवा लड़ने के इच्छुक थे, लेकिन कांग्रेस ने उन्हें फतेहगढ़ चूड़ियां से टिकट दी है। बाजवा यहीं से विधायक हैं। अब वह बटाला के लिए भी टिकट मांग रहे हैं। जहां से नवजोत सिद्धू अश्वनी शेखड़ी के हक में डटे हुए हैं। बाजवा का कहना है कि समर्थक कह रहे हैं कि वह बटाला से खुद लड़ें या परिवार के किसी सदस्य को लड़ाएं।

श्री हरगोविंदपुर से विधायक बलविंदर सिंह लड्डी जो हाल ही में कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हो गए थे। उन्हें सीएम चन्नी ने टिकट का आश्वासन देकर पार्टी में वापस बुलाया था, लेकिन लड्डी को भी टिकट नहीं मिला है। अब उनकी निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ने की संभावना है।

इतना ही नहीं कांग्रेस पार्टी ने मोहिंदर सिंह केपी को भी टिकट नहीं दिया है, जो सीएम चन्नी के करीबी रिश्तेदार हैं। वे आदमपुर विधानसभा क्षेत्र से टिकट मांग रहे थे। उनकी जगह पिछले साल दिसंबर में बसपा छोड़कर कांग्रेस में शामिल हुए सुखविंदर सिंह कोटली को टिकट दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Posts

Other

कंगना रनौत ने जावेद अख्तर द्वारा मानहानि मामले को स्थानांतरित करने की याचिका खारिज करने के अदालत के आदेश को चुनौती दी

ड अभिनेत्री कंगना रनौत ने अदालत के उस आदेश को चुनौती दी, जिसमें जावेद अख्तर के मानहानि मामले को स्थानांतरित करने की याचिका को

Other

अलीगढ़ रेलवे स्टेशन पर बढ़ाई सतर्कता, चलाया चेकिग अभियान

जागरण संवाददाता, अलीगढ़ : गणतंत्र दिवस को लेकर आरपीएफ एवं जीआरपी ने रविवार माकड्रिल के साथ स्टेशन सर्कुलेटिग एरिया में सघन चेकिग अभियान चलाया। दोपहर

Other

डीएलएड प्रशिक्षुओं ने रिजल्ट के लिए चलाया ट्विटर कैंपेन, कहा- शिक्षा विभाग के आदेश को बिहार बोर्ड कर रहा अवहेलना

बिहार के डीएलएड सत्र 2020-22 एवं 2019-21 के क्रमशः प्रथम वर्ष एवं द्वितीय वर्ष के प्रशिक्षुओं ने रविवार को एक बार फिर सोशल मीडिया पर

Other

जय हिंद यूथ फाउंडेशन के द्वारा नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर सभा का आयोजन

 जय हिंद यूथ फाउंडेशन के द्वारा नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर सभा का आयोजन बिथान प्रखंड के उजान पंचायत में किया गया। जिसमें