Trending News

राष्ट्रीय युवा दिवस: हॉकी खिलाड़ी वरुण बोले- कड़ी मेहनत कर चुनौतियों से पार पाएं युवा

Himachal Pradesh Chamba

हॉकी टीम के खिलाड़ी वरुण कुमार ने युवाओं को जीवन में खेल गतिविधियों के जरिये लक्ष्य निर्धारित कर परिश्रम करने का संदेश दिया।

हॉकी

हर इंसान के जीवन में नई चुनौतियां सामने आती हैं। इन चुनौतियों को परिजनों के आशीर्वाद, प्रशंसकों के प्रेम और कठिन परिश्रम से ही पार पाया जा सकता है। बंगलूरू में चल रहे राष्ट्रीय कैंप में शामिल हॉकी टीम के खिलाड़ी वरुण कुमार ने अमर उजाला से विचार साझा करते हुए ये बात कही। वरुण कुमार मूलरूप से चंबा जिले के डलहौजी के रहने वाले हैं।

फरवरी माह के दूसरे सप्ताह में दक्षिण अफ्रीका के साथ होने वाली भिड़ंत से पूर्व भारतीय हॉकी टीम का नेशनल कैंप चल रहा है। जहां पर भारतीय टीम के खिलाड़ी अपना पसीना बहा रहे हैं। युवा दिवस के मौके पर वरुण कुमार ने युवाओं को जीवन में खेल गतिविधियों के जरिये लक्ष्य निर्धारित कर परिश्रम करने का संदेश दिया।

उनके पिता ब्रहमानंद ने ट्रक चलाकर अपने परिवार का पालन-पोषण करने के साथ उन्हें इस मुकाम पर पहुंचाया। उनकी माता शकुंतला देवी गृहिणी हैं। उन्हें गर्व है कि उनका जन्म देवभूमि हिमाचल में हुआ है। लेकिन, हॉकी के क्षेत्र में अभी प्रदेश में बहुत कुछ होना शेष है। वह चंबा में होते तो इस मुकाम पर नहीं पहुंच पाते।

www.newsreportinglive.com/

चंबा में दर्दनाक हादसा: 300 मीटर गहरी खाई में गिरी कार, दो की मौत, तीन घायल

कार अनियंत्रित होकर 300 मीटर गहरी खाई में जा गिरी। कार को खाई में गिरता देख ग्रामीण घटनास्थल की ओर भागे और पुलिस को सूचित किया।

चंबा जिले में ब्रंगाल-मंगलेरा सड़क मार्ग पर द्रबला के पास एक कार दुर्घटनाग्रस्त हो गई। हादसे में दो लोगों की मौत हो गई जबकि तीन घायल हैं। बताया जा रहा है कि कार अनियंत्रित होकर 300 मीटर गहरी खाई में जा गिरी। कार को खाई में गिरता देख ग्रामीण घटनास्थल की ओर भागे और पुलिस को सूचित किया।

पुलिस टीम ने मौके पर पहुंच कर ग्रामीणों की मदद से घायलों को अस्पताल पहुंचाया। डीएसपी मयंक चौधरी ने बताया कि हादसे के कारणों की छानबीन की जा रही है।

भरमौर (चंबा)। जनजातीय मंडल भरमौर के तहत भारी बर्फबारी के कारण बंद पड़ी विभिन्न सेवाओं को शुरू करने के लिए युद्धस्तर पर कार्य आरंभ किया गया है। व्यवस्था की बहाली को लेकर एडीएम भरमौर के नेतृत्व में लोक निर्माण और विद्युत बोर्ड के अधिकारी मौके पर जाकर कार्यों को अंजाम दे रहे हैं।
भरमौर-चंबा राष्ट्रीय उच्च मार्ग के तहत भरमौर से दिनका तक मार्ग को हल्के वाहनों की आवाजाही के लिए खोल दिया गया है। इसी तरह दिनका से लूणा मार्ग को खोलने के लिए कार्य प्रगति पर है। इसी तरह खड़ामुख-गरोला संपर्क सड़कों को हल्के वाहनों की आवाजाही के लिए खोल दिया गया है। होली-मच्छेतर संपर्क सड़क पर कार्य प्रगति पर है।


उपमंडल में विद्युत आपूर्ति से संबंधित जानकारी देते हुए कहा कि 33 केवी फीडर करियां और लाहल से व्यवस्था बहाल करने के लिए मरम्मत कार्य जल्द पूरा हो जाएगा। अधिकांश क्षेत्रों में आंशिक तौर पर प्रभावित पेयजल की व्यवस्था को सुचारु कर दिया गया है।

https://www.amarujala.com/shimla/national-youth-day-2022-india-hockey-team-player-varun-tips-to-youth

एनएच समेत 61 सड़कें बंद; 164 ट्रांसफार्मर और 37 पेयजल योजनाएं ठप

चंबा। जिले में मौसम साफ होने के बावजूद लोगों की दुश्वारियां कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। मंगलवार को जिले में दो कच्चे मकान और पांच गोशालाएं ढह गईं। जबकि, चार मकानों को आंशिक रूप से नुकसान हुआ है। मकानों के क्षतिग्रस्त होने से अब प्रभावितों को अपने पड़ोसियों के घरों में शरण लेनी पड़ी है।


मंगलवार को सुबह से ही भरमौर-पठानकोट एनएच सहित 61 सड़कों पर वाहनों की रफ्तार पर ब्रेक लग गई, जिससे अपने घरों का रुख करने वाले लोगों को पैदल आवाजाही करनी पड़ी। जिले में मौसम की मार से अभी भी 164 ट्रांसफार्मर बंद हैं तो वहीं, 37 पेयजल योजनाएं प्रभावित होने से ग्रामीणों को पीने का पानी लाने के लिए मीलों पैदल सफर तय करना पड़ रहा है।


भरमौर-पठानकोट एनएच पर मंगलवार सुबह से ही बग्गा से लेकर खड़ामुख तक भूस्खलन होने का क्रम दोपहर तक जारी रहा। जबकि, दोपहर बाद मैहला पुल के पास एक बार फिर से पहाड़ी दरकी गई। पहाड़ी से गिरे पत्थरों की जद में आने से एक कार के शीशे टूट गए। वहीं, दुर्गेठी में पहाड़ दरकने से यातायात बाधित हुआ। सूचना मिलने पर विभागीय जेसीबी और लेबर ने मौके पर पहुंच कर एनएच को बहाल करने का कार्य आरंभ कर दिया।


खबर लिखे जाने तक एनएच यातायात के लिए बहाल नहीं हो पाया था। मैहला पंचायत के उपप्रधान भुवनेश कटोच सहित नरेश कुमार, प्रताप चंद, मनोज कुमार और सुरेंद्र ने एनएच प्रबंधन पर आरोप लगाया है कि प्रबंधन को कई बार पूरी तरह से पहाड़ी की कटिंग करवाकर यहां पर सीमेंट स्प्रे करने की मांग उठाई गई है लेकिन, प्रबंधन अधिकारी इसे हल्के में ले रहे हैं। कहा कि किसी प्रकार की अप्रिय घटना होने पर प्रबंधन इसके लिए पूर्ण रूप से जिम्मेदार होगा।


भरमौर-पठानकोट एनएच पर मैहला के पास दोपहर दो बजे पहाड़ी दकरने से चंबा से मैहला के लिए कार में जा रहे रोहित की गाड़ी पर पत्थर गिरने से फ्रंट शीशा टूट गया। गनीमत रही कि रोहित पहाड़ी से गिरे पत्थरों से स्वयं को बचाने में कामयाब रहा।


सूरी पंचायत के बघौता निवासी साहणू राम गांव बलदेव की स्लेटपोश गोशाला क्षतिग्रस्त हो गई। साथ ही सूरी निवासी चनालू पुत्र बेहमी की गोशाला को भी नुकसान पहुंचा है।


पिछले दिनों हुई भारी वर्षा और बर्फबारी के कारण दिनेश कुमार पुत्र पृथ्वीराज निवासी गांव देवगाह, ज्ञान चंद पुत्र बेंसू निवासी गांव सूरी और केशव पुत्र चुहडू निवासी गांव देवगाह के कच्चे मकानों को आंशिक तौर पर नुकसान हुआ है।


वहीं, जिले में मूसलाधार बारिश और बर्फबारी से देवगाह निवासी किशोरी लाल पुत्र घिंकू और अटाला निवासी घिन्द्रो पुत्र बजीरू का स्लेटपोश मकान क्षतिग्रस्त ग्रस्त हो गया।


एडीसी अमित मेहरा ने बताया कि जिले में बंद सड़कों और बिजली-पानी की सप्लाई को सुचारु करने में विभागीय कर्मी डटे हुए हैं। कहा कि प्रभावितों को हुए नुकसान का आकलन तैयार किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Posts

Himachal Pradesh Kullu Mandi Shimla

Himachal : ऊपरी शिमला(Upper Shimla), मंडी(Mandi) के ऊंचे इलाके, कुल्लू (Kullu) कटा |

Himachal (Shimla) :

Himachal : ऊपरी शिमला(Upper Shimla) क्षेत्र और मंडी(Mandi) और कुल्लू(Kullu) जिलों के ऊंचे इलाकों से संपर्क टूट गया है, जबकि राज्य के अधिकांश

Himachal Pradesh Solan

Himachal : कसौली(Kasauli), सोलन(Solan), बरोग(Barog), दगशाई में सीजन की पहली बर्फबारी |

Himachal (Solan) :

Himachal : सोलन जिले के कसौली(Kasauli), सोलन(Solan), बरोग(Barog) और डगशाई में शुक्रवार को सीजन की पहली बर्फबारी हुई।

इन हिल स्टेशनों पर

Himachal Pradesh Kangra

Himachal : कांगड़ा( Kangra ) में 100 पूर्व भूस्खलन चेतावनी प्रणालियां होंगी |

Himachal :

Himachal( Kangra ) : कांगड़ा के जिला प्रशासन ने कांगड़ा जिले और उसके आसपास के क्षेत्रों के लिए उपग्रह आधारित सबसिडेंस सिस्टम प्रोफाइल के