Mukesh Ambani Reliance Company Investment Update | Carlyle Group and Silver Lake Stake In Reliance (RIL) and Future Group Acquisition News | कार्लाइल ग्रुप कर सकता है रिलायंस रिटेल में 14 हजार करोड़ रुपए का निवेश, इससे पहले सिल्वर लेक ने किया था 7500 करोड़ का निवेश एलान

Published by Razak Mohammad on

  • Hindi News
  • Business
  • Mukesh Ambani Reliance Company Investment Update | Carlyle Group And Silver Lake Stake In Reliance (RIL) And Future Group Acquisition News

नई दिल्ली25 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

मुकेश अबानी के स्वामित्व वाली कंपनी रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड ने साल 2020 में रिटेल मार्केट में जबरदस्त पैठ बनाई है। वर्तमान में भारत में रिलायंस रिटेल का लगभग 12 हजार स्टोर है।

  • रिपोर्ट्स के मुताबिक कार्लाइल ग्रुप का रिटेल क्षेत्र में यह पहला निवेश हो सकता है।
  • रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड दुनिया की सबसे तेज बढ़ने वाली रिटेल कंपनियों में 56 वें स्थान पर है।

कार्लाइल ग्रुप भारत की रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड (RRVL) में हिस्सेदारी खरीद सकता है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक अमेरिकी कंपनी कार्लाइल रिलायंस रिटेल में करीब 2 बिलियन डॉलर ( 14 हजार करोड़ रुपए) का निवेश कर सकती है। इससे पहले मुकेश अंबानी के स्वामित्व वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज की सब्सिडियरी में पिछले हफ्ते ही सिल्वर लेक ने भी 7500 करोड़ रुपए के निवेश की घोषणा की थी।

रिपोर्ट्स के मुताबिक कार्लाइल ग्रुप का रिटेल क्षेत्र में यह पहला निवेश हो सकता है। भारतीय रिटेल सेक्टर में 2 बिलियन डॉलर का यह निवेश इस सेक्टर का सबसे बड़ा निवेश साबित हो सकता है। अमेरिकी कंपनी भारत में ऑनलाइन और ऑफलाइन रिटेल कंपनियों में निवेश की योजना पर काम कर रही है। इसमें रिलायंस रिटेल वेंसर्स लिमिटेड में निवेश भी शामिल है। रिपोर्ट्स में अनुसार दोनों कंपनियों के बीच निवेश को लेकर बातचीत जारी है। हालांकि फाइनल डील से संबंधित जानकारी आने में अभी समय लग सकता है।

सिल्वर लेक करेगा 7,500 करोड़ का निवेश

एक अन्य अमेरिकी कंपनी सिल्वर लेक पार्टनर्स ने भी पिछले हफ्ते ही रिलायंस रिटेल में निवेश का एलान किया था। सिल्वर लेक द्वारा रिलायंस रिटेल में 1.75 प्रतिशत की हिस्सेदारी के लिए 7500 करोड़ रुपए भुगतान करना होगा। इससे पहले सिल्वर लेक द्वारा रिलायंस जियो प्लेटफॉर्म लिमिटेड में भी निवेश किया जा चुका है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक रिलायंस रिटेल वेंचर्स में केकेआर एंड क.( KKR and Co.), मुबाडाला इन्वेस्टमेंट कंपनी और अबू धाबी इन्वेस्टमेंट अथॉरिटी द्वारा भी करीब 5 बिलियन डॉलर (36.66 हजार करोड़ रुपए) का निवेश किया जा सकता है। मुकेश अंबानी के स्वामित्व वाली कंपनी रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड ने साल 2020 में रिटेल मार्केट में जबरदस्त पैठ बनाई है। वर्तमान में भारत में रिलायंस रिटेल का लगभग 12 हजार स्टोर है।

फ्यूचर ग्रुप का अधिग्रहण

इससे पहले रिलायंस इंडस्ट्रीज की सब्सिडियरी कंपनी रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड (RRVL) ने इसी साल फ्यूचर ग्रुप का अधिग्रहण किया है। यह डील 24,713 करोड़ रुपए में फाइनल हुई थी। अब रिलायंस रिटेल, फ्यूचर ग्रुप के रिटेल एंड होलसेल बिजनेस और लॉजिस्टिक्स एंड वेयरहाउसिंग बिजनेस का अधिग्रहण करने जा रही है। इससे रिलायंस, फ्यूचर ग्रुप के बिग बाजार, ईजीडे और FBB के 1,800 से अधिक स्टोर्स तक पहुंच बनाएगी, जो देश के 420 शहरों में फैले हुए हैं।

रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड का कारोबार

रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड, रिलायंस इंडस्ट्रीज की सब्सिडियरी कंपनी है। यह रिलायंस ग्रुप की सभी रिटेल कंपनियों की होल्डिंग कंपनी है। 31 मार्च, 2020 को खत्म हुए वित्तीय वर्ष में रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड का टर्नओवर 1,62,936 करोड़ रुपए रहा। वहीं इस दौरान कंपनी को 5448 करोड़ रुपए का मुनाफा भी हुआ। ये कंपनी दुनिया की सबसे तेज बढ़ने वाली रिटेल कंपनियों में 56 वें स्थान पर है। वहीं, रिलायंस इंडस्ट्रीज देश की सबसे बड़ी प्राइवेट कंपनी है। इसका सालाना टर्नओवर 6,59,205 करोड़ रुपए है। वहीं कंपनी को 31 मार्च 2020 को खत्म हुए वित्तीय वर्ष में 39,880 करोड़ रुपए का मुनाफा हुआ था।

0

Source link


0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *