Trending News

PM मोदी की सुरक्षा में चूक की जांच शुरू:केंद्रीय जांच टीम फिरोजपुर पहुंची; काफिला रुकने वाली जगह के BSF कैंप पहुंचे अफसर

Other

www.newsreportinglive.com/

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दौरे में चूक की जांच शुरू हो गई है। इसके लिए केंद्र सरकार की 3 मेंबरी टीम पंजाब पहुंच गई है। टीम सबसे पहले उस जगह पर गई है, जहां पीएम मोदी का काफिला रोका गया था। यहां पर पंजाब पुलिस के अफसर भी मौजूद रहे।

दिल्ली से आई इस टीम में इंटेलिजेंस ब्यूरो (IB) के जॉइंट डायरेक्टर बलबीर सिंह, सिक्योरिटी सचिव सुधीर कुमार सक्सेना और स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (SPG) के IG एस. सुरेश शामिल हैं। टीम अब बीएसएफ के फिरोजपुर स्थित कैंप में गई है। पंजाब में हाल ही में बीएसएफ का दायरा 15 से 50 किमी किया गया है। इसे उससे भी जोड़कर देखा जा रहा है।

यह देखा टीम ने

काफिले वाली जगह पर जाकर टीम ने देखा कि पीएम मोदी का काफिला जहां पर रुका था, उसके चारों तरफ क्या था? पीएम मोदी की कार से प्रदर्शनकारी कितनी दूरी पर थे? इस दौरान वहां कितनी पुलिस तैनात थी? आसपास कौन-कौन से गांव हैं? वहां से बॉर्डर कितनी दूर है। इसके बाद टीम फिरोजपुर के SSP के दफ्तर की तरफ जा रही थी, लेकिन अचानक वह बीएसएफ के कैंप में पहुंच गए। उनके साथ पंजाब पुलिस के सीनियर अफसर भी हैं। केंद्र की टीम पुलिस अफसरों से पूछताछ भी करेगी। इसके बाद टीम फिरोजपुर के डिप्टी कमिश्नर से भी मिलेगी।

प्रदर्शनकारियों ने पीएम मोदी का काफिला रोका था। तब पीएम को फ्लाईओवर पर कार में 20 मिनट तक बैठे रहना पड़ा था।

प्रदर्शनकारियों ने पीएम मोदी का काफिला रोका था। तब पीएम को फ्लाईओवर पर कार में 20 मिनट तक बैठे रहना पड़ा था।

पंजाब सरकार भी कर रही जांच

केंद्र के अलावा पंजाब सरकार ने भी जांच के लिए 2 मेंबरी टीम बनाई है। जिसमें सेवामुक्त जस्टिस मेहताब सिंह गिल और राज्य के गृह सचिव अनुराग वर्मा को शामिल किया गया है। इस जांच के बाद पहली रिपोर्ट केंद्र को भेजी जा चुकी है। जिसमें कहा गया है कि पंजाब की स्थिति के बारे में केंद्रीय सुरक्षा एजेंसियों को सूचना दे दी गई थी।

चन्नी सरकार की गृह मंत्रालय को पहली रिपोर्ट:रूट क्लियर करवा दिया था, अचानक आए प्रदर्शनकारी; पंजाब पुलिस अफसरों पर कार्रवाई कर सकता है केंद्र

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली में चूक के मामले में पंजाब सरकार ने केंद्रीय गृह मंत्रालय को पहली रिपोर्ट भेज दी है। सूत्रों के मुताबिक इसमें कहा गया है कि सरकार ने देर रात तक रूट क्लियर करवा दिया था। पीएम मोदी के काफिले के दौरान अचानक वहां प्रदर्शनकारी आ गए, जिन्होंने रोड जाम कर दिया। इस मामले में किसने लापरवाही बरती, इसकी जांच के लिए कमेटी बनाई गई है।

https://www.bhaskar.com/local/chandigarh/news/narendra-modi-security-breach-punjab-government-sent-first-report-to-central-home-ministry-129279721.html?ref=inbound_More_News

वहीं सूत्रों के मुताबिक केंद्र सरकार पंजाब पुलिस के अफसरों पर कार्रवाई कर सकती है। उन्हें दिल्ली तलब किया जा सकता है। इसके लिए एसपीजी एक्ट के उस सेक्शन पर विचार किया जा रहा है, जिसमें पीएम की सुरक्षा का जिम्मा राज्य की पुलिस का होता है।

पीएम मोदी का काफिला रोकने के बाद यह हालात बन गए थे

पीएम मोदी का काफिला रोकने के बाद यह हालात बन गए थे

24 घंटे में मांगी गई थी रिपोर्ट

पीएम मोदी की सुरक्षा में चूक के मामले में केंद्रीय गृह मंत्रालय ने पंजाब सरकार से 24 घंटे के भीतर रिपोर्ट मांगी थी। जिसके बाद पंजाब सरकार ने कहा कि देर रात तक पंजाब पुलिस ने सारे रास्ते खाली करवा दिए थे। प्रदर्शनकारी अचानक सामने आ गए थे, जिसका पुलिस को भी अंदाजा नहीं था। हालांकि इसकी जांच करवाई जा रही है।

पंजाब सरकार ने बनाई है 2 मेंबरी कमेटी

पंजाब सरकार ने पीएम मोदी की सुरक्षा चूक मामले में 2 मेंबरी कमेटी बनाई है। जिसमें सेवामुक्त जस्टिस मेहताब सिंह गिल और पंजाब के गृह सचिव अनुराग वर्मा को शामिल किया गया है। सरकार ने कमेटी को 3 दिन में रिपोर्ट देने को कहा है।

पीएम का रास्ता रोकने पर प्रदर्शनकारियों में मतभेद

पीएम नरेंद्र मोदी का रास्ता रोकने पर अब प्रदर्शनकारियों में भी मतभेद नजर आ रहा है। मौके पर मौजूद प्रदर्शनकारी ने दावा किया था कि जैसे ही उन्हें पीएम मोदी के इस रूट से आने का पता चला तो उन्होंने स्पीकर से अनाउंसमेंट करवा भीड़ इकट्‌ठी कर जाम लगा दिया। हालांकि किसान नेताओं का कहना है कि उन्हें पता नहीं था कि पीएम मोदी यहां से आ रहे हैं। पंजाब पुलिस उन्हें भरोसा नहीं दिलवा सकी। वहीं संयुक्त किसान मोर्चा ने भी कहा है कि पीएम का रास्ता रोकने का उनका कोई प्रोग्राम नहीं था।

शाह ने कहा था- जिम्मेदारी फिक्स होगी

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा था कि पीएम मोदी की सुरक्षा में चूक का मामला स्वीकार नहीं किया जा सकता। उन्होंने इस मामले में जवाबदेही तय करने की बात कही थी, जिसके बाद माना जा रहा है कि पंजाब पुलिस के अफसरों पर कार्रवाई की गाज गिर सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Posts

Other

कंगना रनौत ने जावेद अख्तर द्वारा मानहानि मामले को स्थानांतरित करने की याचिका खारिज करने के अदालत के आदेश को चुनौती दी

ड अभिनेत्री कंगना रनौत ने अदालत के उस आदेश को चुनौती दी, जिसमें जावेद अख्तर के मानहानि मामले को स्थानांतरित करने की याचिका को

Other

अलीगढ़ रेलवे स्टेशन पर बढ़ाई सतर्कता, चलाया चेकिग अभियान

जागरण संवाददाता, अलीगढ़ : गणतंत्र दिवस को लेकर आरपीएफ एवं जीआरपी ने रविवार माकड्रिल के साथ स्टेशन सर्कुलेटिग एरिया में सघन चेकिग अभियान चलाया। दोपहर

Other

डीएलएड प्रशिक्षुओं ने रिजल्ट के लिए चलाया ट्विटर कैंपेन, कहा- शिक्षा विभाग के आदेश को बिहार बोर्ड कर रहा अवहेलना

बिहार के डीएलएड सत्र 2020-22 एवं 2019-21 के क्रमशः प्रथम वर्ष एवं द्वितीय वर्ष के प्रशिक्षुओं ने रविवार को एक बार फिर सोशल मीडिया पर

Other

जय हिंद यूथ फाउंडेशन के द्वारा नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर सभा का आयोजन

 जय हिंद यूथ फाउंडेशन के द्वारा नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर सभा का आयोजन बिथान प्रखंड के उजान पंचायत में किया गया। जिसमें