German passport is the most powerful in 2021 | जर्मन नागरिकों को ज्यादा देशों में वीजा फ्री एक्सेस, भारत के पासपोर्ट पर 18 देशों में जा सकते हैं बिना वीजा

Published by Razak Mohammad on

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
  • जर्मन पासपोर्ट होल्डर 99 देशों में बिना वीजा जा सकते है, 35 देशों में वीजा ऑन अराइवल सुविधा
  • ग्लोबल पासपोर्ट पावर रैंकिंग 2021 में पांचवें नंबर पर रहे जापान और साउथ कोरिया, भारत 61वें नंबर पर

कोविड-19 की वजह से दुनिया भर में लगे ट्रैवल बैन के चलते कम से कम तीन महीने लोगों का दूसरे देशों में जाना बंद रहा। इसको नजरअंदाज कर दें तो 2020 में जर्मनी सबसे ज्यादा देशों में वीजा फ्री एक्सेस के मामले में फिर अव्वल रहा। 1 से 77 तक की रैंकिंग वाले पासपोर्ट इंडेक्स के मुताबिक, वीजा फ्री एक्सेस के मामले में उसका पासपोर्ट सबसे मजबूत रहा है। जहां तक भारत की बात है तो ग्लोबल पासपोर्ट पावर रैंक 2021 में वह 61 पायदान पर जस का तस है। पिछले साल के मुकाबले उसके पासपोर्ट की ताकत घटी नहीं है।

जर्मन नागरिकों को 64 देशों में ही पहले वीजा लेना होता है

आर्टन कैपिटल पासपोर्ट इंडेक्स 2021 के मुताबिक, वीजा फ्री एक्सेस के मामले में जर्मनी के बाद दूसरे नंबर पर स्वीडन, फिनलैंड और स्पेन रहे हैं। टॉप 10 रैंकिंग में एशिया के जापान और साउथ कोरिया पांचवें नंबर पर रहे हैं। जहां तक जर्मनी की बात है तो इसके पासपोर्ट होल्डर 99 देशों में बिना वीजा जा सकते है और 35 देशों में पहुंचने पर वीजा दे दिया जाता है। सिर्फ 64 देशों में जाने के लिए इनको पहले से वीजा लेना होता है।

इंडियन पासपोर्ट पर बिना वीजा जा सकते हैं 18 देश

भारत अपने पासपोर्ट की ताकत के मामले में 61वें पायदान पर भूटान, बेनिन, गैबन, अल्जीरिया और फिलीपींस जैसे देशों के साथ है। इंडियन पासपोर्ट पर 18 देशों में बिना वीजा जाया जा सकता है जबकि 34 देशों में पहुंचने पर वीजा मिल जाता है। भारतीय पासपोर्ट धारकों को 146 देशों में जाने के पहले से वीजा लेना होता है। इस रैंकिंग के हिसाब से जिस देश के नागरिकों को बिना वीजा सबसे कम देशों में जाने की इजाजत है वह है इराक।

अमेरिका 19वें पायदान जबकि चीन 52वें नंबर पर है

अगर सुपर पावर्स की बात करें तो पासपोर्ट पावर रैंकिंग में सुपर पावर अमेरिका 19वें पायदान पर है। यहां के पासपोर्टहोल्डर्स को 62 देशों में बिना वीजा और 41 देशों में वीजा ऑन आइरवल की सुविधा मिली हुई है। लेकिन उनको 95 देशों में जाने के लिए पहले वीजा लेना होता है। रैंकिंग में चीन 52वें नंबर पर है जहां के पासपोर्ट धारकों को 137 देशों में जाने के लिए पहले से वीजा लेना होता है। चाइनीज पासपोर्टहोल्डर्स 25 देशों में वीजा फ्री एक्सेस है जबकि 36 देशों में वीजा ऑन अराइवल फैसिलिटी है।

पड़ोसी मुल्कों में सबसे कमजोर पाकिस्तान का पासपोर्ट

पासपोर्ट की ताकत के मामले में लगे हाथ पड़ोसी मुल्कों, पाकिस्तान, नेपाल, बांग्लादेश और लंका की रैंकिंग को भी जान लेते हैं। पड़ोसियों में सबसे कमजोर पासपोर्ट पाकिस्तान का है जो रैंकिंग में 74वें, नेपाल 72वें, बांग्लादेश 71वें और श्रीलंका 70वें नंबर पर है।

Source link

Categories: Business

0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *