CPI update Retail inflation declined marginally to 6 point 69 pc in August | खुदरा महंगाई की दर अगस्त में 6.69% रही, खाद्य वस्तुओं की कीमतों में 9.05% का आया उछाल

Published by Razak Mohammad on

  • Hindi News
  • Business
  • CPI Update Retail Inflation Declined Marginally To 6 Point 69 Pc In August

नई दिल्ली8 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

पिछले माह सब्जियां 11.41% महंगी हुईं, मांस-मछली की महंगाई दर 16.50%, अंडे की 10.11%, तेल एवं वसा की 12.45%, दाल और दाल से जुड़े उत्पादों की 14.44% और मसाले की 12.34% रही

  • जुलाई में खुदरा महंगाई की दर 6.73% रही थी
  • खुदरा महंगाई से ही तय होती हैं आरबीआई की मुख्य ब्याज दरें

खुदरा बाजार में कीमतें आसमान पर बनी हुई हैं। सोमवार को जारी सरकारी आंकड़ों के मुताबिक अगस्त में कंज्यूमर प्राइस इंडेक्स (सीपीआई) पर आधारित खुदरा महंगाई दर 6.69 फीसदी रही। इस दौरान खाने-पीने की चीजों की कीमत उच्च स्तर पर बनी रहीं।

सरकार ने जुलाई की खुदरा महंगाई दर को संशोधित कर थोड़ा घटा दिया है। इसे पहले बताए गए 6.93 फीसदी से घटाकर 6.73 फीसदी कर दिया गया है। सांख्यिकी एवं कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय के राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय द्वारा जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक अगस्त में खाद्य पदार्थों की खुदरा महंगाई दर 9.05 फीसदी रही। जुलाई में खाद्य पदार्थों की खुदरा महंगाई दर 9.27 फीसदी थी।

सब्जियां 11.41% महंगी हुईं

सरकारी आंकड़ों के मुताबिक सब्जियों की महंगाई दर अगस्त में 11.41 फीसदी रही। इस दौरान मांस-मछली की महंगाई दर 16.50 फीसदी, अंडे की 10.11 फीसदी, तेल एवं वसा की 12.45 फीसदी रही। दाल और दाल से जुड़े उत्पादों की महंगाई दर 14.44 फीसदी और मसाले की 12.34 फीसदी रही।

असम में सबसे ज्यादा महंगाई

देश के विभिन्न राज्यों में सबसे ज्यादा महंगाई असम में दर्ज की गई। पूर्वोत्तर के इस राज्य में अगस्त में 9.52 फीसदी महंगाई रही। इसके बाद पश्चिम बंगाल में 9.44 फीसदी महंगाई रही। तेलंगाना 8.38 फीसदी महंगाई दर के साथ तीसरे स्थान पर रहा। वहीं सबसे कम महंगाई देश की राजधानी दिल्ली में महज 3.58 फीसदी दर्ज की गई।

आरबीआई के सुविधाजनक दायरे से ऊपर बनी हुई है महंगाई

खुदरा महंगाई की दर भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के सुविधाजनक दायरे से ऊपर बनी हुई है। आरबीआई अपनी मौद्रिक नीति और मुख्य ब्याज दर तय करने की प्रक्रिया में खुदरा महंगाई के आंकड़ों को ही ध्यान में रखता है। सरकार आरबीआई को जिम्मेदारी दी है कि वह खुदरा महंगाई दर को न्यूनतम 2 फीसदी से अधिकतम 6 फीसदी के बीच और मोटे तौर पर 4 फीसदी के आसपास बनाए रखेगा।

लगातार 4 महीने तक शून्य से नीचे रहने के बाद थोक महंगाई दर शून्य से ऊपर आई, अगस्त में 0.16% रही

0

Source link


0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *