Trending News

सीएम जयराम करेंगे लोकार्पण: मात्र पांच मिनट में करें धर्मशाला-मैक्लोडगंज रोपवे का सफर

Himachal Pradesh

टली की कंपनी का रोपवे एक ट्रॉली में आठ लोगों को धर्मशाला से मैक्लोडगंज पहुंचाएगा। रोपवे में 18 ट्रॉलियां स्थापित की गई हैं। एक घंटे में करीब 800 लोग सफर का आनंद ले सकते हैं। यह रोपवे देश का पहला आधुनिक तकनीक और सुविधाओं से से लेस है। बिना गियर वाले इस रोपवे का सफर बेहद ही सुरक्षित है।

हिमाचल प्रदेश की पर्यटन नगरी धर्मशाला से दलाईलामा की नगरी मैक्लोडगंज का नौ किलोमीटर का सफर अब पांच मिनट में होगा। सैलानियों को लंबे जाम से छुटकारा मिलेगा। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर बुधवार को करीब 200 करोड़ की लागत से बने धर्मशाला-मैक्लोडगंज रोपवे का उद्घाटन करेंगे।

कोतवाली से मैक्लोडगंज तक रोपवे से एक तरफ के 340 और अप-डाउन करने के लिए एक व्यक्ति को 500 रुपये चुकाने पड़ेंगे।लंबे समय से लटके रोपवे की राह बुधवार को साफ हो जाएगी। मुख्यमंत्री रोपवे का उद्घाटन कर हजारों लोगों को सुविधा देंगे। रोपवे का सफर करने वाले यात्रियों को दोनों टर्मिनल पर खाने-पीने के लिए कैफेटेरिया बनाए गए हैं। पार्किंग की व्यवस्था भी रहेगी।

जानकारी के अनुसार इटली की कंपनी का रोपवे एक ट्रॉली में आठ लोगों को धर्मशाला से मैक्लोडगंज पहुंचाएगा। रोपवे में 18 ट्रॉलियां स्थापित की गई हैं। एक घंटे में करीब 800 लोग सफर का आनंद ले सकते हैं। यह रोपवे देश का पहला आधुनिक तकनीक और सुविधाओं से से लेस है। बिना गियर वाले इस रोपवे का सफर बेहद ही सुरक्षित है।

इससे समय के साथ बिजली की भी बचत होगी। रोपवे में सफर करने वाले लोग हर तरफ से धर्मशाला शहर की खूबसूरती को निहार सकेंगे। बता दें कि धर्मशाला रोपवे का कार्य वर्ष 2017 में शुरू हुआ था और दिसंबर 2019 तक इसका कार्य पूरा होना प्रस्तावित था, मगर कोरोना महामारी और कई अन्य कारणों के चलते अब इसका कार्य करीब दो साल बाद पूरा हुआ। जिला पर्यटन अधिकारी पृथी पाल सिंह ने बताया विभाग और टाटा कंपनी की ओर से रोपवे के सफर का किराया तय किया गया है। 

1751 मीटर है लंबाई, 498 पेड़ कटे
रोपवे की लंबाई 1751.60 मीटर है। रोपवे में कुल 10 टॉवर हैं। रोपवे के निर्माण के लिए 998 पेड़ों में 498 को काटा गया है, जबकि अन्य 500 पेड़ों को सुरक्षित बचा लिया गया है।

रोपवे में होंगी 18 ट्रॉलियां
धर्मशाला-मैक्लोडगंज रोपवे में 18 ट्रॉलियां स्थापित की गई हैं। वहीं हर ट्रॉली में एक समय में आठ लोग सफर कर सकेंगे। एक घंटे में करीब 800 लोग इस  रोपवे में सफर कर सकेंगे। लंबे जाम में फंसने की बजाय अब पर्यटक पांच मिनट में धर्मशाला से मैक्लोडगंज पहुंच जाएंगे। रोपवे की कुल लंबाई 1751.60 मीटर है, जोकि पहले 2355 मीटर प्रस्तावित थी। अब पर्यटकों को धर्मशाला से मैक्लोडगंज जाने के लिए 1.7 किलोमीटर के सफर की सुविधा मिल जाएगी। इस रोपवे में कुल 10 टावर हैं, जोकी ट्राली और रस्सी को संभाल के रखते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Posts

Himachal Pradesh Kullu Mandi Shimla

Himachal : ऊपरी शिमला(Upper Shimla), मंडी(Mandi) के ऊंचे इलाके, कुल्लू (Kullu) कटा |

Himachal (Shimla) :

Himachal : ऊपरी शिमला(Upper Shimla) क्षेत्र और मंडी(Mandi) और कुल्लू(Kullu) जिलों के ऊंचे इलाकों से संपर्क टूट गया है, जबकि राज्य के अधिकांश

Himachal Pradesh Solan

Himachal : कसौली(Kasauli), सोलन(Solan), बरोग(Barog), दगशाई में सीजन की पहली बर्फबारी |

Himachal (Solan) :

Himachal : सोलन जिले के कसौली(Kasauli), सोलन(Solan), बरोग(Barog) और डगशाई में शुक्रवार को सीजन की पहली बर्फबारी हुई।

इन हिल स्टेशनों पर

Himachal Pradesh Kangra

Himachal : कांगड़ा( Kangra ) में 100 पूर्व भूस्खलन चेतावनी प्रणालियां होंगी |

Himachal :

Himachal( Kangra ) : कांगड़ा के जिला प्रशासन ने कांगड़ा जिले और उसके आसपास के क्षेत्रों के लिए उपग्रह आधारित सबसिडेंस सिस्टम प्रोफाइल के