48 घंटे में ऑक्सीजन सिलिंडर और रेगुलेटर स्टॉक का ले ब्योरा

Shimla News


ख़बर सुनना

भगेड़ (बिलासपुर)। देश में ऑक्सीजन की किल्लत और जमाखोरी की लगातार घटनाएं बढ़ रही हैं। जिले में ऑक्सीजन सिलिंडर और रेगुलेटर आदि की कमी न हो इसके लिए प्रशासन ने कमर कस ली है। जिला दंडाधिकारी बिलासपुर रोहित जमवाल ने रविवार को आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 34 के तहत आदेश जारी किए हैं।
उपायुक्त ने व्यवसायों, निजी अस्पतालों, औद्योगिक और व्यावसायिक इकाइयों और लोगों को ऑक्सीजन सिलिंडर और रेगुलेटर के पूर्ण स्टॉक का ब्योरा 48 घंटे के अंदर घोषित करने के आदेश जारी किए हैं। यदि 48 घंटे के बाद किसी के पास अघोषित स्टॉक मिलता है तो उसे क्लिक कर लिया जाएगा। जिले के सभी एसडीएम, नागरिक आपूर्ति निरीक्षक, कार्यकारी अधिकारी, औद्योगिक और पुलिस अधिकारियों को तत्काल प्रभाव से टीमें गठित करने के आदेश जारी किए गए हैं। टीमों को व्यक्तिगत रूप से गोदाम, स्टोर, औद्योगिक इकाइयों, निजी अस्पतालों का निरीक्षण कर सूची तैयार करने के आदेश भी दिए गए हैं। अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी इसकी सूची बनाएंगे। ऑक्सीजन सिलिंडर और रेगुलेटर जिन्हें दूर किया जाएगा, उन्हें अस्पताल में निर्धारित नियम और शर्तों के अनुसार रखने की नामोंेवारी एसडीएम की जाएगी। संबंधित एसडीएम को अधिकृत किया गया है कि आपातकालीन स्थिति में स्टॉक किए गए ऑक्सीजन सिलिंडर और रेगुलेटर को उसकी उपयोग स्थिति को जाने बगैर कब्जे में ले सकते हैं। ये आदेश तत्काल प्रभाव से आगामी आदेशों तक जिले में लागू होंगे। उल्लंघना करने वालों के खिलाफ आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 और भारतीय दंड संहिता की धारा 188 के तहत कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

भगेड़ (बिलासपुर)। देश में ऑक्सीजन की किल्लत और जमाखोरी की लगातार घटनाएं बढ़ रही हैं। जिले में ऑक्सीजन सिलिंडर और रेगुलेटर आदि की कमी न हो इसके लिए प्रशासन ने कमर कस ली है। जिला दंडाधिकारी बिलासपुर रोहित जमवाल ने रविवार को आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 34 के तहत आदेश जारी किए हैं।

उपायुक्त ने व्यवसायों, निजी अस्पतालों, औद्योगिक और व्यावसायिक इकाइयों और लोगों को ऑक्सीजन सिलिंडर और रेगुलेटर के पूर्ण स्टॉक का ब्योरा 48 घंटे के अंदर घोषित करने के आदेश जारी किए हैं। यदि 48 घंटे के बाद किसी के पास अघोषित स्टॉक मिलता है तो उसे क्लिक कर लिया जाएगा। जिले के सभी एसडीएम, नागरिक आपूर्ति निरीक्षक, कार्यकारी अधिकारी, औद्योगिक और पुलिस अधिकारियों को तत्काल प्रभाव से टीमें गठित करने के आदेश जारी किए गए हैं। टीमों को व्यक्तिगत रूप से गोदाम, स्टोर, औद्योगिक इकाइयों, निजी अस्पतालों का निरीक्षण कर सूची तैयार करने के आदेश भी दिए गए हैं। अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी इसकी सूची बनाएंगे। ऑक्सीजन सिलिंडर और रेगुलेटर जिन्हें दूर किया जाएगा, उन्हें अस्पताल में निर्धारित नियम और शर्तों के अनुसार रखने की नामोंेवारी एसडीएम की जाएगी। संबंधित एसडीएम को अधिकृत किया गया है कि आपातकालीन स्थिति में स्टॉक किए गए ऑक्सीजन सिलिंडर और रेगुलेटर को उसकी उपयोग स्थिति को जाने बगैर कब्जे में ले सकते हैं। ये आदेश तत्काल प्रभाव से आगामी आदेशों तक जिले में लागू होंगे। उल्लंघना करने वालों के खिलाफ आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 और भारतीय दंड संहिता की धारा 188 के तहत कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।





Source link

शिमला न्यूज़ शिमला न्यूज़ टुडे शिमला समाचार शिमला समाचार हिंदी में

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts

Shimla News

हिमाचल में आज से कोरोना कर्फ्यू, बिना पूछे बार-बार पकड़े गए तो आठ दिन की जेल

स्कैंडल प्वाइंट मालरोड शिमला
– फोटो: अमर उजाला

ख़बर सुनना

ख़बर सुनना

हिमाचल प्रदेश में आज सवेरे छह बजे से कोरोना कर्फ्यू लागू हो रहा

Shimla News

हिमाचल में चार और चेकपोस्ट बनाएगी सरकार, खनन माफिया पर शिकंजा कसने की तैयारी है

अमर उजाला नेटवर्क, शिमला

द्वारा प्रकाशित: कृष्ण सिंह
अपडेटेड शुक्र, 07 मई 2021 03:04 AM IST

सार
सरकार ने सुरक्षा कर्मियों से लेस करने के साथ

Shimla News

10 वीं के छात्र पढ़ेंगे ड्राग एब्यूज: सोसाइटी एंड चैलेंज

विपिन चौधरी, अमर उजाला नेटवर्क, धर्मशाला

द्वारा प्रकाशित: अरविंद ठाकुर
अपडेटेड शुक्र, 07 मई 2021 03:03 AM IST

नागरिक (फाइल फोटो)
– फोटो: अमर उजाला

ख़बर सुनना

Shimla News

#LadengeCoronaSe: तंजिन ने आलीशान होटल को बदला को विभाजित कर केंद्र में, प्रशासन नहीं करेगा एक पैसा

अमर उजाला नेटवर्क, केलिंग (लाहौल-स्पीति)

द्वारा प्रकाशित: अरविंद ठाकुर
अपडेटेड शुक्र, 07 मई 2021 03:03 AM IST

सार
कोरोना के खिलाफ जंग में कई लोग खुलकर