हिमाचल: एसडीएम-एएसपी को बोलेरो, एक्सईएन के पास 11 लाख की कार

Published by Razak Mohammad on

अमर उजाला नेटवर्क, हमीरपुर

Updated Wed, 16 Sep 2020 05:00 AM IST

जल शक्ति विभाग में 11 लाख की कार
– फोटो : अमर उजाला

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर


कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹365 & To get 20% off, use code: 20OFF

ख़बर सुनें

जलशक्ति विभाग आजकल महंगी गाडि़यों की खरीद को लेकर सुर्खियों में हैं। मंडी के धर्मपुर डिविजन में 25 लाख रुपये कीमत की महंगी कार खरीदने के साथ ही हमीरपुर जिले में भी जलशक्ति विभाग के अधिकारियों के लिए महंगी गाडि़यां खरीदने को लेकर अब मंत्री का विभाग चर्चा में है। जलशक्ति विभाग मंडल भोरंज में भी विभाग के एक्सईएन के नाम पर करीब 11 लाख रुपये की मोहिंद्रा एक्सयूवी 500 कार खरीदी गई है। कार की शोरूम कीमत 10.78 लाख रुपये दस्तावेजों में दिखाई गई है।

इसके अलावा जीएसटी समेत रजिस्ट्रेशन पर 40 हजार रुपये खर्च किए गए हैं। सरकारी विभाग ने इस 11 लाख रुपये के लग्जरी वाहन पर एचपी-74बी-1200 पसंद का नंबर लेने के लिए 5 हजार रुपये अतिरिक्त खर्च किए हैं। इस लग्जरी वाहन की रजिस्ट्रेशन और लाइसेंसिंग अथारिटी के पास 22 जनवरी 2020 को हुई है। हैरानी की बात है कि हमीरपुर में पांचों उपमंडलों में सेवाएं दे रहे सभी एसडीएम (एचएएस) अधिकारियों के पास छोटे वाहन हैं।

हिमाचल पुलिस सेवाएं (एचपीएस) स्तर के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, उपपुलिस अधीक्षकों के पास भी छोटी गाडि़यां हैं। जिले में अन्य मंडलों में सेवाएं दे रहे जलशक्ति विभाग के पास भी मोहिंद्रा की बोलरो गाडि़यां हैं, लेकिन भोरंज एक्सईएन के नाम पर 11 लाख रुपये कीमत की लग्जरी कार खरीदना समझ से परे है। हालांकि विभाग के अधिकारियों का कहना है कि भोरंज एक्सईएन के नाम पर खरीदी गई कार का प्रयोग हमीरपुर में जलशक्ति विभाग के अधीक्षण अभियंता ही कर रहे हैं। जबकि एक्सईएन भोरंज को पांच माह पूर्व ही मोहिंद्रा बोलरो दी गई है।

भाजपा सरकार में फिजूलखर्ची शर्मनाक : दीपक

प्रदेश कांग्रेस के राज्य प्रवक्ता दीपक शर्मा ने कहा कि महंगी गाडि़यां खरीदना भाजपा सरकार की फिजूलखर्ची को दर्शाता है। जिस तरह से महंगी गाड़ी के साथ ही महंगे दामों पर गाड़ी का नंबर खरीदा गया है, उसकी भी जांच होनी चाहिए और दोषी अधिकारियों पर कार्रवाई की जानी चाहिए। ये दुर्भाग्यपूर्ण और शर्मनाक है।

सुबह से लेकर शाम तक काम करते हैं, वाहन तो चाहिए

हमीरपुर में जलशक्ति विभाग के अधीक्षण अभियंता को मोहिंद्रा की एक्सयूवी कार दी गई है। यह ज्यादा महंगी कार नहीं है। एयर कंडीशन गाड़ियां तो सभी जगह होती हैं। विभाग के अधिकारी फील्ड में सुबह से लेकर शाम तक काम करते हैं तो एयर कंडीशनर गाड़ी तो चाहिए ही। कार को सभी औपचारिकताएं पूरी करने के बाद ही खरीदा गया है। -ई. दिवेश भारद्वाज, मुख्य अभियंता, जलशक्ति विभाग हमीरपुर।

 

जलशक्ति विभाग आजकल महंगी गाडि़यों की खरीद को लेकर सुर्खियों में हैं। मंडी के धर्मपुर डिविजन में 25 लाख रुपये कीमत की महंगी कार खरीदने के साथ ही हमीरपुर जिले में भी जलशक्ति विभाग के अधिकारियों के लिए महंगी गाडि़यां खरीदने को लेकर अब मंत्री का विभाग चर्चा में है। जलशक्ति विभाग मंडल भोरंज में भी विभाग के एक्सईएन के नाम पर करीब 11 लाख रुपये की मोहिंद्रा एक्सयूवी 500 कार खरीदी गई है। कार की शोरूम कीमत 10.78 लाख रुपये दस्तावेजों में दिखाई गई है।

इसके अलावा जीएसटी समेत रजिस्ट्रेशन पर 40 हजार रुपये खर्च किए गए हैं। सरकारी विभाग ने इस 11 लाख रुपये के लग्जरी वाहन पर एचपी-74बी-1200 पसंद का नंबर लेने के लिए 5 हजार रुपये अतिरिक्त खर्च किए हैं। इस लग्जरी वाहन की रजिस्ट्रेशन और लाइसेंसिंग अथारिटी के पास 22 जनवरी 2020 को हुई है। हैरानी की बात है कि हमीरपुर में पांचों उपमंडलों में सेवाएं दे रहे सभी एसडीएम (एचएएस) अधिकारियों के पास छोटे वाहन हैं।

हिमाचल पुलिस सेवाएं (एचपीएस) स्तर के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, उपपुलिस अधीक्षकों के पास भी छोटी गाडि़यां हैं। जिले में अन्य मंडलों में सेवाएं दे रहे जलशक्ति विभाग के पास भी मोहिंद्रा की बोलरो गाडि़यां हैं, लेकिन भोरंज एक्सईएन के नाम पर 11 लाख रुपये कीमत की लग्जरी कार खरीदना समझ से परे है। हालांकि विभाग के अधिकारियों का कहना है कि भोरंज एक्सईएन के नाम पर खरीदी गई कार का प्रयोग हमीरपुर में जलशक्ति विभाग के अधीक्षण अभियंता ही कर रहे हैं। जबकि एक्सईएन भोरंज को पांच माह पूर्व ही मोहिंद्रा बोलरो दी गई है।

भाजपा सरकार में फिजूलखर्ची शर्मनाक : दीपक
प्रदेश कांग्रेस के राज्य प्रवक्ता दीपक शर्मा ने कहा कि महंगी गाडि़यां खरीदना भाजपा सरकार की फिजूलखर्ची को दर्शाता है। जिस तरह से महंगी गाड़ी के साथ ही महंगे दामों पर गाड़ी का नंबर खरीदा गया है, उसकी भी जांच होनी चाहिए और दोषी अधिकारियों पर कार्रवाई की जानी चाहिए। ये दुर्भाग्यपूर्ण और शर्मनाक है।

सुबह से लेकर शाम तक काम करते हैं, वाहन तो चाहिए

हमीरपुर में जलशक्ति विभाग के अधीक्षण अभियंता को मोहिंद्रा की एक्सयूवी कार दी गई है। यह ज्यादा महंगी कार नहीं है। एयर कंडीशन गाड़ियां तो सभी जगह होती हैं। विभाग के अधिकारी फील्ड में सुबह से लेकर शाम तक काम करते हैं तो एयर कंडीशनर गाड़ी तो चाहिए ही। कार को सभी औपचारिकताएं पूरी करने के बाद ही खरीदा गया है। -ई. दिवेश भारद्वाज, मुख्य अभियंता, जलशक्ति विभाग हमीरपुर।

 

Source link

Categories: Shimla

0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *