सीरो सर्वे में खुलासा: अंबाला में 90 फीसदी लोगों में नहीं मिले कोरोना के लक्षण, पढ़ें- पूरी रिपोर्ट

Published by Razak Mohammad on

कोरोना वायरस (प्रतीकात्मक तस्वीर)
– फोटो : एएनआई

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर


कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹365 & To get 20% off, use code: 20OFF

ख़बर सुनें

हरियाणा सरकार की ओर से करवाए गए सीरो सर्वे में करीब 90 फीसदी लोगों में कोरोना का कोई लक्षण नहीं मिला। ये लोग पूरी तरह फिट पाए गए। जांच के दौरान 54 लोगों ने कोई जानकारी नहीं दी। जबकि 44 यानि 5.2 फीसदी लोगों में ही कोरोना वायरस के लक्षण मिले थे। सीरो सर्वे की रिपोर्ट को सार्वजनिक कर दिया गया है। अगस्त में करवाए गए इस सर्वे में लोगों से उनके शरीर में 30 दिन पहले की स्थिति की जानकारी जुटाई गई है। सर्वे के दौरान ब्लड सैंपल भी लिए गए थे। उनकी जांच के बाद ही इस रिपोर्ट के आने का दावा किया जा रहा है।

884 लोगों का जुटाया गया डाटा

सीरो सर्वे में अंबाला के 884 लोग शामिल किए गए थे। इसमें शहरी व ग्रामीण क्षेत्र के युवा, महिलाएं व पुरुष थे। जांच में 392 पुरुष व 477 महिलाएं थी जबकि 15 ने जांच में अपने लिंग का जिक्र नहीं किया है। सर्वे के दौरान 858 लोगों ने ही अपनी पारिवारिक स्थिति की जानकारी दी जबकि 17 ने ऐसी जानकारी देने से मना कर दिया। नौ ने फार्म में इस बात का जिक्र ही नहीं किया। जांच में ड्राइवर से लेकर सरकारी नौकरी पेशा, स्वास्थ्य कर्मचारी, पुलिस, बाहरी व स्थानीय मजदूरों के साथ दुकानदारों को भी शामिल किया गया था।

इन इलाके से लिए गए सैंपल

स्वास्थ्य विभाग की ओर से सिटी के अमन नगर, बादशाही बाग कॉलोनी, बलदेव नगर, बंद फाटक, चौड़मस्तपुर, जैतपुरा, जोधपुर, कंचघर, कुष्ठ आश्रम, मिलापनगर, मुस्लिम बस्ती, नन्यौला, नग्गल, न्यू लक्की नगर, नारायणगढ़ के बड़ागढ़, बड़ी बस्सी, निशात बाग, पतरेहड़ी, पिलखनी, सेक्टर-8 की हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी, शहजादपुर, तारा नगर, बिलपुरा, खुर्चनपुर गांव से लोगों के ब्लड सैंपल लिए गए थे।

सीरो सर्वे में ग्रामीण इलाके के करीब 8 फीसदी से ज्यादा लोगों में कोरोना के लक्षण मिले। यहां 230 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव मिली जबकि 18 लोग पॉजिटिव मिले। इसी तरह शहरी क्षेत्र में 557 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई जबकि 26 लोगों की जांच के दौरान कोरोना के लक्षण मिले। शहरी क्षेत्र में करीब 95 फीसदी लोगों के पूरी तरह फिट होने का दावा किया गया जबकि साढ़े चार फीसदी लोगों में ही लक्षण पाए गए।

22 जिलों में पूरा हो चुका है सर्वे

सरकार ने सीरो सर्वे प्रदेश के 22 जिलों में करवाया था। इस दौरान जांच टीमों ने कुल 18905 लोगों के ब्लड सैंपल लिए थे। इस दौरान उन्हें पिछले 30 दिनों में आई शारीरिक दिक्कतों के बारे में पूछा गया था। इसके आधार पर ही सीरो सर्वे रिपोर्ट तैयार की गई है।

जुलाई में मिले करीब 1282 संक्रमित केस

वहीं यदि स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों की बात करें तो पूरे जुलाई माह में अंबाला में करीब 1282 संक्रमित मरीज मिले। आंकड़ों की बात करें तो 2 जुलाई को अंबाला में 344 संक्रमित मरीज थे जबकि 1 अगस्त को संक्रमित मरीजों की संख्या 1626 थी। इस अवधि तक सक्रिय मरीजों की संख्या 308 थी।

सार


 

विस्तार

हरियाणा सरकार की ओर से करवाए गए सीरो सर्वे में करीब 90 फीसदी लोगों में कोरोना का कोई लक्षण नहीं मिला। ये लोग पूरी तरह फिट पाए गए। जांच के दौरान 54 लोगों ने कोई जानकारी नहीं दी। जबकि 44 यानि 5.2 फीसदी लोगों में ही कोरोना वायरस के लक्षण मिले थे। सीरो सर्वे की रिपोर्ट को सार्वजनिक कर दिया गया है। अगस्त में करवाए गए इस सर्वे में लोगों से उनके शरीर में 30 दिन पहले की स्थिति की जानकारी जुटाई गई है। सर्वे के दौरान ब्लड सैंपल भी लिए गए थे। उनकी जांच के बाद ही इस रिपोर्ट के आने का दावा किया जा रहा है।

884 लोगों का जुटाया गया डाटा

सीरो सर्वे में अंबाला के 884 लोग शामिल किए गए थे। इसमें शहरी व ग्रामीण क्षेत्र के युवा, महिलाएं व पुरुष थे। जांच में 392 पुरुष व 477 महिलाएं थी जबकि 15 ने जांच में अपने लिंग का जिक्र नहीं किया है। सर्वे के दौरान 858 लोगों ने ही अपनी पारिवारिक स्थिति की जानकारी दी जबकि 17 ने ऐसी जानकारी देने से मना कर दिया। नौ ने फार्म में इस बात का जिक्र ही नहीं किया। जांच में ड्राइवर से लेकर सरकारी नौकरी पेशा, स्वास्थ्य कर्मचारी, पुलिस, बाहरी व स्थानीय मजदूरों के साथ दुकानदारों को भी शामिल किया गया था।

इन इलाके से लिए गए सैंपल
स्वास्थ्य विभाग की ओर से सिटी के अमन नगर, बादशाही बाग कॉलोनी, बलदेव नगर, बंद फाटक, चौड़मस्तपुर, जैतपुरा, जोधपुर, कंचघर, कुष्ठ आश्रम, मिलापनगर, मुस्लिम बस्ती, नन्यौला, नग्गल, न्यू लक्की नगर, नारायणगढ़ के बड़ागढ़, बड़ी बस्सी, निशात बाग, पतरेहड़ी, पिलखनी, सेक्टर-8 की हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी, शहजादपुर, तारा नगर, बिलपुरा, खुर्चनपुर गांव से लोगों के ब्लड सैंपल लिए गए थे।


आगे पढ़ें

ग्रामीण क्षेत्रों में मिले लक्षण



Source link


0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *