यूपी: जानिए अपने जिले के समेकित कोविड हेल्पलाइन नंबर, मिल से मदद मिल सकती है

India


लखनऊ। उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण (COVID-19 संक्रमण) रोज लगातार अपनी चपेट में हजारों लोगों को ले रहा है। उत्तर प्रदेश सरकार ने सभी जिलों से रिपोर्ट के लिए एक सेंट्रलाइज्डेंडर सेटर लखनऊ में बनाया है। यहां दिन में दो बार जिलों से बिस्तर की उपलब्धता, संक्रमण की स्थिति से लेकर ऑक्सीजन और आवश्यक दवाओं को लेकर स्थिति की रिस्पोर्ट भीली जा रही है। वहीं हर जिले ने अपने यहां कोविड कंट्रोल रूम (COVID-19 कंट्रोल रूम) स्थापित किया है। इसके तहत कई नंबर जारी किए गए हैं, जिन पर कोई भी व्यक्ति सीधा संपर्क कर सकता है। बता दें कि सीएम योगी आदित्यनाथ ने निर्देश दिए हैं कि सभी जिलों में गहन नियंत्रक एंडैंड सेंटर को प्रभावी बनाया जाए। आइसीसीसी के संपर्क नम्बर बेहतर तरीके से प्रचारित / प्रसारित किए जाते हैं। हर कंट्रोल रूम 24 × 7 समीक्षा मोड में रहें। लोगों की समस्याओं का यथोचित निराकरण करते हैं। मुख्य सचिव कार्यालय और मुख्यमंत्री कार्यालय स्तर से इसकी जाँच की जाएगी।

खाली बेड की डिटेल के बड़े हिस्से को विभाजित अस्पतालसीएम योगी ने कहा है कि हर कोविड अस्पताल में हर दिन अपने खाली बेड का एक-एक पल सुरक्षित रखना चाहिए। कोई भी सरकारी या निजी अस्पताल बिस्तर उपलब्ध होने पर कोविड पॉजिटिव मरीज को भर्ती के लिए मना नहीं कर सकता है। यदि सरकारी अस्पताल में बिस्तर उपलब्ध नहीं है, तो संबंधित अस्पताल उसे निजी चिकित्सालय में रेफर करेगा। निजी अस्पताल में रोगी भुगतान के आधार पर उपचार कराने में यदि सक्षम नहीं होगा, तो ऐसी दशा में राज्य सरकार आयुष्मान भारत योजना के तहत शिवाय दर पर उसके इलाज का भुगतान करेगी। देखिए अपने जिले के नंबर

कुछ प्रमुख जिलों के नियंत्रक कक्ष संख्या इस प्रकार हैं- लखनऊ कोविंद कंट्रोल रूम- 0522-4523000, 0522-2610145 पीजीआरएस हेल्पलाइन -0522-4523000, 0522-4523950 हेल डॉ। – 0522-3515700 प्रयागराज 32 विभाजित कंट्रोल रूम- ०५३२ २५०१४,, 19४०01४१ ९ ०१ हेल्प लाइन नंबर- रूम४४17१60 ९ ०६० नोएडा गौतमबुद्ध नगर के कोविड 19 के कंट्रोल रूम नम्बर 1800 419 2211 है। कंट्रोल रूम- 0120-2965798, 0120-2965799, 0120-2965757, 0120-2965758, 0120-2829040, 0120-4186453, 8826737248, 9910426264 बरेली कंट्रोल रूम- 0581-2428914 / 2428188/2511061/2511021 नोडल ऑफिसर- 9454417198 मेडिकल ऑफिसर- 7906550415 गोरखपुर 05 विभाजित नियंत्रक संख्या- ०५५१-२२०२०२२, २२०१ ९ 87 ९ ६, 48६६५१३४-४२ देवरिया 94 विभाजित नियंत्रक संख्या- 9450494933, 05568-220926, 222505 कुशीनगर 05 विभाजित नियंत्रक संख्या- ०५५६४-२४०४४ 90, ९ ०४४ ९ ४३३ ९ ५ ९ करगंज 945 विभाजित नियंत्रक संख्या- 9454416312





Source link

COVID 19 एकीकृत हेल्पलाइन नंबर यूपी COVID me kahan karein फ़ोन अप न्यूज अपडेट उत्तर प्रदेश समाचार कोरोना संकट हेल्पलाइन नंबर गोरखपुर देवरिया महाराजगंज नोएडा प्रयागराज हेल्पलाइन नंबर महज जिला का हेल्पलाइन नंबर लखनऊ समाचार सीएम योगी आदित्यनाथ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts

India

क्लिनिकल प्रोटोकॉल से मे

प्रेम प्रसंग पर (संकेत चित्र) प्लाज्मा थैरेपी: बीमार होने की बीमारी की वजह से प्रभावित होने की क्षमता को प्रभावित करने वाला रोग रोग की तरह तापमान में संक्रमित होता है और रोग की स्थिति में प्रभावित होता है। नई दिल्ली। वायरस के इलाज के लिए (कोविड-19) स्वास्थ्य के लिए खतरनाक वायरस से संक्रमित है

India

20 मई को केरल के डाक पद की पहचान करने वाले विजयन, बैठकों में शामिल हों

जीतन के नेतृत्व में सकारात्मक रूप से सक्रिय होने पर सकारात्मक रूप से सक्रिय हो जाएगा प्रचंड में प्रवेश करने की स्थिति में प्रवेश करने के लिए सक्रिय रूप से तैयार किया जाएगा प्रचंड की जांच के लिए प्रेक्षक में प्रवेश करने के लिए तैयार किया गया था। है है है है है (पीटीआई फोटो)

India

टाउते रहने की स्थिति: स्वास्थ्य की देखभाल की स्थिति, स्वास्थ्य की देखभाल के लिए

नई दिल्ली। नियमित रखरखाव सुरक्षा के लिए काम करने की स्थिति में सुधार करना चाहिए ( बैटरी की सुरक्षा के लिए 53 से 100 का नंबर देना चाहिए। . . . . . . . . . इस तरह के स्टाफ़ में शामिल होने वाले सभी सदस्यों को सुरक्षा प्रदान करने के लिए 4,700 कर्मचारी

India

महाराष्ट्र में लॉग इन करने वाले खेल को आराम, RT-PCR टेस्ट में

महाराष्ट्र महाराष्ट्र कोरोना वायरस अपडेट: एक बैठक की कोर समिति के अध्यक्ष बालकम स्तर पर कनेक्ट ने, ”उच्चतम स्तर पर संपर्क के बाद हम काम के महाराष्ट्र में स्ट-पी के लिए निग कनेक्शन में सुधार प्राप्त करने में सक्षम होंगे।’ ‘ मुंबई। महाराष्ट्र सरकार ने अपडेट किए जाने की स्थिति में सुधार किया है। अखिल

%d bloggers like this: