मुंबई में पांच से अधिक चेतन रोगियों वाले भवनों को किया जाएगा सील

India


मुंबई में मंगलवार को 10 हजार से ज्यादा केस आए। (प्रतीकात्मक चित्र)

मुंबई में कोरोनावायरस के मामले: मुंबई में मंगलवार को कोरोनावायरस संक्रमण के 10,030 नए मामले सामने आए और महामारी से 31 और मरीजों की मौत हो गई। मुंबई में अक्टूबर के बाद से किसी एक दिन में मृतकों की यह सबसे अधिक संख्या है

मुंबई। मुंबई में कोविद -19 के मामलों (मुंबई कोविद -19 मामलों) के तेज गति से बढ़ने के मद्देनजर बीएमसी ने पांच से अधिक गंभीर रोगियों वाले किसी भी हाउसिंग सोसाइटी को सील करने का फैसला किया है। बृहन्मुगल महानगरपालिका (बीएमसी) सोमवार को कुछ नए मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) जारी की गई। एसओपी के मुताबिक पांच से अधिक गंभीर रोगियों के साथ किसी भी हाउसिंग सोसाइटी को सील कर दिया जाएगा और उसे ‘सूक्ष्म निरपेक्ष क्षेत्र’ माना जाएगा।

बीएमसी ने अपने नियमों का उल्लंघन करने वाली सहकारी हाउसिंग सोसाइटी पर भालू लगाने की चेतावनी दी है। नगर निकाय ने कहा कि सील किए गए भवन के प्रवेश द्वार पर पुलिसकर्मी तैनात किए जाएंगे। एसओपी में कहा गया है कि नियमों का उल्लंघन करने पर हाउसिंग सोसाइटी पर 10,000 रुपये का जुर्माना लगाया जाएगा।

ये भी पढ़ें- दिल्ली: 24 घंटे वैक्सीन लगाने के आदेश जारी लेकिन नाइट कर्फ्यू ने बढ़ाई उलझन, जानिए कैसे मिलेंगे

मुंबई में 10 हजार से ज्यादा केसगौरतलब है कि मुंबई में मंगलवार को कोरोनावायरस संक्रमण के 10,030 नए मामले सामने आए और महामारी से 31 और मरीजों की मौत हो गई। मुंबई में अक्टूबर के बाद से किसी एक दिन में मृतकों की यह सबसे अधिक संख्या है। बृहन्मुथ महानगर पालिका के आंकड़ों के अनुसार नए मामले सामने आने के बाद सकारात्मकों की कुल संख्या 4,72,332 हो गई जबकि मृतकों की संख्या 11,828 पहुंच गई। शहर में अब तक 3,82,004 मरीज ठीक हो चुके हैं और अभी भी 77,495 मरीज उपचाराधीन हैं।

इस बीच महाराष्ट्र के कोल्हापुर जिला प्रशासन ने बाहर से आने वालों के लिए आरटी-पीसीआर जांच करवाना अनिवार्य कर दिया है। कोल्हापुर कलेक्टर दौलत देसाई ने मंगलवार को कहा, “जिले में को विभाजित -19 का प्रसार अभी कम है लेकिन पुणे, साक्षर और सतारा जैसे पड़ोसी जिलों में संक्रमण के अधिक मामले सामने आ रहे हैं।” उन्होंने कहा कि जो लोग कोल्हापुर जिले में आते हैं, उन्हें आगमन से 48 घंटे पहले आरटी पीसीआर जांच करानी होगी और ‘निगेटिव’ रिपोर्ट के साथ लानी होगी।

उन्होंने कहा कि टीके की दूसरी खुराक ले चुके लोगों के लिए यह अनिवार्य नहीं होगा।
(डिस्क्लेमर: यह खबर सही सिंडीकेट ट्वीट से पब्लिश हुई है। इसे News18Hindi की टीम ने साझा नहीं किया है।)








Source link

महाराष्ट्र में कोरोनावायरस महाराष्ट्र में कोविद मामले मुंबई में कोरोनावायरस के मामले

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts

India

भारत में बेकाबू कोरोना पर यूएई का बड़ा फैसला, भारतीय यात्रियों पर 10 दिन की रोक

यूएई ने भारतीय यात्रियों को 10 दिन के लिए प्रतिबंध लगा दिया है। (प्रतीकात्मेक तस्वीर) यूएई भारत से सभी उड़ानों पर प्रतिबंध लगाने के लिए: भारत में महामारी की चाल को देखता है संज्ञा अरब अमीरात ने भारतीय यात्रियों को 10 दिन के लिए प्रतिबंध लगा दिया है। नई दिलवाली देश में कोरोना महामारी का

India

कोरोना टीकाकरण: केंद्र ने सरकारी कर्मचारियों से की वैक्सीन लगवाने की अपील की

1 मई से वैक्सीन प्रोग्राम का नया चरण शुरू होने जा रहा है। (सांकेतिक फोटो) कोरोना टीकाकरण: सभी केंद्रीय सरकारी विभागों को जारी आदेश में कहा गया, ” केंद्र सरकार के सभी कर्मचारियों को टीकाकरण प्रदान करने की सलाह दी जाती है ताकि कोरोनावायरस संक्रमण के प्रसार की प्रभावी रोकथाम की जा सके। टीकाकरण के

India

वैक्सीन की पहले डोज के बाद ही हो गया कोरोना, जानें कबनी होगी दूसरी डोज

1 मई से वैक्सीन प्रोग्राम का नया चरण शुरू होने जा रहा है। (सांकेतिक फोटो) एक्सपर्ट का कहना है कि कोरोनाटिक ठहरने के दौरान आपको वैक्सीनेशन (कोरोना टीकाकरण) नहीं करवाना है। जैसे ही आइसोलेशन या क्वारंटाइन पीरियड खत्म हो वैक्सीन का दूसरा डोज लिया जा सकता है। नई दिल्ली। केंद्र सरकार अब वैक्सीनेशन (कोरोना टीकाकरण)

India

यात्री ध्यान दें! अब सिर्फ सरकारी और मेडिकल स्टाफ मेंबर ही कर सकते हैं मुंबई लोकल में सफर

कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए मुंबई में कई तरह की पाबंदियां लगाने का फैसला लिया गया है। (सांकेतिक चित्र) मुंबई लोकल ट्रेनें: मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी शिवाजी सुतार ने बताया कि सरकार के नियमों के मुताबिक आज रात 8:00 बजे के बाद से लोकल ट्रेनों में सिर्फ अत्यावश्यक सेवाओं से जुड़े