माता चिंतपूर्णी में 13 से शुरू होगा नवरात्र मेला

Una News


चिंतपूर्णी में चैत्र नवरात्र मेले की तैयारियों को लेकर आयोजित बैठक की घोषणा करते एडीसी डा।
– फोटो: ऊना

ख़बर सुनना

चिंतपूर्णी (उना)। कोरोना संकट के बीच प्रशासन ने माता श्री चिंतापूर्णी में चैत्र नवरात्र मेला आयोजित करने का फैसला किया है। यह मेला 13 से 21 अप्रैल तक आयोजित होगा। मेले के लिए प्रशासनिक तौर पर तैयारियां शुरू हो गई हैं। अतिरिक्त उपायुक्त डॉ। अमित कुमार शर्मा ने मंगलवार को मेले के आयोजन के लिए चिंतपूर्णी सदन में बैठक ली।
इस अवसर पर एसडीएम अंब को मेला अधिकारी जबकि डीएसपी को पुलिस मेला अधिकारी नियुक्त किया जाता है। मेले के दौरान कानून और व्यवस्था बनाए रखने के लिए क्षेत्र को चार सेक्टर में बांटा जाएगा। इनमें 450 से अधिक पुलिस और गृहरक्षक तैनात रहेंगे। मेले के दौरान मंदिर सुबह 5 बजे से रात 10 बजे तक खुला रहेगा। उन्होंने बताया कि यातायात व्यवस्था को सुचारू बनाए रखने के लिए श्रद्धालुओं की विशेष बसें भरवाईं में ही रुक जाएंगी। जबकि नियमित रूट की बसों को चिंतपूर्णी बस स्टैंड तक आने दिया जाएगा। साथ ही मालवाहक वाहनों में श्रद्धालुओं को आने की अनुमति नहीं दी जाएगी। एडीजी ने कहा कि श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए चार स्थानों पर पानी पिलाने की व्यवस्था की जाएगी। भरवाईं से मुबारिकपुर तक 40 अस्थायी शौचालय स्थापित किए जाएंगे। मेला क्षेत्र में आग की घटना से निपटने के लिए दो अग्निशमन वाहन तैनात रहेंगे।
बॉक्स
नारियल चढ़ाई और ढोल नगाड़े पर प्रतिबंध
एडीसी ने बताया कि मेले के दौरान श्रद्धालुओं के नारियल चढ़ाने, ढोल और नगाडे, लाउडस्पीकर और हंटरटा बजाने पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। मेले के दौरान लंगर और भंडारे लगाने की अनुमति नहीं रहेगी। कोरोना महामारी को देखते हुए श्रद्धालुओं की थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी। प्रसाद चढ़ाने संबंधी एसओपी जल्द ही जारी की जाएगी।
बॉक्स
तीन स्थानों पर दर्शन पर्ची मिलेगी
श्रद्धालुओं के लिए दर्शन पर्ची अनिवार्य होगी और यह पर्ची तीन स्थानों से प्राप्त की जा सकेगी। दर्शन पर्ची एडीबी भवन, चिंतपूर्णी बस स्टैंड पार्किंग और शंभू बैरियर से प्राप्त की जागी। छोटे वाहनों में आनेवाले श्रद्धालुओं के लिए पार्किंग की व्यवस्था भरवाईं और एडीबी में की जाएगी। जबकि भारी वाहनों के लिए भी भरवाईं में ही प्रबंधित किया जाएगा।
बॉक्स
24 घंटे की स्वास्थ सेवाएं उपलब्ध होंगी
डॉ। अमित कुमार शर्मा ने कहा कि मेले के दौरान श्रद्धालुओं को आपातकालीन चिकित्सा सुविधा सुनिश्चित करने को चिंतपूर्णी अस्पताल में 24 घंटे सेवाएं प्रदान की जाती हैं। एडीसी ने मेले के दौरान श्रद्धालुओं को स्वच्छ और स्वच्छ-सुथरा पेयजल मुहैया करवाने के लिए जलशक्ति विभाग को पेयजल स्रोतों की समुचित पेयजल आपूर्ति सुनिश्चित बनाने के निर्देश दिए। कहा कि स्वच्छ-सफाई का कार्य सुलभ इंटरनेशनल को दिया गया है, जिसमें 30 कर्मचारी कार्यरत हैं।

चिंतपूर्णी (उना)। कोरोना संकट के बीच प्रशासन ने माता श्री चिंतापूर्णी में चैत्र नवरात्र मेला आयोजित करने का फैसला किया है। यह मेला 13 से 21 अप्रैल तक आयोजित होगा। मेले के लिए प्रशासनिक तौर पर तैयारियां शुरू हो गई हैं। अतिरिक्त उपायुक्त डॉ। अमित कुमार शर्मा ने मंगलवार को मेले के आयोजन के लिए चिंतपूर्णी सदन में बैठक ली।

इस अवसर पर एसडीएम अंब को मेला अधिकारी जबकि डीएसपी को पुलिस मेला अधिकारी नियुक्त किया जाता है। मेले के दौरान कानून और व्यवस्था बनाए रखने के लिए क्षेत्र को चार सेक्टर में बांटा जाएगा। इनमें 450 से अधिक पुलिस और गृहरक्षक तैनात रहेंगे। मेले के दौरान मंदिर सुबह 5 बजे से रात 10 बजे तक खुला रहेगा। उन्होंने बताया कि यातायात व्यवस्था को सुचारू बनाए रखने के लिए श्रद्धालुओं की विशेष बसें भरवाईं में ही रुक जाएंगी। जबकि नियमित रूट की बसों को चिंतपूर्णी बस स्टैंड तक आने दिया जाएगा। साथ ही मालवाहक वाहनों में श्रद्धालुओं को आने की अनुमति नहीं दी जाएगी। एडीजी ने कहा कि श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए चार स्थानों पर पानी पिलाने की व्यवस्था की जाएगी। भरवाईं से मुबारिकपुर तक 40 अस्थायी शौचालय स्थापित किए जाएंगे। मेला क्षेत्र में आग की घटना से निपटने के लिए दो अग्निशमन वाहन तैनात रहेंगे।

बॉक्स

नारियल चढ़ाई और ढोल नगाड़े पर प्रतिबंध

एडीसी ने बताया कि मेले के दौरान श्रद्धालुओं के नारियल चढ़ाने, ढोल और नगाडे, लाउडस्पीकर और हंटरटा बजाने पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। मेले के दौरान लंगर और भंडारे लगाने की अनुमति नहीं रहेगी। कोरोना महामारी को देखते हुए श्रद्धालुओं की थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी। प्रसाद चढ़ाने संबंधी एसओपी जल्द ही जारी की जाएगी।

बॉक्स

तीन स्थानों पर दर्शन पर्ची मिलेगी

श्रद्धालुओं के लिए दर्शन पर्ची अनिवार्य होगी और यह पर्ची तीन स्थानों से प्राप्त की जा सकेगी। दर्शन पर्ची एडीबी भवन, चिंतपूर्णी बस स्टैंड पार्किंग और शंभू बैरियर से प्राप्त की जागी। छोटे वाहनों में आनेवाले श्रद्धालुओं के लिए पार्किंग की व्यवस्था भरवाईं और एडीबी में की जाएगी। जबकि भारी वाहनों के लिए भी भरवाईं में ही प्रबंधित किया जाएगा।

बॉक्स

24 घंटे की स्वास्थ सेवाएं उपलब्ध होंगी

डॉ। अमित कुमार शर्मा ने कहा कि मेले के दौरान श्रद्धालुओं को आपातकालीन चिकित्सा सुविधा सुनिश्चित करने को चिंतपूर्णी अस्पताल में 24 घंटे सेवाएं प्रदान की जाएंगी। एडीसी ने मेले के दौरान श्रद्धालुओं को स्वच्छ और स्वच्छ-सुथरा पेयजल मुहैया करवाने के लिए जलशक्ति विभाग को पेयजल स्रोतों की समुचित पेयजल आपूर्ति सुनिश्चित बनाने के निर्देश दिए। कहा कि स्वच्छ-सफाई का कार्य सुलभ इंटरनेशनल को दिया गया है, जिसमें 30 कर्मचारी कार्यरत हैं।





Source link

उना न्यूज ऊना की पाठशाला ऊना न्यूज़ टुडे ऊना समाचार ऊना समाचार हिंदी में

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts

Una News

पटवार और कानूनगो भवन में कंप्यूटर सुविधा और फर्नीचर देने की मांग

बचत भवन ऊना में संयुक्त पटवार और कानूनगो महासंघ की बैठक में उपायुक्त राघव शर्मा।
– फोटो: ऊना

ख़बर सुनना

ख़बर सुनना

ऊना। संयुक्त