भ्रष्टाचार के मामले में कर्नाटक के सीएम बी। येदियुरप्पा को सुप्रीम कोर्ट से बड़ी राहत मिली है

India


कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी.एस. (पीटीआई फाइल फोटो)

बीएस येदियुरप्पा न्यूज़: सुप्रीम कोर्ट ने कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी। एस। येदियुरप्पा के खिलाफ जमीन अधिग्रहण के इरादे से अधिसूचना वापस लेने से संबंधित कथित भ्रष्टाचार के मामले में आपराधिक मुकदमे पर सोमवार को रोक लगा दी गई है।

नई दिल्ली। कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी। एस। येदियुरप्पा को कथित तौर पर भ्रष्टाचार से जुड़े एक मामले में सोमवार को सुप्रीम कोर्ट से बड़ी राहत मिली। सर्वोच्च न्यायालय ने कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी। एस। येदियुरप्पा के खिलाफ जमीन अधिग्रहण के इरादे से अधिसूचना वापस लेने से संबंधित कथित भ्रष्टाचार के मामले में आपराधिक मुकदमे पर सोमवार को रोक लगा दी गई है।

प्रधान न्यायाधीश एसए बोबडे के नेतृत्व वाली एक पीठ ने उच्च न्यायालय के फैसले के खिलाफ मुख्यमंत्री की याचिका पर सुनवाई करते हुए नोटिस जारी किया और उनके खिलाफ सुनवाई पर रोक लगा दी। मुख्यमंत्री ने उनके खिलाफ आपराधिक मुकदमा रद्द किए जाने की मांग की उनकी याचिका उच्च न्यायालय द्वारा खारिज किए जाने के खिलाफ यचिका दायर की थी।

बीते फरवरी महीने में कर्नाटक उच्च न्यायालय ने एक विशेष अदालत को निर्देश दिया था कि वे सीएम येदियुरप्पा पर लगे आरोपों का ज्ञान लेने और 2012 में लोकायुक्त पुलिस द्वारा दायर किए गए आरोप-पत्र के आधार पर कार्रवाई को आगे बढ़ाने के निर्देश दिए थे। बी। एस। येदियुरप्पा ने हाईकोर्ट के 21 मार्च के इसी आदेश के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी, जिस पर आज सुनवाई हुई और शीर्ष न्यायालय ने मामले पर वर्तमान में रोक लगाने का आदेश दिया है।

यूट्यूब वीडियो

येदियुरप्पा के खिलाफ निजी शिकायत में आरोप लगाया गया है कि 2008-12 से मुख्यमंत्री के रूप में उनके कार्यकाल के दौरान, उन्होंने भूमि अधिग्रहण के जरिए से 20 एकड़ जमीन को गैर-कानूनी रूप से प्रमाणित किया गया, ताकि निजी पक्षकारों को अनुचित लाभ मिल सके। । (इनपुट भाषा से भी)








Source link

कर्नाटक के सीएम बी। येदियुरप्पा को सुप्रीम कोर्ट से बड़ी राहत मिली है कर्नाटक के सीएम बीएस येदियुरप्पा बीएस येदियुरप्पा नवीनतम समाचार बीएस येदियुरप्पा न्यूज़ बीएस येदियुरप्पा भ्रष्टाचार मामला सुप्रीम कोर्ट बीएस येदियुरप्पा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts

India

महाराष्ट्र: घरेलू कर्मियों को अब हर 15 दिन पर नहीं करनी होगी कोविड टेस्ट, सरकार ने वापस लिया फैसला

सीएम ठाकरे ने कहा कि सरकार अगले एक महीने तक गरीब और जरूरतमंदों को 3 किलो गेंहूं और 2 किलो चावल देगी। (प्रतीकात्मक चित्र: रॉयटर्स) घरेलू मदद के लिए कोरोनावायरस नियम: इस सप्ताह जारी की गई गाइडलाइंस के अनुसार, घरेलू कर्मियों को हाउसिंग सोसाइटी में प्रवेश के लिए नेगेटिव सर्टिफिकेट रखना जरूरी किया गया था।

India

लखीमपुर खीरी पंचायत चुनाव: मुख्य प्रत्याशी ने टॉफी का लालच बच्चों की जान से खिलवाड़ किया

लखीमपुर खीरी के मैलानी थाना क्षेत्र के सलामत नगर ग्राम पंचायत में बच्चों के साथ प्रधान प्रत्याशी ने निकाली रैली की। लखीमपुर खीरी पंचायत चुनव: जिलाधिकारी शैलेंद्र सिंह का कहना है कि चुनाव प्रचार के दौरान बच्चों से रैली निकालने की लापरवाही भरे रवैये पर जाच की जाएगी। दोषियों के खिलाफ कानूनी रूप से प्रकरण

India

कोरोना से बचने के लिए खाने में क्या शामिल है, किससे दूरी बनाएं? डब्ल्यूएचओ ने बताया

नई दिलवाली देश में कोरोनावायरस (कोरोना) का संक्रमण एक बार फिर अपना विकराल रूप दिखाने लगा है। कोरोनावायरस (कोरोनावायरस) का नया रूप बहुत संक्रामक है और जरा सी लापरवाही इस महामारी को न्‍यूनत देने की तरह है। कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए बार बार हाथ धोना, माई लगाना और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन

India

जानिए, शरीर के कौन से अंग है कोरोना के लिए सॉफ्ट टारगेट

बढ़ते प्रकोप के बीच कोरोना संक्रमण ने नया ही रिकॉर्ड बनाया और लगातार तीसरे दिन 2 लाख से ज्यादा मामले दर्ज हुए। इस बीच मौत की दर भी तेजी से ऊपर जा रही है। विभिन्न राज्यों की सरकारें अपने स्तर पर लॉकडाउन लगा रही हैं, इसके बाद भी ट्रांस तेज हो रही है। इस बीच