भीमाकाली मंदिर की आरती को ऑनलाइन देखना होगा श्रद्धालु

Himachal Pradesh News


अमर उजाला नेटवर्क, रामपुर लुहार

द्वारा प्रकाशित: अरविंद ठाकुर
अपडेटेड मैट, 07 अप्रैल 2021 06:08 PM IST

एसडीएम रामपुर सुरेंद्र मोहन ने विभागीय अफसरों और मंदिर के पुजारियों के साथ बैठक की।
– फोटो: अमर उजाला

ख़बर सुनना

मां भीमाकाली मंदिर में होने वाली आरती को श्रद्धालु अब ऑनलाइन देख सकेंगी। कोरोना के बढ़ते हुए मामलों को देखते हुए प्रशासन ने यह फैसला लिया है। 13 अप्रैल से शुरू होने वाले नवरात्र को लेकर भीमकली मंदिर, खोपडी मंदिर रामपुर और श्राईकोटी मंदिर के अलावा अन्य मंदिरों में सुरक्षा को लेकर एसडीएम रामपुर सुरेंद्र मोहन ने विभागीय अफसरों और मंदिर के पुजारियों के साथ बैठक की।

एसडीएम ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि सभी अधिकारी अपने नजदीकी मंदिरों में जाकर स्थिति का जायजा लें। उन्होंने कहा कि मंदिरों में पूजा पाठ और भंडारे पर प्रतिबंध रहेगा। इसके अलावा अन्य सांस्कृतिक और धार्मिक कार्यक्रम में भी 50 से अधिक लोग शामिल नहीं होंगे।

उन्होंने कहा कि भीमाकाली मंदिर में पूजा पाठ और आरती को ऑफ़लाइन देखने के लिए व्यवस्था की गई है। लोगों की सुविधा के लिए भीमाकली मंदिर सराहन में एँरियर विभाग की ओर से एक चिकित्सक, एक चिकित्सक, एक नर्स और अन्य कर्मचारियों को नवरात्र के दौरान तैनात किया जाएगा।

मंदिर में आने वाले सभी लोगों की सूची बनाई जाएगी। वह लोगों से अपील की है कि मंदिरों में दर्शन के दौरान किसी चीजों को न छूएं। बैठक में बीडीओ केआर कपूर, बीएमओ डॉ। आरके नेगी, नायब तहसीलदार तकलेच एनके वर्मा, मंदिर ट्रस्ट अधिकारी बीआर नेगी, सत्यानारायण मंदिर प्रभारी डीके नेगी, डॉ। सचिन वर्मा इस दौरान मौजूद रहे।

विस्तार

मां भीमाकाली मंदिर में होने वाली आरती को श्रद्धालु अब ऑनलाइन देख सकेंगी। कोरोना के बढ़ते हुए मामलों को देखते हुए प्रशासन ने यह फैसला लिया है। 13 अप्रैल से शुरू होने वाले नवरात्र को लेकर भीमकली मंदिर, खोपडी मंदिर रामपुर और श्राईकोटी मंदिर के अलावा अन्य मंदिरों में सुरक्षा को लेकर एसडीएम रामपुर सुरेंद्र मोहन ने विभागीय अफसरों और मंदिर के पुजारियों के साथ बैठक की।

एसडीएम ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि सभी अधिकारी अपने नजदीकी मंदिरों में जाकर स्थिति का जायजा लें। उन्होंने कहा कि मंदिरों में पूजा पाठ और भंडारे पर प्रतिबंध रहेगा। इसके अलावा अन्य सांस्कृतिक और धार्मिक कार्यक्रम में भी 50 से अधिक लोग शामिल नहीं होंगे।

उन्होंने कहा कि भीमाकाली मंदिर में पूजा पाठ और आरती को ऑफ़लाइन देखने के लिए व्यवस्था की गई है। लोगों की सुविधा के लिए भीमाकली मंदिर सराहन में एँरियर विभाग की ओर से एक चिकित्सक, एक चिकित्सक, एक नर्स और अन्य कर्मचारियों को नवरात्र के दौरान तैनात किया जाएगा।

मंदिर में आने वाले सभी लोगों की सूची बनाई जाएगी। वह लोगों से अपील की है कि मंदिरों में दर्शन के दौरान किसी चीजों को न छूएं। बैठक में बीडीओ केआर कपूर, बीएमओ डॉ। आरके नेगी, नायब तहसीलदार तकलेच एनके वर्मा, मंदिर ट्रस्ट अधिकारी बीआर नेगी, सत्यानारायण मंदिर प्रभारी डीके नेगी, डॉ। सचिन वर्मा इस दौरान मौजूद रहे।





Source link

himachal news in hindi नवीनतम हिमाचल प्रदेश समाचार हिंदी में भीमाकाली मंदिर आरती भीमाकाली मंदिर की आरती लाइव हिमाचल प्रदेश समाचार हिंदी में हिमाचल प्रदेश हिंदी समचार हिमाचल समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts

Himachal Pradesh News

हिमाचल में कोरोनावायरस: 10 कोरोना रोगियों की मृत्यु, 1029 प्रकार

अमर उजाला नेटवर्क, शिमला

द्वारा प्रकाशित: अरविंद ठाकुर
अपडेटेड शुक्र, 16 अप्रैल 2021 11:02 PM IST

सार
हिमाचल प्रदेश में शुक्रवार को कोरोना से दस मरीजों

Himachal Pradesh News

हिमाचल: एक मई तक शिक्षण संस्थान बंद रखने का आज हो सकता है

अमर उजाला नेटवर्क, शिमला

द्वारा प्रकाशित: कृष्ण सिंह
अपडेटेड शुक्र, 16 अप्रैल 2021 11:00 पूर्वाह्न IST

ख़बर सुनना

ख़बर सुनना

हिमाचल प्रदेश में एक मई तक

Himachal Pradesh News

हिमाचल में कोरोना से परिवहन सेवाओं पर असर, नई एसओपी के साथ चलेंगी बसें

अमर उजाला नेटवर्क, शिमला

द्वारा प्रकाशित: कृष्ण सिंह
अपडेटेड शुक्र, 16 अप्रैल 2021 10:58 AM IST

एचआरओटी सेटलमेंट (फाइल)
– फोटो: अमर उजाला

ख़बर सुनना

ख़बर सुनना

Himachal Pradesh News

पर्यटक वाहनों के लिए कंपोजिट फीस की नई वस्तुएं लागू होंगी

अमर उजाला नेटवर्क, शिमला

द्वारा प्रकाशित: अरविंद ठाकुर
अपडेटेड शुक्र, 16 अप्रैल 2021 10:19 PM IST

वाहन- फाइल फोटो
– फोटो: अमर उजाला

ख़बर सुनना

ख़बर सुनना