बनीखेत में भालू की दहशत से सहमे लोग

Chamba News


ख़बर सुनना

बनीखेत (चंबा)। बनीखेत क्षेत्र में भालुओं के बढ़ते आतंक से लोगों में दहशत का माहौल है। क्षेत्र में पिछले दो वर्षों में भालू सात लोगों को घायल कर चुके हैं। इतनी संख्या में घटनाएं होने के बावजूद वन विभाग की ओर से लोगों की सुरक्षा को लेकर कोई प्रयास नहीं किए जा रहे हैं। इससे ग्रामीणों में रोश है। गत दिवस जहां घटना हुई, वह घना जंगल है।
यहाँ भालू अक्सर देखे जा सकते हैं। इसी जगह आर्मी कॉलोनी के साथ लगते जंगल में भालू ने चार लोगों पर हमला किया था, जिनके उपचार चंबा मेडिकल कॉलेज में चल रहे थे।]पिछले दो वर्षों में भालू ने छह पुरुषों और एक महिला पर हमला किया है। मंगलवार को सुबह के समय दो बार एक ही जगह घटनाएं होने से लोग सहम गए हैं।
गौरतलब है कि उस क्षेत्र में अक्सर सुबह-शाम के समय लोग चलने करने के लिए निकलते हैं लेकिन इस घटना के बाद लोग चलने इत्यादि के लिए अन्य रिहायशी क्षेत्रों की ओर जा रहे हैं। वहीं, दूसरी ओर पर्यटक भी कई बार इन घने जंगलों की ओर चले जाते हैं। इस तरह की घटनाओं के होने की पूरी संभावना बनी रहती है। स्थानीय अशोक कुमार, जगजीत सिंह, दीपक कुमार, नवीन बैरी, मुकेश कुमार, सतीश कुमार, पवन कुमार, तिलक शर्मा, विकेश कुमार, अश्वनी कुमार, प्रकाश चंद, मोहिंद्र सिंह आदि ने मांग की है कि इस क्षेत्र में सुरक्षा के प्रबंध किए जाएं। ।
वन विभाग के डीएफओ कमल भारतीयों ने भालू के बढ़ते हमलों को देखते हुए लोगों और भेड़ पालकों को जंगल की ओर न जाने का आह्वान किया गया है। बताया कि वन विभाग के कर्मचारी भी जंगलों में गश्त कर रहे हैं। इसके अलावा आर्मी कॉलोनी के समीप नोटिस बोर्ड लगाए जाएंगे। साथ ही खतरे वाले स्थानों में तारों की फेंसिंग करवाने के प्रयास किए जाएंगे।

बनीखेत (चंबा)। बनीखेत क्षेत्र में भालुओं के बढ़ते आतंक से लोगों में दहशत का माहौल है। क्षेत्र में पिछले दो वर्षों में भालू सात लोगों को घायल कर चुके हैं। इतनी संख्या में घटनाएं होने के बावजूद वन विभाग की ओर से लोगों की सुरक्षा को लेकर कोई प्रयास नहीं किए जा रहे हैं। इससे ग्रामीणों में रोश है। गत दिवस जहां घटना हुई, वह घना जंगल है।

यहाँ भालू अक्सर देखे जा सकते हैं। इसी जगह आर्मी कॉलोनी के साथ लगते जंगल में भालू ने चार लोगों पर हमला किया था, जिनके उपचार चंबा मेडिकल कॉलेज में चल रहे थे।]पिछले दो वर्षों में भालू ने छह पुरुषों और एक महिला पर हमला किया है। मंगलवार को सुबह के समय दो बार एक ही जगह घटनाएं होने से लोग सहम गए हैं।

गौरतलब है कि उस क्षेत्र में अक्सर सुबह-शाम के समय लोग पैदल चलने के लिए निकलते हैं लेकिन इस घटना के बाद लोग चलने इत्यादि के लिए अन्य रिहायशी क्षेत्रों की ओर जा रहे हैं। वहीं, दूसरी ओर पर्यटक भी कई बार इन घने जंगलों की ओर चले जाते हैं। इस तरह की घटनाओं के होने की पूरी संभावना बनी रहती है। स्थानीय अशोक कुमार, जगजीत सिंह, दीपक कुमार, नवीन बैरी, मुकेश कुमार, सतीश कुमार, पवन कुमार, तिलक शर्मा, विकेश कुमार, अश्वनी कुमार, प्रकाश चंद, मोहिंद्र सिंह आदि ने मांग की है कि इस क्षेत्र में सुरक्षा के प्रबंध किए जाएं। ।

वन विभाग के डीएफओ कमल भारतीयों ने भालू के बढ़ते हमलों को देखते हुए लोगों और भेड़ पालकों को जंगल की ओर न जाने का आह्वान किया गया है। बताया कि वन विभाग के कर्मचारी भी जंगलों में गश्त कर रहे हैं। इसके अलावा आर्मी कॉलोनी के समीप नोटिस बोर्ड लगाए जाएंगे। साथ ही खतरे वाले स्थानों में तारों की फेंसिंग करवाने के प्रयास किए जाएंगे।





Source link

चंबा न्यूज़ चंबा न्यूज़ टुडे चंबा न्यूज़ हिंदी में चम्बा का पाठ चम्बा न्यूज़

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts

Chamba News

रावी पर बना पुल और

रावी नदी पर क्षतिग्रसैट पुराना फुटब्रिज। नया पुल अभी निर्माणाधीन है।
– फोटो: चंबा

ख़बर सुनना

ख़बर सुनना

होली (चंबा)। Izeग्रां पंचायत को

Chamba News

सड़कों के निर्माण कार्य में देरी करने वाली कंपनी को विभाग ने ठोंकी एक करोड़ पैनल्टी दी

ख़बर सुनना

ख़बर सुनना

चंबा। कोविड का बहाना बनाकर सड़कों के निर्माण कार्य में लेटलतीफी करने वाली एक बाहरी कंपनी को लोक निर्माण