पति की मृत्यु के 69 साल बाद महिला को पेंशन मिलेगी

India


पारूली देवी भारत सरकार की पूर्व सैनिक पारिवारिक पेंशन स्कीम के तहत पेंशन पाने की पात्र हैं (सांकेतिक चित्र)

सात साल पूर्व सफलता होने के बाद से सामाजिक सेवा में लगे भंडारी ने बताया कि 14 जून, 1952 में पति की मौत के बाद से अपने मुसलमानों के साथ लुथुरा गांव में रहकर पारूली देवी के बारे में जब उन्हें पता चला तो वह खुद ही उनकी मदद करने से नहीं रोका गया।

पिथौरागढ। एक पूर्व फौजी की मौत के 69 साल बाद उनकी 81 वर्षीय पत्नी को पेंशन मिलने का मामला सामने आया है। पति के निधन के वक्त उनकी उम्र 12 साल थी। अस्सी से ज्यादा बसंत देख चुकें पूर्व फौजी की पत्नी के जीवन में अचानक पैसों की यह बरसात सामाजिक कार्यकर्ता डीएस भंडारी की वजह से हुई है जिन्होंने उनकी तकलीफों को देखने के बाद उनके लिए कुछ करने का फैसला किया। जब भंडारी को यह पता चला कि पारूली देवी के पति की मृत्यु सेवा में रहते हुए एक दुर्घटना में हुई थी और वह परिवार पेंशन पाने की हकदार हैं तो उन्होंने यह सुनिश्चित करने के लिए दिन रात एक कर दिया कि उन्हें इसका लाभ मिले।

सात साल पूर्व सफलता होने के बाद से सामाजिक सेवा में लगे भंडारी ने बताया कि 14 जून, 1952 में पति की मौत के बाद से अपने मुसलमानों के साथ लुथुरा गांव में रहकर पारूली देवी के बारे में जब उन्हें पता चला तो वह खुद ही उनकी मदद करने से नहीं रोका गया। उन्होंने बताया कि देवी के पति गगन सिंह की दुर्घटना में तब मृत्यु हो गई थी जब वह अलवर से थे।

ये भी पढ़ें- सऊदी की नसीहत से गुसासाया भारत! कच्छे का तेल च्‍ 35% कम करने की तैयारी में

पेंशन पाने की पात्र हैं पारूली देवीभंडारी ने बताया कि योग्यता करने पर पता चला कि पारूली देवी भारत सरकार की पूर्व सैनिक पारिवारिक पेंशन स्कीम के तहत पेंशन पाने की हकदार हैं।

उन्होंने बताया कि रक्षा सेवाओं के मुख्य नियंत्रक और महालेखा गेंदों के प्रयागराज कार्यालय ने आखिरकार उनकी पेंशन सितंबर 1977 से स्वीकृत कर दी जिसके बाद पारूली देवी को कुल 20 लाख रुपये मिलेंगे।

इस बारे में संपर्क करने पर पारूली देवी ने कहा, ” मुझे पैसे की जरूरत नहीं है, लेकिन सरकार ने मेरे पति और मुझे पहचान दी। यह मेरे लिए बहुत ही संतोष की बात है। ”
(डिस्क्लेमर: यह खबर सही सिंडीकेट ट्वीट से पब्लिश हुई है। इसे News18Hindi की टीम ने साझा नहीं किया है।)








Source link

उत्तराखंड पेंशनरों

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts

India

भारत में बेकाबू कोरोना पर यूएई का बड़ा फैसला, भारतीय यात्रियों पर 10 दिन की रोक

यूएई ने भारतीय यात्रियों को 10 दिन के लिए प्रतिबंध लगा दिया है। (प्रतीकात्मेक तस्वीर) यूएई भारत से सभी उड़ानों पर प्रतिबंध लगाने के लिए: भारत में महामारी की चाल को देखता है संज्ञा अरब अमीरात ने भारतीय यात्रियों को 10 दिन के लिए प्रतिबंध लगा दिया है। नई दिलवाली देश में कोरोना महामारी का

India

कोरोना टीकाकरण: केंद्र ने सरकारी कर्मचारियों से की वैक्सीन लगवाने की अपील की

1 मई से वैक्सीन प्रोग्राम का नया चरण शुरू होने जा रहा है। (सांकेतिक फोटो) कोरोना टीकाकरण: सभी केंद्रीय सरकारी विभागों को जारी आदेश में कहा गया, ” केंद्र सरकार के सभी कर्मचारियों को टीकाकरण प्रदान करने की सलाह दी जाती है ताकि कोरोनावायरस संक्रमण के प्रसार की प्रभावी रोकथाम की जा सके। टीकाकरण के

India

वैक्सीन की पहले डोज के बाद ही हो गया कोरोना, जानें कबनी होगी दूसरी डोज

1 मई से वैक्सीन प्रोग्राम का नया चरण शुरू होने जा रहा है। (सांकेतिक फोटो) एक्सपर्ट का कहना है कि कोरोनाटिक ठहरने के दौरान आपको वैक्सीनेशन (कोरोना टीकाकरण) नहीं करवाना है। जैसे ही आइसोलेशन या क्वारंटाइन पीरियड खत्म हो वैक्सीन का दूसरा डोज लिया जा सकता है। नई दिल्ली। केंद्र सरकार अब वैक्सीनेशन (कोरोना टीकाकरण)

India

यात्री ध्यान दें! अब सिर्फ सरकारी और मेडिकल स्टाफ मेंबर ही कर सकते हैं मुंबई लोकल में सफर

कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए मुंबई में कई तरह की पाबंदियां लगाने का फैसला लिया गया है। (सांकेतिक चित्र) मुंबई लोकल ट्रेनें: मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी शिवाजी सुतार ने बताया कि सरकार के नियमों के मुताबिक आज रात 8:00 बजे के बाद से लोकल ट्रेनों में सिर्फ अत्यावश्यक सेवाओं से जुड़े