निकाय चुनाव पर नजर, 18 रिहायशी सोसायटियों में ओपन एयर जिम लगाएगा मोहाली निगम 

Published by Razak Mohammad on

अमित शर्मा, अमर उजाला, मोहाली (पंजाब)
Updated Sat, 09 Jan 2021 02:17 PM IST

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

पंजाब के मोहाली में रिहायशी सोसायटियों में ओपन जिम लगाए जाएंगे। मोहाली नगर निगम चुनाव के बहाने शहर में कई साल पहले बसी रिहायशी सोसायटियों की सूरत बदलेगा। नगर निगम की ओर से करवाए जाने वाले विकास का पहिया सोसायटियों में भी घूमने का रास्ता साफ हो गया है। 

अब लोगों को घरों के नजदीक सैर करने के लिए आकर्षक पेवर ब्लॉक लगाए जाएंगे और उनकी फिटनेस के लिए बाकायदा ओपन एयर जिम स्थापित किए जाएंगे। नगर निगम ने अठारह सोसायटियों में ओपन एयर जिम स्थापित करने का फैसला लिया है। यह पूरा काम एक निजी कंपनी के माध्यम से करवाया जाएगा। इसी महीने के आखिर में कंपनी को काम अलॉट कर दिया जाएगा। तीन महीने में सभी जिम लगकर तैयार हो जाएंगे। 

यह भी पढ़ें – अब व्यावसायिक संपत्ति के लिए एनओसी की जरूरत नहीं, रजिस्ट्री के लिए नहीं काटने पड़ेंगे चक्कर 

इलाके के विधायक एवं सेहत मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू ने कहा कि सभी रिहायशी सोसायटियों में विकास कार्य करवाए जा रहे हैं। लोगों को किसी भी प्रकार की दिक्कत नहीं उठानी पड़ेगी। जानकारी के मुताबिक मोहाली शहर में 18 से 20 के करीब रिहायशी सोसायटियां हैं जिन्हें बसे हुए करीब 20 साल हो गए हैं। इनसे नगर निगम हमेशा से प्रॉपर्टी टैक्स और अन्य कर वसूल रहा है। लेकिन अभी तक इन सोसायटियों में विकास कार्य नहीं होता है। 

इन सोसायटियों में करीब 30 से 50 हजार लोग रहते हैं जो नगर निगम चुनाव में हिस्सा भी लेते थे लेकिन उन्हें निगम की सुविधाएं नहीं मिल पाती थी। इस मामले को हाउस की बैठक में अकाली भाजपा पार्षदों ने जमकर उठाया था। वहीं, मेयर कुलवंत सिंह के समय इन सोसायटियों में काम करवाने संबंधी प्रस्ताव तक पास किए गए थे। लेकिन काफी समय से यह काम अधर में लटका हुआ था। 

यह भी पढ़ें – पंजाब में 20 फरवरी तक हो सकते हैं निगम और निकाय चुनाव, 13 फरवरी तक पूरी होगी चुनाव प्रक्रिया  

अब पंजाब में जल्द ही निगम चुनाव होने वाले हैं। ऐसे में इन सोसायटियों में काम करवाने की रणनीति बनी है। इस संबंधी बाकायदा प्रस्ताव पास किए गए हैं। इसके साथ ही टेंडर आदि की प्रक्रिया पूरी की जा रही है। अधिकारियों का कहना है कि इस दौरान काम की क्वालिटी पर पूरा फोकस रहेगा और अधिकारियों को हिदायत दी गई कि किसी भी तरह से काम में कोताही नहीं होनी चाहिए वरना अधिकारियों पर ही कार्रवाई की जाएगी।

हर जिम पर खर्च होंगे 12.3 लाख रुपये
जानकारी के मुताबिक नगर निगम की ओर से शहरी एरिया में स्थित सभी रिहायशी सोसायटियों को इस प्रोजेक्ट के तहत कवर करने की कोशिश की है। प्रत्येक जिम पर करीब 12.3 लाख रुपये की लागत आएगी। कंपनी की ओर से आकर्षक प्लेटफार्म बनाया जाएगा। वहीं, कंपनी इनकी मेंटेनेंस और अन्य काम भी देखेगी।  

पायलट प्रोजेक्ट रहा कामयाब
जानकारी के मुताबिक नगर निगम ने पायलट प्रोजेक्ट के रूप में पहले पूरे शहर के 50 वार्डों में एक-एक ओपन एयर जिम स्थापित किया था। जिसका काफी शानदार रिस्पांस मिला है। इस जिम को बच्चे से लेकर बुजुर्ग तक आसानी से इस्तेमाल कर सकते हैं। इतना ही नहीं इसमें किसी तरह के ट्रेनर की आवश्यकता नहीं होती। वहीं, महिलाओं और कामकाजी लोगों के लिए काफी फायदेमंद साबित होते हैं।

पंजाब के मोहाली में रिहायशी सोसायटियों में ओपन जिम लगाए जाएंगे। मोहाली नगर निगम चुनाव के बहाने शहर में कई साल पहले बसी रिहायशी सोसायटियों की सूरत बदलेगा। नगर निगम की ओर से करवाए जाने वाले विकास का पहिया सोसायटियों में भी घूमने का रास्ता साफ हो गया है। 

अब लोगों को घरों के नजदीक सैर करने के लिए आकर्षक पेवर ब्लॉक लगाए जाएंगे और उनकी फिटनेस के लिए बाकायदा ओपन एयर जिम स्थापित किए जाएंगे। नगर निगम ने अठारह सोसायटियों में ओपन एयर जिम स्थापित करने का फैसला लिया है। यह पूरा काम एक निजी कंपनी के माध्यम से करवाया जाएगा। इसी महीने के आखिर में कंपनी को काम अलॉट कर दिया जाएगा। तीन महीने में सभी जिम लगकर तैयार हो जाएंगे। 

यह भी पढ़ें – अब व्यावसायिक संपत्ति के लिए एनओसी की जरूरत नहीं, रजिस्ट्री के लिए नहीं काटने पड़ेंगे चक्कर 

इलाके के विधायक एवं सेहत मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू ने कहा कि सभी रिहायशी सोसायटियों में विकास कार्य करवाए जा रहे हैं। लोगों को किसी भी प्रकार की दिक्कत नहीं उठानी पड़ेगी। जानकारी के मुताबिक मोहाली शहर में 18 से 20 के करीब रिहायशी सोसायटियां हैं जिन्हें बसे हुए करीब 20 साल हो गए हैं। इनसे नगर निगम हमेशा से प्रॉपर्टी टैक्स और अन्य कर वसूल रहा है। लेकिन अभी तक इन सोसायटियों में विकास कार्य नहीं होता है। 

इन सोसायटियों में करीब 30 से 50 हजार लोग रहते हैं जो नगर निगम चुनाव में हिस्सा भी लेते थे लेकिन उन्हें निगम की सुविधाएं नहीं मिल पाती थी। इस मामले को हाउस की बैठक में अकाली भाजपा पार्षदों ने जमकर उठाया था। वहीं, मेयर कुलवंत सिंह के समय इन सोसायटियों में काम करवाने संबंधी प्रस्ताव तक पास किए गए थे। लेकिन काफी समय से यह काम अधर में लटका हुआ था। 

यह भी पढ़ें – पंजाब में 20 फरवरी तक हो सकते हैं निगम और निकाय चुनाव, 13 फरवरी तक पूरी होगी चुनाव प्रक्रिया  

अब पंजाब में जल्द ही निगम चुनाव होने वाले हैं। ऐसे में इन सोसायटियों में काम करवाने की रणनीति बनी है। इस संबंधी बाकायदा प्रस्ताव पास किए गए हैं। इसके साथ ही टेंडर आदि की प्रक्रिया पूरी की जा रही है। अधिकारियों का कहना है कि इस दौरान काम की क्वालिटी पर पूरा फोकस रहेगा और अधिकारियों को हिदायत दी गई कि किसी भी तरह से काम में कोताही नहीं होनी चाहिए वरना अधिकारियों पर ही कार्रवाई की जाएगी।

हर जिम पर खर्च होंगे 12.3 लाख रुपये

जानकारी के मुताबिक नगर निगम की ओर से शहरी एरिया में स्थित सभी रिहायशी सोसायटियों को इस प्रोजेक्ट के तहत कवर करने की कोशिश की है। प्रत्येक जिम पर करीब 12.3 लाख रुपये की लागत आएगी। कंपनी की ओर से आकर्षक प्लेटफार्म बनाया जाएगा। वहीं, कंपनी इनकी मेंटेनेंस और अन्य काम भी देखेगी।  

पायलट प्रोजेक्ट रहा कामयाब

जानकारी के मुताबिक नगर निगम ने पायलट प्रोजेक्ट के रूप में पहले पूरे शहर के 50 वार्डों में एक-एक ओपन एयर जिम स्थापित किया था। जिसका काफी शानदार रिस्पांस मिला है। इस जिम को बच्चे से लेकर बुजुर्ग तक आसानी से इस्तेमाल कर सकते हैं। इतना ही नहीं इसमें किसी तरह के ट्रेनर की आवश्यकता नहीं होती। वहीं, महिलाओं और कामकाजी लोगों के लिए काफी फायदेमंद साबित होते हैं।

Source link

Categories: Punjab

0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *