दिल्ली में बर्ड फ्लू की आशंका, मयूर विहार के सेंट्रल पार्क में एक हफ्ते में दफनाए 200 कौवे

Published by Razak Mohammad on

दिल्ली में बर्ड फ्लू की आशंका, मयूर विहार सेंट्रल पार्क में मर रहे कौवे
– फोटो : अमर उजाला

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

दिल्ली के मयूर विहार के सेंट्रल पार्क में कई कौवों की मौत के बाद माना जा रहा है कि दिल्ली में बर्ड फ्लू ने दस्तक दे दी है। हालांकि मौतों के कारण को लेकर अभी पुष्टि नहीं हुई है।

मयूर विहार फेज-3 स्थित सेंट्रल पार्क में बीते एक सप्ताह में सैकड़ों कौवे बीमार हो चुके हैं। इस दौरान करीब 200 कौवों को दफनाया जा चुका है। एहतियात के तौर पर पार्क में लोगों का प्रवेश बंद हो चुका है।

गौरतलब है कि दिल्ली में सभी एजेंसियां बर्ड फ्लू को लेकर हाई अलर्ट पर हैं। इस पर नजर रखने के लिए रैपिड रिस्पांस टीमें बनाई गई हैं। यह नमूनों का संग्रह कर रही हैं। अभी तक 100 से ज्यादा नमूने जांच के लिए भेजे गए हैं।

वहीं, दिल्ली के 48 वेटनरी हॉस्पिटल के डॉक्टरों की टीम पक्षियों के व्यवहार में आने वाले बदलाव पर नजर रखे हुए हैं। दिल्ली के सभी जलाशयों व पक्षी विहारों के आसपास भी निगरानी बढ़ा दी गई है। इसी कड़ी में उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने भी दिल्ली सचिवालय में गुरुवार को उच्च स्तरीय बैठक की। इसमें सभी संबंधित अधिकारियों को सघन निगरानी के निर्देश दिए गए हैं।

इससे पहले दिल्ली में बर्ड फ्लू को लेकर हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है। दिल्ली सरकार के पशुपालन व विकास विभाग के सभी 48 वेटनरी हॉस्पिटल के चिकित्सक लगातार लगातार राज्य भर में बर्ड फ्लू की निगरानी कर रहे हैं। वहीं, 11 रैपिड रिस्पांस टीमों का गठन किया गया है, जो नियमित तौर पर नमूनों का संग्रह कर रही हैं। अभी तक 100 से ज्यादा नमूने जुटाकर पंजाब के जालंधर की लैब में जांच के लिए भेज दिए गए हैं। सोमवार तक नतीजे आने की संभावना है। इसके बाद सरकार जरूरत के हिसाब से उपयुक्त कदम उठाएगी।

दूसरी तरफ दिल्ली के सभी बड़े जलाशयों व पक्षी विहारों पर भी नजर रखी जा रही है। यहां पक्षियों के व्यवहार में आए किसी बदलाव की जांच की जा रही है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि 4 जनवरी को दिल्ली के सभी वेटनरी डॉक्टरों को निर्देश दिया गया है कि वह नमूनों का संग्रह करने के साथ अपने निगरानी तंत्र को सक्रिय बनाए रखें।

इन जगहों पर खास नजर
गाजीपुर फिश एंड पॉल्ट्री मार्केट, शक्ति स्थल झील, संजय झील, भलस्वा झील, नजफगढ़ झील समेत दूसरे बड़े जलाशय, दिल्ली चिड़ियाघर व डीडीए के सभी पार्क।

तैयार की जाए गाइडलाइंस
बैठक में मनीष सिसोदिया ने निर्देश दिया कि बर्ड फ्लू के दौरान मंडी वालों के लिए क्या करें और क्या न करें की तत्काल गाइडलाइंस बनाई जाएं। साथ ही उन्होंने बड़े पैमाने पर नमूनों का संग्रह करने को कहा है। सिसोदिया ने सभी संबंधित एजेंसियों को सघन निगरानी का निर्देश दिया है।

दिल्ली के मयूर विहार के सेंट्रल पार्क में कई कौवों की मौत के बाद माना जा रहा है कि दिल्ली में बर्ड फ्लू ने दस्तक दे दी है। हालांकि मौतों के कारण को लेकर अभी पुष्टि नहीं हुई है।

मयूर विहार फेज-3 स्थित सेंट्रल पार्क में बीते एक सप्ताह में सैकड़ों कौवे बीमार हो चुके हैं। इस दौरान करीब 200 कौवों को दफनाया जा चुका है। एहतियात के तौर पर पार्क में लोगों का प्रवेश बंद हो चुका है।

गौरतलब है कि दिल्ली में सभी एजेंसियां बर्ड फ्लू को लेकर हाई अलर्ट पर हैं। इस पर नजर रखने के लिए रैपिड रिस्पांस टीमें बनाई गई हैं। यह नमूनों का संग्रह कर रही हैं। अभी तक 100 से ज्यादा नमूने जांच के लिए भेजे गए हैं।

वहीं, दिल्ली के 48 वेटनरी हॉस्पिटल के डॉक्टरों की टीम पक्षियों के व्यवहार में आने वाले बदलाव पर नजर रखे हुए हैं। दिल्ली के सभी जलाशयों व पक्षी विहारों के आसपास भी निगरानी बढ़ा दी गई है। इसी कड़ी में उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने भी दिल्ली सचिवालय में गुरुवार को उच्च स्तरीय बैठक की। इसमें सभी संबंधित अधिकारियों को सघन निगरानी के निर्देश दिए गए हैं।

इससे पहले दिल्ली में बर्ड फ्लू को लेकर हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है। दिल्ली सरकार के पशुपालन व विकास विभाग के सभी 48 वेटनरी हॉस्पिटल के चिकित्सक लगातार लगातार राज्य भर में बर्ड फ्लू की निगरानी कर रहे हैं। वहीं, 11 रैपिड रिस्पांस टीमों का गठन किया गया है, जो नियमित तौर पर नमूनों का संग्रह कर रही हैं। अभी तक 100 से ज्यादा नमूने जुटाकर पंजाब के जालंधर की लैब में जांच के लिए भेज दिए गए हैं। सोमवार तक नतीजे आने की संभावना है। इसके बाद सरकार जरूरत के हिसाब से उपयुक्त कदम उठाएगी।

दूसरी तरफ दिल्ली के सभी बड़े जलाशयों व पक्षी विहारों पर भी नजर रखी जा रही है। यहां पक्षियों के व्यवहार में आए किसी बदलाव की जांच की जा रही है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि 4 जनवरी को दिल्ली के सभी वेटनरी डॉक्टरों को निर्देश दिया गया है कि वह नमूनों का संग्रह करने के साथ अपने निगरानी तंत्र को सक्रिय बनाए रखें।

इन जगहों पर खास नजर

गाजीपुर फिश एंड पॉल्ट्री मार्केट, शक्ति स्थल झील, संजय झील, भलस्वा झील, नजफगढ़ झील समेत दूसरे बड़े जलाशय, दिल्ली चिड़ियाघर व डीडीए के सभी पार्क।

तैयार की जाए गाइडलाइंस

बैठक में मनीष सिसोदिया ने निर्देश दिया कि बर्ड फ्लू के दौरान मंडी वालों के लिए क्या करें और क्या न करें की तत्काल गाइडलाइंस बनाई जाएं। साथ ही उन्होंने बड़े पैमाने पर नमूनों का संग्रह करने को कहा है। सिसोदिया ने सभी संबंधित एजेंसियों को सघन निगरानी का निर्देश दिया है।

[ad_2]

Source link


0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *