दिल्ली में कोरोना वायरस के 2084 नए मामले, 57 लोगों की मौत, कुल संक्रमितों की संख्या 85 हजार के पार 

Published by Razak Mohammad on

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Updated Mon, 29 Jun 2020 09:57 PM IST

दिल्ली में कोरोना वायरस
– फोटो : PTI

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर Free में
कहीं भी, कभी भी।

70 वर्षों से करोड़ों पाठकों की पसंद

ख़बर सुनें

दिल्ली में सोमवार को कोरोना वायरस के 2084 नए मामले सामने आए हैं। जबकि 57 लोगों की मौत हो गई है। इसी के साथ कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 85161 हो गई है। राजधानी में सोमवार को 3628 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया है। दिल्ली में अब तक 56235 लोग स्वस्थ हो चुके हैं। कोरोना वायरस से राजधानी में अब तक 2680 लोगों की मौत हो चुकी है। दिल्ली में अभी 26246 सक्रिय मामले हैं। 
 

गृह मंत्रालय ने लिया डोर-टू-डोर स्क्रीनिंग रोकने का फैसला
केंद्रीय गृह मंत्रालय ने दिल्ली के सभी इलाकों में कोरोना वायरस की डोर-टू-डोर स्क्रीनिंग को रोकने का फैसला किया है ताकि इसे प्राथमिकता से कंटेनमेंट जोन में किया जा सके। दिल्ली सरकार ने केंद्र के निर्देशों पर 6 जुलाई तक 35 लाख से अधिक घरों की डोर-टू-डोर स्क्रीनिंग करने का निर्देश दिया था।

गृह मंत्रालय के अधिकारियों ने जानकारी दी है कि डोर-टू-डोर स्क्रीनिंग प्राथमिकता के आधार पहले कंटेनमेंट जोन में की जाएगी। यह प्रक्रिया 6 जुलाई तक पूरी की जाएगी, पहले इसे 30 जून तक पूरा किया जाना था। कंटेनमेंट जोन की संख्या बढ़कर 435 हो जाने की वजह से स्क्रीनिंग की अवधि को आगे बढ़ाया गया है। इसके बाद पूरी दिल्ली में डोर-टू-डोर स्क्रीनिंग की जाएगी।  

दिल्ली में सोमवार को कोरोना वायरस के 2084 नए मामले सामने आए हैं। जबकि 57 लोगों की मौत हो गई है। इसी के साथ कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 85161 हो गई है। राजधानी में सोमवार को 3628 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया है। दिल्ली में अब तक 56235 लोग स्वस्थ हो चुके हैं। कोरोना वायरस से राजधानी में अब तक 2680 लोगों की मौत हो चुकी है। दिल्ली में अभी 26246 सक्रिय मामले हैं। 

 

गृह मंत्रालय ने लिया डोर-टू-डोर स्क्रीनिंग रोकने का फैसला

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने दिल्ली के सभी इलाकों में कोरोना वायरस की डोर-टू-डोर स्क्रीनिंग को रोकने का फैसला किया है ताकि इसे प्राथमिकता से कंटेनमेंट जोन में किया जा सके। दिल्ली सरकार ने केंद्र के निर्देशों पर 6 जुलाई तक 35 लाख से अधिक घरों की डोर-टू-डोर स्क्रीनिंग करने का निर्देश दिया था।

गृह मंत्रालय के अधिकारियों ने जानकारी दी है कि डोर-टू-डोर स्क्रीनिंग प्राथमिकता के आधार पहले कंटेनमेंट जोन में की जाएगी। यह प्रक्रिया 6 जुलाई तक पूरी की जाएगी, पहले इसे 30 जून तक पूरा किया जाना था। कंटेनमेंट जोन की संख्या बढ़कर 435 हो जाने की वजह से स्क्रीनिंग की अवधि को आगे बढ़ाया गया है। इसके बाद पूरी दिल्ली में डोर-टू-डोर स्क्रीनिंग की जाएगी।  





Source link


0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *