जेडीयू से विवाद पर रामविलास ने अस्पताल से किया ट्वीट- चिराग के हर फैसले के साथ

Published by Razak Mohammad on


रामविलास पासवान (फाइल फोटो)
– फोटो : PTI

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹365 & To get 20% off, use code: 20OFF

ख़बर सुनें

केंद्रीय खाद्य मंत्री और लोजपा नेता रामविलास पासवान तबीयत खराब होने के बाद शुक्रवार को दिल्ली के अस्पताल में भर्ती हुए हैं। उन्होंने ट्वीट के जरिए अपने स्वास्थ्य की जानकारी दी है।

भावनात्मक ट्वीट करते हुए रामविलास पासवान ने लिखा कि ‘कोरोना संकट के समय खाद्य मंत्री के रूप में निरंतर अपनी सेवा देश को दी और हर संभव प्रयास किया कि सभी जगह खाद्य सामग्री समय पर पहुंच सके। इसी दौरान तबीयत खराब होने लगी, लेकिन काम में कोई ढिलाई ना हो इस वजह से अस्पताल नहीं गया।’
 

 

इसके बाद उन्होंने अन्य ट्वीट में कहा कि ‘मेरी खराब तबीयत का एहसास जब चिराग को हुआ तो उसके कहने पर मैं अस्पताल गया और अपना इलाज करवाने लगा। मुझे खुशी है कि इस समय मेरा बेटा चिराग मेरे साथ है और मेरी हर संभव सेवा कर रहा है। मेरा ख्याल रखने के साथ-साथ पार्टी के प्रति भी अपनी जिम्मेदारियों को बखूबी निभा रहा है।’

‘मुझे विश्वास है कि अपनी युवा सोच से चिराग पार्टी व बिहार को नई ऊंचाइयों तक ले जाएगा। चिराग के हर फैसले के साथ मैं मजबूती से खड़ा हूं। मुझे आशा है कि मैं पूर्ण स्वस्थ होकर जल्द ही अपनों के बीच आऊंगा।’

 

 

रामविलास पासवान के इस ट्वीट के सियासी मायने भी निकाले जा रहे हैं। इस समय बिहार में विधानसभा चुनाव को लेकर राजनीतिक सरगर्मी तेज है। एलजेपी और जेडीयू के बीच की कड़वाहट खुलकर सामने आ रही है। सियासी गलियारों में चर्चा यह भी है कि चिराग पासवान कोई बड़ा फैसला ले सकते हैं। ऐसे में रामविलास पासवान का यह ट्वीट जिसमें उन्होंने कहा है कि ‘चिराग के हर फैसले के साथ मैं मजबूती से खड़ा हूं’ काफी मायने रखता है।

भाजपा अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा शुक्रवार से दो दिनों के बिहार दौरे पर रहेंगे। इस दौरान उनकी राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से आगामी विधानसभा चुनाव के सिलसिले में मुलाकात हो सकती है। बिहार में अक्तूबर-नवंबर महीने में विधानसभा के चुनाव हो सकते हैं और इसके लिए राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) नीतीश कुमार के नेतृत्व में चुनाव में उतरने के लिए कमर कस चुका है।

भाजपा मीडिया प्रकोष्ठ के सह-संयोजक संजय मयूख ने एक बयान में कहा कि ‘इस दौरे में नड्डा प्रदेश भाजपा के नेताओं के साथ कई बैठकें करेंगे। वह प्रदेश भाजपा कोर कमिटी की बैठक को भी संबोधित करेंगे।’

यह पूछे जाने पर कि क्या इस दौरान नड्डा नीतीश कुमार से भी मुलाकात करेंगे, पार्टी के एक नेता ने कहा कि इसकी संभावना है। नड्डा के साथ पार्टी महासचिव और बिहार के प्रभारी भूपेंद्र यादव भी राज्य के दौरे पर रहेंगे।

बिहार में भाजपा और जेडीयू के अलावा एनडीए का तीसरा घटक दल चिराग पासवान के नेतृत्व वाला लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) है। लोजपा और जेडीयू के बीच संबंधों में पिछले कुछ महीनों से तनातनी चल रही है।

नड्डा शुक्रवार शाम पांच बजे पटना पहुंचेंगे। प्रदेश भाजपा कार्यालय में वह चुनाव संचालन समिति की बैठक लेंगे और पदाधिकारियों को संबोधित भी करेंगे।

अगले दिन शनिवार को वह प्रदेश भाजपा कार्यालय से ‘आत्मनिर्भर बिहार’ अभियान का शुभारंभ करेंगे और ‘आत्मनिर्भर रथ’ को हरी झंडी दिखा कर रवाना करेंगे। नड्डा दरभंगा में मखाना अनुसंधान केंद्र पर मखाना उत्पादक एवं मछली उत्पादकों के साथ बैठक करेंगे एवं उनके साथ विचार विमर्श करेंगे। इसके अलावा मुजफ्फरपुर के पद्मश्री किसान चाची के गांव इब्राहिमपुर (सरैया के निकट) भी जाएंगे, वहां लीची कृषक एवं महिला किसानों के साथ बैठक करेंगे।

केंद्रीय खाद्य मंत्री और लोजपा नेता रामविलास पासवान तबीयत खराब होने के बाद शुक्रवार को दिल्ली के अस्पताल में भर्ती हुए हैं। उन्होंने ट्वीट के जरिए अपने स्वास्थ्य की जानकारी दी है।

भावनात्मक ट्वीट करते हुए रामविलास पासवान ने लिखा कि ‘कोरोना संकट के समय खाद्य मंत्री के रूप में निरंतर अपनी सेवा देश को दी और हर संभव प्रयास किया कि सभी जगह खाद्य सामग्री समय पर पहुंच सके। इसी दौरान तबीयत खराब होने लगी, लेकिन काम में कोई ढिलाई ना हो इस वजह से अस्पताल नहीं गया।’

 

 

इसके बाद उन्होंने अन्य ट्वीट में कहा कि ‘मेरी खराब तबीयत का एहसास जब चिराग को हुआ तो उसके कहने पर मैं अस्पताल गया और अपना इलाज करवाने लगा। मुझे खुशी है कि इस समय मेरा बेटा चिराग मेरे साथ है और मेरी हर संभव सेवा कर रहा है। मेरा ख्याल रखने के साथ-साथ पार्टी के प्रति भी अपनी जिम्मेदारियों को बखूबी निभा रहा है।’

‘मुझे विश्वास है कि अपनी युवा सोच से चिराग पार्टी व बिहार को नई ऊंचाइयों तक ले जाएगा। चिराग के हर फैसले के साथ मैं मजबूती से खड़ा हूं। मुझे आशा है कि मैं पूर्ण स्वस्थ होकर जल्द ही अपनों के बीच आऊंगा।’

 

 

रामविलास पासवान के इस ट्वीट के सियासी मायने भी निकाले जा रहे हैं। इस समय बिहार में विधानसभा चुनाव को लेकर राजनीतिक सरगर्मी तेज है। एलजेपी और जेडीयू के बीच की कड़वाहट खुलकर सामने आ रही है। सियासी गलियारों में चर्चा यह भी है कि चिराग पासवान कोई बड़ा फैसला ले सकते हैं। ऐसे में रामविलास पासवान का यह ट्वीट जिसमें उन्होंने कहा है कि ‘चिराग के हर फैसले के साथ मैं मजबूती से खड़ा हूं’ काफी मायने रखता है।


आगे पढ़ें

जेपी नड्डा शुक्रवार से दो दिनों के बिहार दौरे पर





Source link