छत्तीसगढ़ नक्सली हमला: राहुल गांधी ने कहा, जवानों को शहीद होने के लिए नहीं छोड़ा जा सकता है

India


छत्तीसगढ़ के बीजापुर और सुकमा जिले की सीमा पर शनिवार को सुरक्षा बलों और नक्सलियों के बीच हुई मुठभेड़ में सुरक्षा बल के 22 जवान शहीद हो गए। (रायटर / ४ अप्रैल २०२१)

छत्तीसगढ़ माओवादी हमला: छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बीजापुर और सुकमा जिले की सीमा पर शनिवार को सुरक्षा बलों और नक्सलियों के बीच हुई मुठभेड़ में सुरक्षा बल के 22 जवान शहीद हो गए हैं।

नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार को आरोप लगाया कि छत्तीसगढ़ में नक्सल विरोधी अभियान की सही तरीके से तैयारी नहीं की गई और इसका क्रियान्वयन भी ‘अयोग्यतापूर्वक’ किया गया। उन्होंने यह भी कहा कि ‘हमारे जवानों को जब चाहे तब शहीद होने के लिए नहीं छोड़ा जा सकता है।’

गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बीजापुर और सुकमा जिले की सीमा पर शनिवार को सुरक्षा बलों और नक्सलियों के बीच हुई मुठभेड़ में सुरक्षा बल के 22 जवान शहीद हो गए हैं और 31 अन्य जवान घायल हुए हैं।

राहुल गांधी ने सीआरपीएफ के महानिदेश कुलदीप सिंह के एक बयान से जुड़ी खबर का हवाला देते हुए कहा, ” अगर खुफिया नोडामी नहीं थी तो फिर 1: 1 के अनुपात में मौत का मतलब यह है कि इस अभियान की योजना को खराब तरीके से तैयार करें। किया गया और सर्वसम्मति से इसका कार्यान्वयन किया गया। ”

यूट्यूब वीडियो

अधिकारियों ने बताया कि इस मुठभेड़ में शहीद हुए 22 जवानों में सीआरपीएफ के आठ जवान शामिल हैं, जिसमें से कोबरांडरो से, जबकि एक जवान बस्तरिया बटालियन से है। शेष डीआरजी और विशेष कार्यबल के युवा हैं। उन्होंने कहा कि सीआरपीएफ के एक इंस्पेक्टर अब भी लापता हैं।








Source link

छत्तीसगढ़ एंटी नक्सल ऑपरेशन छत्तीसगढ़ नक्सली हमला छत्तीसगढ़ माओवादी हमला राहुल गांधी न्यूज़ राहुल गांधी ब्रेकिंग न्यूज़ राहुल गांधी लेटेस्ट न्यूज़

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts

India

भारत में बेकाबू कोरोना पर यूएई का बड़ा फैसला, भारतीय यात्रियों पर 10 दिन की रोक

यूएई ने भारतीय यात्रियों को 10 दिन के लिए प्रतिबंध लगा दिया है। (प्रतीकात्मेक तस्वीर) यूएई भारत से सभी उड़ानों पर प्रतिबंध लगाने के लिए: भारत में महामारी की चाल को देखता है संज्ञा अरब अमीरात ने भारतीय यात्रियों को 10 दिन के लिए प्रतिबंध लगा दिया है। नई दिलवाली देश में कोरोना महामारी का

India

कोरोना टीकाकरण: केंद्र ने सरकारी कर्मचारियों से की वैक्सीन लगवाने की अपील की

1 मई से वैक्सीन प्रोग्राम का नया चरण शुरू होने जा रहा है। (सांकेतिक फोटो) कोरोना टीकाकरण: सभी केंद्रीय सरकारी विभागों को जारी आदेश में कहा गया, ” केंद्र सरकार के सभी कर्मचारियों को टीकाकरण प्रदान करने की सलाह दी जाती है ताकि कोरोनावायरस संक्रमण के प्रसार की प्रभावी रोकथाम की जा सके। टीकाकरण के

India

वैक्सीन की पहले डोज के बाद ही हो गया कोरोना, जानें कबनी होगी दूसरी डोज

1 मई से वैक्सीन प्रोग्राम का नया चरण शुरू होने जा रहा है। (सांकेतिक फोटो) एक्सपर्ट का कहना है कि कोरोनाटिक ठहरने के दौरान आपको वैक्सीनेशन (कोरोना टीकाकरण) नहीं करवाना है। जैसे ही आइसोलेशन या क्वारंटाइन पीरियड खत्म हो वैक्सीन का दूसरा डोज लिया जा सकता है। नई दिल्ली। केंद्र सरकार अब वैक्सीनेशन (कोरोना टीकाकरण)

India

यात्री ध्यान दें! अब सिर्फ सरकारी और मेडिकल स्टाफ मेंबर ही कर सकते हैं मुंबई लोकल में सफर

कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए मुंबई में कई तरह की पाबंदियां लगाने का फैसला लिया गया है। (सांकेतिक चित्र) मुंबई लोकल ट्रेनें: मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी शिवाजी सुतार ने बताया कि सरकार के नियमों के मुताबिक आज रात 8:00 बजे के बाद से लोकल ट्रेनों में सिर्फ अत्यावश्यक सेवाओं से जुड़े