चंडीगढ़: सबके लिए खुले पीजीआई के द्वार, सभी प्रदेशों के मरीजों का होगा इलाज

Published by Razak Mohammad on

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, चंडीगढ़

Updated Thu, 17 Sep 2020 12:33 AM IST

पीजीआई चंडीगढ़।
– फोटो : फाइल फोटो

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर


कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹365 & To get 20% off, use code: 20OFF

ख़बर सुनें

कोरोना काल में भी चंडीगढ़ पीजीआई के दरवाजे सभी प्रदेशों के मरीजों के लिए खुले हैं। संक्रमण से बचाव को देखते हुए पीजीआई की ओपीडी फिलहाल बंद चल रही है। टेली कंसल्टेशन सर्विस में चंडीगढ़ के साथ पंजाब, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, जम्मू कश्मीर और अन्य प्रदेशों के मरीजों को परामर्श दिया जा रहा है। वहीं, ट्रॉमा सेंटर और इमरजेंसी में आने वाले सभी प्रदेशों के रेफर मरीजों की कोरोना जांच कर उनका इलाज किया जा रहा है।

पीजीआई प्रशासन का कहना है कि तमाम परेशानियों और बाधाओं के बावजूद बाहर से आने वाले मरीजों का इलाज बाधित नहीं किया जा रहा है। पीजीआई के लिए चंडीगढ़ के साथ देश के अन्य हिस्सों से आने वाले मरीजों की जान बचानी प्राथमिकता है। ऐसी स्थिति में कुछ प्रदेशों के नाम चिह्नित कर वहां के मरीजों के इलाज पर रोक लगाए जाने संबंधी सूचनाओं का पीजीआई प्रशासन ने खंडन किया है।

पीजीआई के मुताबिक ऐसी सूचनाएं पूरी तरह गलत और भ्रामक हैं। पीजीआई में मार्च से अब तक लगातार बाहर से आने वाले मरीजों का मानक के अनुसार इलाज किया जा रहा है और आगे भी जारी रहेगा। अगर कोरोना काल में पीजीआई में देखे गए मरीजों की संख्या का आकलन किया जाए तो उसमें चंडीगढ़ से कई गुना ज्यादा पंजाब-हरियाणा और हिमाचल के मरीज शामिल हैं।   

ट्रॉमा में चंडीगढ़ से ज्यादा बाहर के मरीज

माह    पंजाब    हरियाणा    हिमाचल    चंडीगढ़    यूपी    अन्य    
अप्रैल   142     93             53           66      20       18     
मई      265    153           77            88      35      33    
जून     230    151          77            122     37       39    
जुलाई  300    159          86           101      37      31

इमरजेंसी में अन्य प्रदेशों के मरीज सबसे ज्यादा 

  • माह    पंजाब    हरियाणा    हिमाचल    चंडीगढ़    यूपी    अन्य   
  • अप्रैल    813      433       201          394       100    81    
  • मई      1097     487       256          554      146    119     
  • जून       1491   579      384          651      162     148    
  • जुलाई   1515   675       363          858      199    165      
कोरोना काल में भी चंडीगढ़ पीजीआई के दरवाजे सभी प्रदेशों के मरीजों के लिए खुले हैं। संक्रमण से बचाव को देखते हुए पीजीआई की ओपीडी फिलहाल बंद चल रही है। टेली कंसल्टेशन सर्विस में चंडीगढ़ के साथ पंजाब, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, जम्मू कश्मीर और अन्य प्रदेशों के मरीजों को परामर्श दिया जा रहा है। वहीं, ट्रॉमा सेंटर और इमरजेंसी में आने वाले सभी प्रदेशों के रेफर मरीजों की कोरोना जांच कर उनका इलाज किया जा रहा है।

पीजीआई प्रशासन का कहना है कि तमाम परेशानियों और बाधाओं के बावजूद बाहर से आने वाले मरीजों का इलाज बाधित नहीं किया जा रहा है। पीजीआई के लिए चंडीगढ़ के साथ देश के अन्य हिस्सों से आने वाले मरीजों की जान बचानी प्राथमिकता है। ऐसी स्थिति में कुछ प्रदेशों के नाम चिह्नित कर वहां के मरीजों के इलाज पर रोक लगाए जाने संबंधी सूचनाओं का पीजीआई प्रशासन ने खंडन किया है।

पीजीआई के मुताबिक ऐसी सूचनाएं पूरी तरह गलत और भ्रामक हैं। पीजीआई में मार्च से अब तक लगातार बाहर से आने वाले मरीजों का मानक के अनुसार इलाज किया जा रहा है और आगे भी जारी रहेगा। अगर कोरोना काल में पीजीआई में देखे गए मरीजों की संख्या का आकलन किया जाए तो उसमें चंडीगढ़ से कई गुना ज्यादा पंजाब-हरियाणा और हिमाचल के मरीज शामिल हैं।   



Source link


0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *