गर्भवती को नादौन से हमीरपुर ने रेफर किया, एरेन्स स्टाफ ने करवाया पीड़ित

Hamirpur


ख़बर सुनना

नादौन। उपमंडल मुख्यालय नादौन के सिविल अस्पताल से हमीरपुर मेडिकल कॉलेज के लिए रेफर की गई गर्भवती महिला ने एकर्न्स में बच्चे को जन्म दिया। केवल 7 किलोमीटर की दूरी तय करने पर एकारेंस में तैनात कर्मचारी ने महिला का सफल प्रसव करवाया।
सोमवार रात को एक प्रवासी परिवार की गर्भवती महिला को नादौन अस्पताल से हमीरपुर रेफर किया गया। 15 मिनट बाद ही 108 एकारेंस में महिला ने स्वस्थ बच्चे को जन्म दिया। एरणेंस अटेंडेंट और चालक ने महिला को नादौन अस्पताल के दिशा-निर्देशों पर हमीरपुर अस्पताल में भर्ती करवाया। जहां माता-पिता और शिशु पूरी तरह स्वस्थ हैं।
नादौन में करोड़ों रुपये की लागत से बनाए गए नए अस्पताल भवन में मूलभूत स्वास्थ्य सुविधाएं नहीं मिल रही हैं। यहां पर गायनी विभाग में विशेषज्ञ चिकित्सक भी हैं, लेकिन प्रवासी महिला को पीड़ित के लिए हमीरपुर रेफर करना पड़ा। लोगों का कहना है कि नादौन अस्पताल में अब गायनी के डाक्टर की सुविधा भी उपलब्ध करवा दी है, हालांकि अस्पताल में सीजेरियन ऑपरेशन करवाने के लिए सामान व अन्य सुविधा न होने से यह सब नाकाफी साबित हो रहा है।
उधर, एकारेंस के ईएमई पंकज ने बताया कि सोमवार देर रात नादौन से हमीरपुर अस्पताल के लिए केस रेफर करने की सूचना उन्हें प्राप्त हुई और नादौन से कुछ ही दूरी पर ही एर्न्स स्टाफ महिला का पीड़ित कर पाने में सफल रहा।

नादौन। उपमंडल मुख्यालय नादौन के सिविल अस्पताल से हमीरपुर मेडिकल कॉलेज के लिए रेफर की गई गर्भवती महिला ने एकर्न्स में बच्चे को जन्म दिया। केवल 7 किलोमीटर की दूरी तय करने पर एकारेंस में तैनात कर्मचारी ने महिला का सफल प्रसव करवाया।

सोमवार रात को एक प्रवासी परिवार की गर्भवती महिला को नादौन अस्पताल से हमीरपुर रेफर किया गया। 15 मिनट बाद ही 108 एकारेंस में महिला ने स्वस्थ बच्चे को जन्म दिया। एरणेंस अटेंडेंट और चालक ने महिला को नादौन अस्पताल के दिशा-निर्देशों पर हमीरपुर अस्पताल में भर्ती करवाया। जहां माता-पिता और शिशु पूरी तरह स्वस्थ हैं।

नादौन में करोड़ों रुपये की लागत से बनाए गए नए अस्पताल भवन में मूलभूत स्वास्थ्य सुविधाएं नहीं मिल रही हैं। यहां पर गायनी विभाग में विशेषज्ञ चिकित्सक भी हैं, लेकिन प्रवासी महिला को पीड़ित के लिए हमीरपुर रेफर करना पड़ा। लोगों का कहना है कि नादौन अस्पताल में अब गायनी के डाक्टर की सुविधा भी उपलब्ध करवा दी है, हालांकि अस्पताल में सीजेरियन ऑपरेशन करवाने के लिए सामान व अन्य सुविधा न होने से यह सब नाकाफी साबित हो रहा है।

उधर, एकारेंस के ईएमई पंकज ने बताया कि सोमवार देर रात नादौन से हमीरपुर अस्पताल के लिए केस रेफर करने की सूचना उन्हें प्राप्त हुई और नादौन से कुछ ही दूरी पर ही एर्न्स स्टाफ महिला का पीड़ित कर पाने में सफल रहा।





Source link

हमीरपुर (हि। प्र।) नवीन हमीरपुर (हि। प्र।) न्यूज़ हमीरपुर (हिमाचल) न्यूज़ हमीरपुर (हिमाचल) न्यूज़ टुडे हमीरपुर (हिमाचल) न्यूज़ हिंदी में

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts

Hamirpur

बिजली बोर्ड के फील्ड स्टाफ और जेई को कोरोनाटन घोषित करने की मांग

ख़बर सुनना

ख़बर सुनना

हमीरपुर। बिजली बोर्ड की ओर से जूनियर इंजीनियर एसोसिएशन ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को ज्ञापन भेजकर बोर्ड के फील्ड

Hamirpur

कोरोना की रोकथाम के लिए सरकार उठा रही उचित कदम: सैनल

ख़बर सुनना

ख़बर सुनना

हमीरपुर। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण और आयुष मंत्री डॉ। राजीव सैनल ने कहा कि प्रदेश सरकार मुख्यमंत्री जयराम

Hamirpur

बिना फंक घूमने वाले एक दर्जन लोगों के काटे विज्ञापन

ख़बर सुनना

ख़बर सुनना

नादौन। पुलिस थाना नादौन के तहत शहर में बिना पूछे लगाकर चक्करने वाले एक दर्जन लोगों के संयोजन काटे

Hamirpur

हार्डवेयर की दुकानें बंद हैं, निर्माण कार्य हो रहे हैं

ख़बर सुनना

ख़बर सुनना

रंगस (नादौन)। कोरोना कर्फ्यू और लॉकडाउन के चलते क्षेत्र में हार्डवेयर की दुकानें बंद रहने के कारण निजी निर्माण

%d bloggers like this: