कोरोना रोगियों के लिए 8 एएकरेंस टैक्सी हायर

Shimla News


ख़बर सुनना

बिलपुर। जिले में होम आइसोलेट किए गए को विभाजित संक्त्रस्मितों पर अब चिकित्सकों की लगातार नजर बनी हुई है। इसके लिए उपायुक्त रोहित जम्वाल ने 8 निजी नंबर की एकरेंस टैक्सियां ​​हायर की हैं। अगर किसी मरीज की तबियत होम आइसोलेशन में खराब होती है तो उसे उसी एकर्न्स से कोविड कैर सेंटर / हेल्थ सेंटर में भर्ती कराया जाएगा। जिला के आसपास स्वास्थ्य खंडों में 2-2 एर्केन लगाई जाएगी। वहीं उपायुक्त ने साफ किया है कि अगर इस दौरान एकारेंस में तैनात टीम अपने काम में कोताही बरतते हुए पाई गई तो कड़ी कार्रवाई होगी।
जिले में अभी तक ज्यादातर को विभाजित संक्त्रस्मितों को घर में ही आइसोलेट किया गया है। न केवल ऑक्सीजन की कमी है और न ही को विभाजित केंद्र में बिस्तर की कोई समस्या नहीं है। लेकिन जिला उपायुक्त रोहित जम्वाल ने इस आपदा से निपटने के लिए कमर कस ली है। उनकी दूरगामी सोच का ही नतीजा है कि अब मरीजों को सीधा चिकित्सकों से जोड़ा जा रहा है। उपायुक्त बिलासपुर रोहित जम्वाल ने बताया कि चंबा में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की ओर से जारी आदेश के अनुसार यह कार्य किया गया है। अब अगर मरीज की तबीयत बिगड़ती है तो उसे 108 एकरेंस का इंतजार नहीं करना पड़ेगा। इस सुविधा का लाभ लेने के लिए रोगी को सिर्फ अपने तबीयत की जानकारी संबंधित बीएमओ या फिर एसडीएम को देनी होगी। इसके बाद तुरंत प्रभाव से उसे कोविड कैर सेंटर में भर्ती के लिए लाया जाएगा। बताया कि टैक्सी सुविधा सिर्फ जिले में नि: शुल्क दी जाएगी।
उपायुक्त ने कहा कि मरीज की हालत अधिक गंभीर है तो उसे 108 एकर्न्स के माध्यम से ही नेरचौक या फिर अन्य को विभाजित अस्पतालों में भेजा जाएगा। जिले में अभी तक 11 एकरेंस 108 सेवाएं दे रही हैं। इनमें से 8 एकर्न्स को विभाजित रोगियों के लिए रखा गया था। अब 8 एएरेंस शुरू करने से जिला
से ए केरेन्स की समस्या से
निओटल मिलेगा।

बिलपुर। जिले में होम आइसोलेट किए गए को विभाजित संक्त्रस्मितों पर अब चिकित्सकों की लगातार नजर बनी हुई है। इसके लिए उपायुक्त रोहित जम्वाल ने 8 निजी नंबर की एकरेंस टैक्सियां ​​हायर की हैं। अगर किसी रोगी की तबियत होम आइसोलेशन में खराब होती है तो उसे उसी एकर्न्स से विभाजित कर केंद्र / स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया जाएगा। जिला के आसपास स्वास्थ्य खंडों में 2-2 एर्केन लगाई जाएगी। वहीं उपायुक्त ने साफ किया है कि अगर इस दौरान एकारेंस में तैनात टीम अपने काम में कोताही बरतते हुए पाई गई तो कड़ी मेहनत होगी।

जिले में अभी तक ज्यादातर को विभाजित संक्त्रस्मितों को घर में ही आइसोलेट किया गया है। न केवल ऑक्सीजन की कमी है और न ही को विभाजित केंद्र में बिस्तर की कोई समस्या नहीं है। लेकिन जिला उपायुक्त रोहित जम्वाल ने इस आपदा से निपटने के लिए कमर कस ली है। उनकी दूरगामी सोच का ही नतीजा है कि अब मरीजों को सीधा चिकित्सकों से जोड़ा जा रहा है। उपायुक्त बिलासपुर रोहित जम्वाल ने बताया कि चंबा में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की ओर से जारी आदेश के अनुसार यह कार्य किया गया है। अब अगर मरीज की तबीयत बिगड़ती है तो उसे 108 एकरेंस का इंतजार नहीं करना पड़ेगा। इस सुविधा का लाभ लेने के लिए रोगी को सिर्फ अपने तबीयत की जानकारी संबंधित बीएमओ या फिर एसडीएम को देनी होगी। इसके बाद तुरंत प्रभाव से उसे कोविड कैर सेंटर में भर्ती के लिए लाया जाएगा। बताया कि टैक्सी सुविधा सिर्फ जिले में नि: शुल्क दी जाएगी।

उपायुक्त ने कहा कि मरीज की हालत अधिक गंभीर है तो उसे 108 एकर्न्स के माध्यम से ही नेरचौक या फिर अन्य को विभाजित अस्पतालों में भेजा जाएगा। जिले में अभी तक 11 एकरेंस 108 सेवाएं दे रही हैं। इनमें से 8 एकर्न्स को विभाजित रोगियों के लिए रखा गया था। अब 8 एएरेंस शुरू करने से जिला

से ए केरेन्स की समस्या से

निओटल मिलेगा।





Source link

शिमला न्यूज़ शिमला न्यूज़ टुडे शिमला समाचार शिमला समाचार हिंदी में

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts

Shimla News

नवीनतम हिमखंड

अमर उजाला नेटवर्क, कुल्लू

द्वारा प्रकाशित: अरविंद ठाकुर
अपडेटेड थू, 13 मई 2021 11:22 AM IST

सार
पिछले तीन दिनों से कुल्लू व लाहौल-स्पीति में मौसम

Shimla News

अंचली सेब से अब कागज भी तैयार होंगे, पूरा मामला

अमर उजाला नेटवर्क, शिमला

द्वारा प्रकाशित: कृष्ण सिंह
अपडेटेड थू, 13 मई 2021 05:00 पूर्वाह्न IST

सार
राज्य सरकार मुंबई की एक निजी कंपनी के साथ

Shimla News

डिजिटल क्लासरूम, लैपटॉप खरीद के लिए इंतजार किया जा रहा है

अमर उजाला नेटवर्क, शिमला

द्वारा प्रकाशित: अरविंद ठाकुर
अपडेटेड थू, 13 मई 2021 05:00 पूर्वाह्न IST

लैपटॉप- अलंकारिक चित्र
– फोटो: अमर उजाला

ख़बर सुनना

ख़बर सुनना

Shimla News

हर घर पाठशाला कार्यक्रम की निगरानी के लिए टीम का गठन किया

अमर उजाला नेटवर्क, शिमला

द्वारा प्रकाशित: अरविंद ठाकुर
अपडेटेड थू, 13 मई 2021 05:00 पूर्वाह्न IST

ख़बर सुनना

ख़बर सुनना

कोरोना संकट के कारण बंद हुए

%d bloggers like this: