एचपीयू-मैट के लिए शेड्यूल सेट, 29 मई को परीक्षा

Himachal Pradesh News


अमर उजाला नेटवर्क, शिमला

द्वारा प्रकाशित: अरविंद ठाकुर
Updated Wed, 07 Apr 2021 07:12 PM IST

एचपीयू शिमला (फाइल फोटो)
– फोटो: अमर उजाला

ख़बर सुनना

हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय के विश्वविद्यालय बिजनेस स्कूल की नो कोर्स की सीटों और रीजनल सेंटर धर्मशाला की नो कोर्स की सीटों में प्रवेश के लिए होने वाली प्रवेश परीक्षा एचपीयू मैट -2021 का शेड्यूल जारी कर दिया गया है। शेड्यूल के मुताबिक यह परीक्षा 29 मई को होगी। इसका परिणाम 9 जून को घोषित किया जाएगा। एचपीयू मैट 2021 के लिए 10 मई तक ऑनलाइन आवेदन करना होगा। विवि के यूनिवर्सिटी बिजनेस स्कूल की सब्सिडाइज्ड सीटों के लिए 5 से 8 जुलाई तक ग्रुप डिस्कशन और इंटरव्यू होगा।

9 जुलाई को रिजल्ट घोषित कर दिया जाएगा। नॉन सबस्क्राइब्ड सीटों के लिए 12 से 17 जुलाई तक जीडीए और साक्षात्कार होंगे। इसका परिणाम 19 जुलाई को विश्वविद्यालय के नोटिस बोर्ड पर होगा। विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर भी अपलोड कर दिया जाएगा। स्नातक डिग्री के अंतिम वर्ष की परीक्षा में अपीयर होने वाले छात्र एचपीयू मैट -2021 में बैठेंगे। उन्हें ग्रुप डिस्कशन के खत्म होने के बाद जमा करने अनिवार्य होगा।

एचपीयू एडमिशन पोर्टल से ऑफलाइन आवेदन होगा
एचपीयू मैट -2021 के लिए विश्वविद्यालय के एडमिशन पोर्टल के माध्यम से ऑफ़लाइन आवेदन किया जा सकेगा। इस प्रवेश परीक्षा के आधार पर ही विश्वविद्यालय के बिजनेस स्कूल संस्थान की 120 सीटों पर प्रवेश दिया जाएगा। यूनिवर्सिटी बिजनेस स्कूल के निदेशक प्रो। जय सिंह परमार ने बताया कि रीजनल सेंटर धर्मशाला की 30 नवंबर की बैठकों में भी एचपीयू मैट के आधार पर जमा होना चाहिए। वहाँ के लिए जीडीए और साक्षात्कार का शेड्यूल अलग रहेगा।

हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय के विश्वविद्यालय बिजनेस स्कूल की नो कोर्स की सीटों और रीजनल सेंटर धर्मशाला की नो कोर्स की सीटों में प्रवेश के लिए होने वाली प्रवेश परीक्षा एचपीयू मैट -2021 का शेड्यूल जारी कर दिया गया है। शेड्यूल के मुताबिक यह परीक्षा 29 मई को होगी। इसका परिणाम 9 जून को घोषित किया जाएगा। एचपीयू मैट 2021 के लिए 10 मई तक ऑनलाइन आवेदन करना होगा। विवि के यूनिवर्सिटी बिजनेस स्कूल की सब्सिडाइज्ड सीटों के लिए 5 से 8 जुलाई तक ग्रुप डिस्कशन और इंटरव्यू होगा।

9 जुलाई को रिजल्ट घोषित कर दिया जाएगा। नॉन सबस्क्राइब्ड सीटों के लिए 12 से 17 जुलाई तक जीडीए और साक्षात्कार होंगे। इसका परिणाम 19 जुलाई को विश्वविद्यालय के नोटिस बोर्ड पर होगा। विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर भी अपलोड कर दिया जाएगा। स्नातक डिग्री के अंतिम वर्ष की परीक्षा में अपीयर होने वाले छात्र एचपीयू मैट -2021 में बैठेंगे। उन्हें ग्रुप डिस्कशन के खत्म होने के बाद जमा करने अनिवार्य होगा।

एचपीयू एडमिशन पोर्टल से ऑफलाइन आवेदन होगा

एचपीयू मैट -2021 के लिए विश्वविद्यालय के एडमिशन पोर्टल के माध्यम से ऑफ़लाइन आवेदन किया जा सकेगा। इस प्रवेश परीक्षा के आधार पर ही विश्वविद्यालय के बिजनेस स्कूल संस्थान की 120 सीटों पर प्रवेश दिया जाएगा। यूनिवर्सिटी बिजनेस स्कूल के निदेशक प्रो। जय सिंह परमार ने बताया कि रीजनल सेंटर धर्मशाला की 30 नवंबर की बैठकों में भी एचपीयू मैट के आधार पर गड़बड़ होनी चाहिए। वहाँ के लिए जीडीए और साक्षात्कार का शेड्यूल अलग रहेगा।





Source link

himachal news in hindi hpu चटाई परीक्षा Hpu चटाई परीक्षा तिथि 2021 hpu शिमला नवीनतम समाचार हिंदी में कैंपस हिंदी समाचार कैम्पस समाचार हिंदी में हिमाचल समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts

Himachal Pradesh News

हिमाचल में कोरोनावायरस: 10 कोरोना रोगियों की मृत्यु, 1029 प्रकार

अमर उजाला नेटवर्क, शिमला

द्वारा प्रकाशित: अरविंद ठाकुर
अपडेटेड शुक्र, 16 अप्रैल 2021 11:02 PM IST

सार
हिमाचल प्रदेश में शुक्रवार को कोरोना से दस मरीजों

Himachal Pradesh News

हिमाचल: एक मई तक शिक्षण संस्थान बंद रखने का आज हो सकता है

अमर उजाला नेटवर्क, शिमला

द्वारा प्रकाशित: कृष्ण सिंह
अपडेटेड शुक्र, 16 अप्रैल 2021 11:00 पूर्वाह्न IST

ख़बर सुनना

ख़बर सुनना

हिमाचल प्रदेश में एक मई तक

Himachal Pradesh News

हिमाचल में कोरोना से परिवहन सेवाओं पर असर, नई एसओपी के साथ चलेंगी बसें

अमर उजाला नेटवर्क, शिमला

द्वारा प्रकाशित: कृष्ण सिंह
अपडेटेड शुक्र, 16 अप्रैल 2021 10:58 AM IST

एचआरओटी सेटलमेंट (फाइल)
– फोटो: अमर उजाला

ख़बर सुनना

ख़बर सुनना

Himachal Pradesh News

पर्यटक वाहनों के लिए कंपोजिट फीस की नई वस्तुएं लागू होंगी

अमर उजाला नेटवर्क, शिमला

द्वारा प्रकाशित: अरविंद ठाकुर
अपडेटेड शुक्र, 16 अप्रैल 2021 10:19 PM IST

वाहन- फाइल फोटो
– फोटो: अमर उजाला

ख़बर सुनना

ख़बर सुनना