एचपीयू में शुरू होंगे डिफेंस स्टडीज समेत चार नए विभाग, परीक्षाएं करवाने को तैयार

Published by Razak Mohammad on

एचपीयू की कार्यकारी परिषद की बैठक में विवि में चार नए विभाग खोलने को मंजूरी दी गई। रक्षा अध्ययन विभाग, पर्यावरण विज्ञान विभा, पुस्तकालय विज्ञान विभाग और माइक्रोबायोलॉजी विभाग इसी सत्र से शुरू होंगे। मंगलवार को बैठक की अध्यक्षता कुलपति प्रो. सिकंदर कुमार ने की। इसमें वित्त कमेटी से आए सभी प्रस्तावों को मंजूरी की गई। इक्डोल से साल में दो बार जनवरी और जुलाई में प्रवेश देने की स्वीकृति दी गई। सूत्रों के मुताबिक रिसोर्स मोबेलाइजेशन कमेटी की 2013 की सिफारिश पर इक्डोल की फीस में दस फीसदी वृद्धि के प्रस्ताव को भी मंजूरी दी गई। 

ईसी ने कई विषयों के परीक्षा शुल्क में विसंगतियां दूर करने की मंजूरी दी। एमफिल, एमटेक, एलएलएम, पीएचडी छात्रों की प्रयोगशाला परीक्षाएं तथा मौखिक परीक्षाएं दिसंबर में ऑनलाइन लेने और इसके बाद भी यदि वर्तमान स्थिति बनी रही तो भी ऑनलाइन और ऑफलाइन करवाने का निर्णय लिया। पीएचडी, एमफिल, एमटेक व एलएलएम छात्रों का शोध कार्य बिना विलंब शुल्क दिसंबर 2020 तक जमा कराने की स्वीकृति दी गई।

विवि अनुदान आयोग ने परीक्षा संबंधी कार्यों के लिए निर्देशों को शैक्षणिक कैलेंडर के अनुसार कोविड-19 के दृष्टिगत अपनाने, एमकॉम छात्रों को डिग्री पूर्ण करने को गोल्डन चांस देने, बोर्ड ऑफ स्टडीज, आरडीसी व अन्य बैठकें ऑनलाइन करने और विवि में देय वर्तमान मानदेय देने का प्रस्ताव भी मंजूर किया। यूआईटी, यूआईएलएस, एमसीए, एमए- प्रदर्शन कला (संगीत) व अन्य विभागों में ऑनलाइन  प्रयोगशाला परीक्षा करवाने, विवि में होने वाली ऑनलाइन बैठकों में उपस्थित सदस्यों को नियमानुसार मानदेय देने को मंजूरी दी। अकादमिक परिषद की सिफारिशों को मंजूरी देने की स्वीकृति की। कई विभागों के पाठ्यक्रम को अपडेट करने को मंजूरी दी।

ईसी ने वित्त समिति की सिफारिशों को दी मंजूरी
ईसी ने वित्त समिति द्वारा अनुमोदित सभी शिक्षकों/गैर शिक्षकों के पद विज्ञापित कर भरने की स्वीकृति दी। रीजनल सेंटर धर्मशाला में शिक्षकों और गैर शिक्षकों के पद सृजित करने को मंजूरी दी गई। विवि में आउटसोर्स भर्ती के वित्त कमेटी से स्टाफ भर्ती के प्रस्ताव को खारिज किया गया। सदस्य प्रेमराज शर्मा द्वारा सहायक कुलसचिव के भर्ती पदोन्नति और इंक्रीमेंट विसंगति मामले और मॉडल स्कूल को 12वीं करने को नए शिक्षकों के पद सृजन के प्रस्ताव को वित्त कमेटी और अगली बैठक में ले जाने का फैसला हुआ।

विधिक संस्थान ओछघाट की संबद्धता रद्द
ईसी ने एसवीएसडी. महाविद्यालय भटोली, ऊना की प्रबंधन समिति को बहाल करने की स्वीकृति दी। इस पर लंबे समय प्रतिबंध था। विवि से संबद्ध एलआर विधिक अध्ययन संस्थान, ओछघाट (सोलन) की संबद्धता रद्द की गई। संस्थान में नए सत्र से प्रवेश नहीं देने का फैसला लिया गया।

यूजी, पीजी परीक्षाएं करवाने को एचपीयू तैयार
बैठक में स्नातक /स्नातकोत्तर परीक्षाएं करवाने को विवि की तैयारियों पर चर्चा के बाद फैसला लिया कि परीक्षाएं केंद्र और प्रदेश सरकार के आदेशों पर करवाई जाएंगी। स्नातक /स्नातकोत्तर परीक्षाओं की उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन कोविड-19 के चलते संबंधित महाविद्यालयों/विभागों में ही करवाने के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई। 

नए नामित सदस्यों का किया स्वागत
ईसी में उपकुलाधिपति द्वारा पुन: नामित सदस्य के रूप में आचार्य एनके शारदा और आचार्य वीपी शर्मा एवं सरकार की ओर से नामित सदस्य के रूप में बिलासपुर के विधायक, सुभाष ठाकुर का स्वागत किया। कुलपति ने ईसी के सदस्य रहे अजय श्रीवास्तव, डॉ. आसिथ कुमार मिश्रा का उनके सकारात्मक सहयोग के लिए आभार जताया। नए सदस्यों में आचार्य एसएस चौहान, लोक प्रशासन विभाग, डॉ. नीरा वालिया सहायक आचार्य, सांध्यकालीन अध्ययन विभाग और डॉ. अजय जरयाल – प्राचार्य, राजकीय महाविद्यालय, खुंडियां का स्वागत किया।



Source link


0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *