एचआरटीसी ने डेढ़ दर्जन और रूटों पर चलाईं बसें

Published by Razak Mohammad on

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर Free में
कहीं भी, कभी भी।

70 वर्षों से करोड़ों पाठकों की पसंद

ख़बर सुनें

कुल्लू। कोरोना से बिगड़े हालत के बीच जिला कुल्लू में लोगों का जनजीवन पटरी पर लौटने लगा है। निजी बस ऑपरेटरों के बाद अब एचआरटीसी ने जिला में अपने रूटों की संख्या को बढ़ा दिया है। जिला में करीब डेढ़ दर्जन अतिरिक्त रूटों पर निगम की बसें चलेंगी।
बसों की संख्या बढ़ने से शहरों के साथ ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों को राहत मिली है। अन्य जिला में जहां निगम व निजी बस ऑपरेटरों ने बसों का संचालन करने से हाथ खड़े करने शुरू कर दिए हैं, वहीं जिला कुल्लू में बसों को सुचारु रखने के साथ-साथ इनकी संख्या में भी लगातार इजाफा किया जा रहा है। हालांकि कुल्लू में 29 जून से निजी बस ऑपरेटरों ने 15 रूटों में बढ़ोतरी की। साथ ही निगम के कुल्लू डिपो ने मंगलवार से भी करीब 17 अतिरिक्त रूटों पर बसें दौड़ाई हैं। इससे पूर्व निगम की 20 बसें चलाई जा रही थी। रूटों में की गई बढ़ोतरी से शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों की जनता को टैक्सियों व ऑटो के महंगे सफर से निजात मिल रही है। रामकृष्ण, सोहन लाल, यशपाल, दुनी चंद, राहुल, शशिपाल ने कहा कि निजी व निगम की बसों की संख्या में इजाफा होने से लोगों को अपने गंतव्य तक पहुंचने में सुविधा हो रही है। उधर, निगम के अधिकारी देवेंद्र नारंग ने कहा कि कुल्लू में निगम के 220 रूट हैं। अभी जिला के भीतर लगभग 34 रूटों पर समय सारिणी के अनुसार बस सेवा जारी है। कहा कि लोगों की सुविधा के लिए बसों की संख्या को बढ़ाया गया है।
तीन लंबे रूटों पर भी चल रहीं बसें
कुल्लू जिला के भीतर निगम की 34 बसों का संचालन किया जा रहा है। यात्रियों की सुविधा के लिए निगम के कुल्लू डिपो की 3 बसों को लंबे रूटों पर भी भेजा जा रहा है। बस अड्डा प्रभारी टेकू ने कहा कि कुल्लू से शिमला, कुल्लू से बैजनाथ व कुल्लू से दलाश के लिए बस सेवा जारी है। कहा कि सवारियां बढ़ने पर भविष्य में बसों की संख्या को और बढ़ाया जाएगा।

कुल्लू। कोरोना से बिगड़े हालत के बीच जिला कुल्लू में लोगों का जनजीवन पटरी पर लौटने लगा है। निजी बस ऑपरेटरों के बाद अब एचआरटीसी ने जिला में अपने रूटों की संख्या को बढ़ा दिया है। जिला में करीब डेढ़ दर्जन अतिरिक्त रूटों पर निगम की बसें चलेंगी।

बसों की संख्या बढ़ने से शहरों के साथ ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों को राहत मिली है। अन्य जिला में जहां निगम व निजी बस ऑपरेटरों ने बसों का संचालन करने से हाथ खड़े करने शुरू कर दिए हैं, वहीं जिला कुल्लू में बसों को सुचारु रखने के साथ-साथ इनकी संख्या में भी लगातार इजाफा किया जा रहा है। हालांकि कुल्लू में 29 जून से निजी बस ऑपरेटरों ने 15 रूटों में बढ़ोतरी की। साथ ही निगम के कुल्लू डिपो ने मंगलवार से भी करीब 17 अतिरिक्त रूटों पर बसें दौड़ाई हैं। इससे पूर्व निगम की 20 बसें चलाई जा रही थी। रूटों में की गई बढ़ोतरी से शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों की जनता को टैक्सियों व ऑटो के महंगे सफर से निजात मिल रही है। रामकृष्ण, सोहन लाल, यशपाल, दुनी चंद, राहुल, शशिपाल ने कहा कि निजी व निगम की बसों की संख्या में इजाफा होने से लोगों को अपने गंतव्य तक पहुंचने में सुविधा हो रही है। उधर, निगम के अधिकारी देवेंद्र नारंग ने कहा कि कुल्लू में निगम के 220 रूट हैं। अभी जिला के भीतर लगभग 34 रूटों पर समय सारिणी के अनुसार बस सेवा जारी है। कहा कि लोगों की सुविधा के लिए बसों की संख्या को बढ़ाया गया है।

तीन लंबे रूटों पर भी चल रहीं बसें

कुल्लू जिला के भीतर निगम की 34 बसों का संचालन किया जा रहा है। यात्रियों की सुविधा के लिए निगम के कुल्लू डिपो की 3 बसों को लंबे रूटों पर भी भेजा जा रहा है। बस अड्डा प्रभारी टेकू ने कहा कि कुल्लू से शिमला, कुल्लू से बैजनाथ व कुल्लू से दलाश के लिए बस सेवा जारी है। कहा कि सवारियां बढ़ने पर भविष्य में बसों की संख्या को और बढ़ाया जाएगा।

Source link

Categories: Kullu

0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *