ऊना जिले में एक सप्ताह में 250 अतिरिक्त बिस्तर लगाने की तैयारी:

Una News


ख़बर सुनना

ऊना। कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए जिले में मरीजों के लिए अतिरिक्त 250 बिस्तर क्षमता एक सप्ताह के भीतर तैयार की जाएगी। उपायुक्त राघव शर्मा ने शुक्रवार की समीक्षा बैठक की शीर्ष करते हुए ये जानकारी दी।
उन्होंने कहा कि पंडोगा स्थित सामान्य सुविधा केंद्र में 200 बिस्तर का डेडिकेटिड विभाजित स्वास्थ्य केंद्र (परामर्शी) शीघ्र किया जाएगा। यहाँ पर मरीजों के लिए ऑक्सीजन की भी सुविधा होगी। इसके साथ 35 बेड पलकवाह और 20 बेड सीएचसी धुसाड़ा में लगाने की व्यवस्था होगी। लॉ ने तैयारियों को पूरी करने के लिए अधीक्षण अभियंता लोनिवि की बैठक में कमेटी गठित की है। इसमें महाप्रबंधक जिला उद्योग केंद्र, सीएमओ, अधिशासी अभियंता एचपीएस अनसी, जल शक्ति विभाग, पीडब्ल्यूडी कोयंबटूर, विद्युत विभाग और क्रेडिट प्लानिंग ऑफिसर को शामिल किया गया है। उन्होंने कहा कि कमेटी सभी तैयारियां युद्ध स्तर पर शुरू करें। इसकी प्रतिदिन की रिपोर्ट एडीसी डॉ। अमित कुमार शर्मा कमेटी एक सप्ताह के बाद अंतिम रिपोर्ट उपायुक्त को सौंपेगी।
ऊना में पर्याप्त मात्रा में बिस्तर उपलब्ध है
मंडल ने कहा कि जिले में पर्याप्त मात्रा में बिस्तर उपलब्ध हैं। हरोली में 45 बिस्तर और पालकवाह में 51 बिस्तर की सुविधा उपलब्ध है। अन्य जिलों से कोरोना रोगियों के ऊना शिफ्ट होने के बावजूद अभी भी 39 बिस्तर खाली हैं। कोरोना के संक्रमण को देखते हुए और भविष्य की चुनौतियों की मद्देनजर 250 अतिरिक्त बिस्तर कोरोना संभावितों के लिए तैयार किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि अधिकारी प्राथमिकता के आधार पर इस कार्य को पूर्ण करने के लिए जुटेंगे।
पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन और सिलेंडर
राघव शर्मा ने कहा कि कोटि रोगियों के लिए जिले में ऑक्सीजन और सिलेंडर की कोई कमी नहीं है। स्टॉक पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है। पालकवाह और हरोली में स्वास्थ्य विभाग के पास 92 सिलिंडर हैं, जबकि क्षेत्रीय अस्पताल में 43 ऑक्सीजन सिलिंडर उपलब्ध हैं। इसके अतिरिक्त 50 सिलिंडर जेके गैस कंपनी गंगा के माध्यम से स्वास्थ्य विभाग को मिले हैं। 25 सिलिंडर प्रदेश सरकार ने उपलब्ध करवाए हैं। उन्होंने कहा कि गंगा स्थित उद्योग ने जिला प्रशासन को प्रतिदिन 200 ऑक्सीजन सिलिंडर भरने की आश्वासन दिया है, जबकि जिला में अभी भी 50 ऑक्सीजन सिलिंडर प्रतिदिन ही मांग है। उन्होंने कहा कि जिले में दो-तीन दिन के भीतर सिलिंडर ढूंढ हाउस तैयार कर लिया जाएगा। इसमें 600 ऑक्सीजन सिलेंडर की उपलब्धता होगी।
बैठक में edasi डॉ। अमित कुमार शर्मा, सीएमओ डॉ। रमण कुमार शर्मा, डाॅ। निखिल शर्मा, एसडीएम गौरव चौधरी, अधिशासी अभियंता जल शक्ति विभाग नरेश धीमान सहित विभागों के विभाग उपस्थित थे।

ऊना। कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए जिले में मरीजों के लिए अतिरिक्त 250 बिस्तर क्षमता एक सप्ताह के भीतर तैयार की जाएगी। उपायुक्त राघव शर्मा ने शुक्रवार की समीक्षा बैठक की शीर्ष करते हुए ये जानकारी दी।

उन्होंने कहा कि पंडोगा स्थित सामान्य सुविधा केंद्र में 200 बिस्तर का डेडिकेटिड विभाजित स्वास्थ्य केंद्र (परामर्शी) शीघ्र किया जाएगा। यहाँ पर मरीजों के लिए ऑक्सीजन की भी सुविधा होगी। इसके साथ 35 बेड पलकवाह और 20 बेड सीएचसी धुसाड़ा में लगाने की व्यवस्था होगी। लॉ ने तैयारियों को पूरी करने के लिए अधीक्षण अभियंता लोनिवि की बैठक में कमेटी गठित की है। इसमें महाप्रबंधक जिला उद्योग केंद्र, सीएमओ, अधिशासी अभियंता एचपीएस अनसी, जल शक्ति विभाग, पीडब्ल्यूडी कोयंबटूर, विद्युत विभाग और क्रेडिट प्लानिंग ऑफिसर को शामिल किया गया है। उन्होंने कहा कि कमेटी सभी तैयारियां युद्ध स्तर पर शुरू करें। इसकी प्रतिदिन की रिपोर्ट एडीसी डॉ। अमित कुमार शर्मा कमेटी एक सप्ताह के बाद अंतिम रिपोर्ट उपायुक्त को सौंपेगी।

ऊना में पर्याप्त मात्रा में बिस्तर उपलब्ध है

मंडल ने कहा कि जिले में पर्याप्त मात्रा में बिस्तर उपलब्ध हैं। हरोली में 45 बिस्तर और पालकवाह में 51 बिस्तर की सुविधा उपलब्ध है। अन्य जिलों से कोरोना रोगियों के ऊना शिफ्ट होने के बावजूद अभी भी 39 बिस्तर खाली हैं। कोरोना के संक्रमण को देखते हुए और भविष्य की चुनौतियों की मद्देनजर 250 अतिरिक्त बिस्तर कोरोना संभावितों के लिए तैयार किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि अधिकारी प्राथमिकता के आधार पर इस कार्य को पूर्ण करने के लिए जुटेंगे।

पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन और सिलेंडर

राघव शर्मा ने कहा कि कोटि रोगियों के लिए जिले में ऑक्सीजन और सिलेंडर की कोई कमी नहीं है। स्टॉक पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है। पालकवाह और हरोली में स्वास्थ्य विभाग के पास 92 सिलिंडर हैं, जबकि क्षेत्रीय अस्पताल में 43 ऑक्सीजन सिलिंडर उपलब्ध हैं। इसके अतिरिक्त 50 सिलिंडर जेके गैस कंपनी गंगा के माध्यम से स्वास्थ्य विभाग को मिले हैं। 25 सिलिंडर प्रदेश सरकार ने उपलब्ध करवाए हैं। उन्होंने कहा कि गंगा स्थित उद्योग ने जिला प्रशासन को प्रतिदिन 200 ऑक्सीजन सिलिंडर भरने की आश्वासन दिया है, जबकि जिला में अभी भी 50 ऑक्सीजन सिलिंडर प्रतिदिन ही मांग है। उन्होंने कहा कि जिले में दो-तीन दिन के भीतर सिलिंडर ढूंढ हाउस तैयार कर लिया जाएगा। इसमें 600 ऑक्सीजन सिलेंडर की उपलब्धता होगी।

बैठक में edasi डॉ। अमित कुमार शर्मा, सीएमओ डॉ। रमण कुमार शर्मा, डाॅ। निखिल शर्मा, एसडीएम गौरव चौधरी, अधिशासी अभियंता जल शक्ति विभाग नरेश धीमान सहित विभागों के विभाग उपस्थित थे।





Source link

उना न्यूज ऊना की पाठशाला ऊना न्यूज़ टुडे ऊना समाचार ऊना समाचार हिंदी में

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts

Una News

सामान्य रूप से घूमने और प्रतिबंधित दुकान खोलने पर कार्रवाई होगी:

{“_id”: “609421928ebc3ebd082c3d15”, “स्लग”: “एक्शन-विल-बे-टू-ओपन-बेवजह-दुकानें-और-प्रतिबंधित-दुकानें-ऊना-न्यूज़-sml369549914”, “टाइप”: “कहानी” , “स्थिति”: “प्रकाशित करें”, “title_hn”: ” u0905 u0928 u093e u0935 u0936 u094d

Una News

चिंतपूर्णी विस क्षेत्र के लिए गांधी हेल्पलाइन नंबर जारी

ख़बर सुनना

ख़बर सुनना

जोल (उना)। पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप कुमार ने कहा कि कोरोना के संकट में कांग्रेस जनता के साथ