अपनी बात से पलटा पाकिस्तान: संघर्षविराम के साथ ही तोड़ा समझौता, जवानों को निशाना बनाकर की गोलाबारी

Jammu & Kashmir News


न्यूज डेस्क, अमर उजाला, जे

द्वारा प्रकाशित: प्रशांत कुमार
Updated Mon, 03 मई 2021 10:52 AM IST

सार

पाकिस्तानी सेना ने आंतरिक सीमा पर संघर्षविराम का उल्लंघन किया है। 24 फरवरी को भारत-पाकिस्तान के डीजीएमओ स्तर पर संघर्षविराम समझौता हुआ था। जिसको ताक पर रखते हुए पाकिस्तान ने नापाक हरकत की है।

ख़बर सुनना

पाकिस्तान ने जम्मू संभाग के कठुआ जिले में आंतरिक सीमा (आईबी) पर संघर्षविराम का उल्लंघन किया है। सुबह करीब छह बजे पाकिस्तानी रेंजर्स ने रामगढ़ सेक्टर में बीएसएफ की पेट्रोलिंग पार्टी को निशाना बनाते हुए गोलाबारी की।

बीएसएफ के एक अधिकारी ने पाकिस्तान की इस नापाक हरकत की पुष्टि करते हुए बताया कि युवा सीमा पर पेट्रोलिंग कर रहे थे। इसी दौरान पाकिस्तानी रेंजर्स ने उन्हें निशाना बनाकर गोलाबारी की। हालांकि जवानों को किसी प्रकार का नुकसान नहीं पहुंचा है।

बता दें कि इसी साल 24 फरवरी को भारत-पाकिस्तान के डीजीएमओ स्तर पर संघर्षविराम होने का समझौता हुआ था। इसके बाद से आईबी और एलओसी पर लोगों ने राहत की सांस ली। लेकिन पाकिस्तान ने समझौते को तोड़ते हुए संघर्षविराम का उल्लंघन किया है।

यह भी पढ़ें- दम तोड़ती इंसानियत: तड़पता रहा मरीज, गिड़गिड़ाते रहे परिजन, डॉ। बोले- वेंटीलेटर चलाने वाले आते हैं

कन्विराम (सीजफायर) को युद्धविराम भी कहा जाता है। ये किसी भी युद्ध को स्थाई या अस्थाई तौर पर रोकने का एक जरिया है। इसके तहत दोनों पक्ष सीमा पर किसी भी तरह की आक्रामक कार्रवाई नहीं करने का वादा करते हैं। इसे दोनों देशों के बीच हुआ नुकसान संधि भी माना जा सकता है। हालांकि, सीजफायर के लिए गंभीर संधि जरूरी नहीं है। कई बार दोनों देश आपसी सहमति से भी इसे लेकर फैसला ले लेते हैं। अगर इस समझौते के बाद भी कोई एक पक्ष सीमा पर आक्रमक कार्रवाई करता है तो उसे सीजफायर का उल्लंघन कहा जाता है।

आजादी के बाद वर्ष 1947 में भारत और पाकिस्तान में कश्मीर के लिए युद्ध हुआ। इसे शांत करने के लिए संयुक्त राष्ट्र को बीच में आना पड़ा था। इसके वर्तमान वर्ष 1949 में भारत और पाकिस्तान ने आपसी सहमति से जम्मू-कश्मीर पर एक सीजफायर लाइन स्थापित की। इसके बाद संयुक्त राष्ट्र ने एक पत्र जारी किया जिसमें लिखा था कि ये सीजफायर भारत और पाकिस्तान के बीच दुश्मनी दूर करने का प्रतीक है। इसके बाद दोनों देशों के सैन्य प्रमुखों के बीच बैठक हुई, जिसमें सीजफायर लाइन पर सहमती जताई गई।

विस्तार

पाकिस्तान ने जम्मू संभाग के कठुआ जिले में आंतरिक सीमा (आईबी) पर संघर्षविराम का उल्लंघन किया है। सुबह करीब छह बजे पाकिस्तानी रेंजर्स ने रामगढ़ सेक्टर में बीएसएफ की पेट्रोलिंग पार्टी को निशाना बनाते हुए गोलाबारी की।

बीएसएफ के एक अधिकारी ने पाकिस्तान की इस नापाक हरकत की पुष्टि करते हुए बताया कि युवा सीमा पर पेट्रोलिंग कर रहे थे। इसी दौरान पाकिस्तानी रेंजर्स ने उन्हें निशाना बनाकर गोलाबारी की। हालांकि जवानों को किसी प्रकार का नुकसान नहीं पहुंचा है।

बता दें कि इसी साल 24 फरवरी को भारत-पाकिस्तान के डीजीएमओ स्तर पर संघर्षविराम होने का समझौता हुआ था। इसके बाद से आईबी और एलओसी पर लोगों ने राहत की सांस ली। लेकिन पाकिस्तान ने समझौते को तोड़ते हुए संघर्षविराम का उल्लंघन किया है।

यह भी पढ़ें- दम तोड़ती इंसानियत: तड़पता रहा मरीज, गिड़गिड़ाते रहे परिजन, डॉ। बोले- वेंटीलेटर चलाने वाले आते हैं


आगे पढ़ें

जानिए क्या होता है कन्विविराम





Source link

जम्मू समाचार हिंदी में जम्मू हिंदी समचार नवीनतम जम्मू समाचार हिंदी में पाकिस्तान बीएसएफ संघर्ष विराम

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts

Jammu & Kashmir News

निकट-कश्मीर; सही परीक्षण ने सही जांच की, यह जांच की गई ️️️️️️️️️️

जे, समाधान

द्वारा प्रकाशित: डेटा और
अपडेट किया गया शनि, 15 मई 2021 12:07 AM IST

सर
दिधि सिंह ठाकुर और संजय डॉ. खंडपीठ ने शुक्रवार

Jammu & Kashmir News

सुरक्षा-कश्मिश: डी-बॉक्स में सबसे कठोर से कड़ी सुरक्षा वाली सफाईकर्मी . ️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ है है है है

मंत्र, अमर उजाला, सूक्त

द्वारा प्रकाशित: पुर्णेश कुमार
अपडेट किया गया शनि, 15 मई 2021 11:23 PM IST

सर
कोरोना संक्रमण के मामले में 2.40

Jammu & Kashmir News

विश्वविद्यालय-विश्वविद्यालय के पद के लिए आवेदन करने के लिए

इस्‍लामिक स्वास्थ्य सुविधाएं एंड टेक्नोलॉजी में वैसी स्थितियाँ स्थिति को भरने के लिए 17 मई से ऑनलाइन आवेदन पत्र जैल हैं। आवेदन करने

Jammu & Kashmir News

बंद होने के बाद बंद होने के बाद बंद होने की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए

मंत्र, अमर उजाला, सूक्त

द्वारा प्रकाशित: पुर्णेश कुमार
अपडेट किया गया शनिवार, 15 मई 2021 10:45 PM IST

सर
बचाव के बाद बचाव के लिए.